प्राथमिक शिक्षा कोर्स

Rating:
3
(1)
प्राथमिक शिक्षा कोर्स

चाहे एक डॉक्टर हो, वकील या एक कलाकार, वो शिक्षक ही है जो शुरुआती आधार तैयार करते हैं, जो बौद्धिक विकास को बढ़ावा देता है। हालाँकि, विद्यार्थियों को प्राथमिक स्तर पर संभालना आसान दिखता है, लेकिन इस वक्त ये विद्यार्थी अपने जीवन के सबसे निर्णायक मोड़ पर होते हैं, जहाँ उन्हें सबसे अधिक देखभाल और उनपर ध्यान देने की ज़रुरत होती है। इसलिए, एक बहुप्रशिक्षित शिक्षा शास्त्री की ज़रुरत होती है, जो उनके जीवन को एक सही दिशा दे सके। जिन्हें शिक्षा-विज्ञान में रुचि है और वे प्राथमिक विद्यालय के बच्चों को पढ़ाना चाहते हैं, तो उनके लिए औपचारिक डिग्री के साथ शिक्षण पाठ्यक्रम भी ज़रूरी होता है। प्राथमिक शिक्षा कोर्स देशभर के काफी कॉलेजेस ऑफर करते है और आप प्राथमिक शिक्षक बनने के लिए ये कोर्स १२थ के बाद और बैचलर’स के बाद कर सकते है। इस ब्लॉग में हमने देश के बेस्ट प्राथमिक शिक्षा कोर्सेज , टॉप कॉलेजेस, एडमिशन और बाकी साड़ी डिटेल्स तैयार की है!

प्राथमिक शिक्षा क्या है? (What is Primary Teaching?)

Courtesy: The conversation

प्राथमिक कक्षाओं में छात्रों को पढ़ाना आसान काम नहीं है‌। अगर एक शिक्षक युवा बच्चों को समझने में सक्षम नहीं है तो सीखने की प्रक्रिया और आपसी संवाद रूक जाते है। अच्छे प्राथमिक शिक्षण कोर्स औपचारिक प्रशिक्षण के रूप में कार्य करते हैं, जिनमें प्राथमिक स्तर के छात्रों को पढ़ाने के प्रभावी तरीके शामिल होते हैं, साथ ही बच्चों के मनोविज्ञान को कैसे समझे और उन्हें सिखाने की प्रक्रिया को ज्यादा आकर्षक बनाने के लिए टूल्स और प्रॉप्स का इस्तेमाल करने के बारे में होता है। शोध बताते हैं कि गतिविधि आधारित शिक्षण के परिणाम व्याख्या आधारित शिक्षण से बेहतर होते हैं। बच्चों के साथ संबंध विकसित करना, शिक्षण प्रक्रिया का एक अभिन्न अंग है। ऐसे शिक्षण पाठ्यक्रम सामान्यतः 2 वर्षों के होते हैं, जिसके अंत में आपको प्राथमिक शिक्षण प्रमाण पत्र (PTC) दिया जाता है। सिद्धांत, कंप्यूटर और उसके एप्लीकेशन, प्रैक्टिकल्स, कला और शिल्प, पाठ्यक्रम के मुख्य तत्वों में शामिल हैं।

प्राथमिक शिक्षा की आवश्यकता

प्राथमिक शिक्षा का मुख्य रूप इसलिए महत्वपूर्ण है क्योंकि बाल काल में ऐसी प्राथमिक शिक्षा दी जानी चाहिए जिसकी वजह से बच्चे पर उसका बेहतर असर हो सके। प्राथमिक शिक्षा छात्रों को विभिन्न विषयों की एक बुनियादी समझ के साथ-साथ, कौशल भी प्रदान करती है, जिसे वह अपने जीवन भर उपयोग करेंगे। प्राथमिक शिक्षा आम तौर पर औपचारिक शिक्षा का पहला चरण है, जो पूर्व-विद्यालय के बाद और माध्यमिक शिक्षा से पहले आता है। प्राथमिक शिक्षा आमतौर पर एक प्राथमिक विद्यालय में होती है।

पूर्व प्राथमिक शिक्षा का महत्व

पूर्व प्राथमिक शिक्षा के वैसे तो काफी सारे महत्व है लेकिन इसके मुख्य महत्व बच्चों के बेहतर स्वास्थ्य और खुशहाली को बेहतर बनाए रखना होता है। इसके अलावा बच्चों को एक समूह में रुचिकर और खेल के जरिए बच्चों में अलग प्रकार की दिमाग विकसित होता है। अधिक पठन का अवसर देना जिससे शब्द-भंडार समृद्ध हो। इसके अलावा गणितीय सोच व तार्किक चिंतन विकसित करना, गतिविधियों के जरिए उन्हें निखारना आदि लक्ष्य में शामिल है।

प्राथमिक शिक्षा करने के लिए योग्यता के मानदंड (Requirements for Primary Teaching Course)

प्राथमिक शिक्षण प्रमाणपत्र पाने के लिए आपको प्राथमिक शिक्षण कोर्स में कम से कम 2 साल के लिए हिस्सा लेना पड़ता है। पाठ्यक्रम में प्रवेश पाने के लिए स्नातक की डिग्री का होना आवश्यक है। इसके अतिरिक्त, अत्यधिक प्रतियोगिता और प्राथमिक स्तर पर लगातार कुशल शिक्षकों की मांग होने की वजह से स्नातकोत्तर की डिग्री होने पर बाकी प्रतिभागियों की तुलना में आपको फायदा मिल सकता है। शैक्षणिक नौकरियों में आवेदन करने के लिए पीटीसी (PTC) या बीएड की डिग्री को प्राथमिकता दी जाती है।

प्राथमिक शिक्षा कोर्सेज की सूची (List of Primary Teaching Courses)

प्राथमिक शिक्षण कोर्स को या तो डिग्री के रूप में या एक प्रमाण पत्र कार्यक्रम के रूप में किया जा सकता है. आइ ये कुछ शैक्षणिक पाठ्यक्रमों के बारे में जानते हैं.

बीएड या बैचलर ऑफ़ एजुकेशन (BEd or Bachelor of Education)

बैचलर ऑफ़ एजुकेशन एक 2 वर्षीय डिग्री पाठ्यकर्म है जो व्यक्ति को पढ़ाने के प्रमुख पहलुओं को समझने में पेशेवर तरीके से प्रशिक्षण प्रदान करता है। बच्चों को प्राथमिक स्तर पर कैसे संभाला जाता है, इसके लिए  व्यक्तिगत प्रशिक्षण दिया जाता है। यह छात्रों में संज्ञानात्मक विकास (cognitive development) को प्रोत्साहित करने के लिए पढ़ाने के भिन्न तरीकों को शामिल करता है।

अध्यापन में डिप्लोमा (Diploma in Teaching)

अध्यापन में डिप्लोमा एक प्रमाण पत्र कोर्स है जो आपको अध्यापन के बारे में कम समय में शिक्षित करता है। यह व्यापक कार्यक्रम आपको अध्यापन के बारे में पूरी तरह से अवगत कराता है और कक्षा को इंटरैक्टिव बनाने और  छात्रों की रचनात्मकता को प्रोत्साहित करने के लिए शिक्षकों में ज़रूरी ज्ञान का संचार करता है।

अध्यापन में कुछ डिप्लोमा कोर्सेज इस प्रकार है:

  • BTC (बेसिक ट्रेनिंग सर्टिफिकेट)
  • PTC (प्राइमरी टीचर्स सर्टिफिकेट)
  • ETE (एलेमेंट्री टीचर एजुकेशन)
  • NTT (नर्सरी टीचर ट्रेनिंग)
  • Ded (डिप्लोमा इन एजुकेशन)
  • TTC (टीचर्स ट्रेनिंग सर्टिफिकेट)
  • JBT (जूनियर बेसिक ट्रेनिंग)

प्राथमिक शिक्षा में करियर (Careers in Primary Teaching)

प्राथमिक शिक्षण कोर्स आपको एक बेहतर बनने में मदद करता है। शिक्षा देने के व्यापक तरीकों का इस्तेमाल करने वाले स्कूलों की वजह से शिक्षा के क्षेत्र में व्यापक बदलाव आया है.।तकनीक ने शिक्षा को पूरी तरह से बदलकर रख दिया, पुरानी कक्षाएँ स्मार्ट कक्षाओं में बदल गईं, ब्लैकबोर्ड्स की जगह डिजिटल प्रोजेक्टर्स ने ले ली और नार्मल डायग्राम्स की जगह मोशन ग्राफ़िक ने ले ली है।एक शिक्षक की नौकरी की माँग और बढ़ गई है। आप अपनी रचनात्मक प्रतिभा का इस्तेमाल करते हुए, छात्रों में  रचनात्मकता की प्रक्रिया को बढ़ाने के लिए शिक्षण के नये तरीकों का इस्तेमाल कर सकते हैं। पेशेवर प्रशिक्षित शिक्षकों की बढ़ती माँग की वजह से छात्रों का एक बड़ा हिस्सा निम्नलिखित प्रोफाइल्स पर काम करने के लिए शैक्षणिक कोर्सेज की तरफ रूख कर रहे हैं: 

  • पब्लिक स्कूल में प्राथमिक शिक्षक
  • पब्लिक स्कूल में नर्सरी शिक्षक 
  • कंप्यूटर शिक्षक
  • आर्ट और क्राफ्ट शिक्षक
  • एनजीओ (NGO) में कार्य करने के लिए

आधुनिक काल में शिक्षा शास्त्र का काम अपने छात्रों को व्याख्या देना नहीं है. यह एक इंटरेक्टिव प्रक्रिया हो गया है, जिसमें सह-शिक्षा, स्वस्थ-बहस, सह-पाठ्यचर्या से जुड़ी गतिविधियाँ सीखने की प्रक्रिया का हिस्सा हैं। आधुनिक एजुकेशन टूल्स और तरीकों के इस्तेमाल से पढ़ाने का तरीका पहले से ज्यादा समावेशी (inclusive) और रिजल्ट ओरिएंटेड हो गया है। प्राथमिक शिक्षण कोर्स करने के बाद व्यक्ति युवा विद्यार्थी को दूरदर्शी वयस्क में बदल सकता है। इसी दृष्टिकोण के मद्देनजर, Leverage Edu में हमारे एक्सपर्ट्स शिक्षा के महत्व को समझते हैं और आपको एक आशा जनक करियर बनाने में आपकी मदद कर सकते हैं।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

10,000+ students realised their study abroad dream with us. Take the first step today.

+91
Talk to an expert for FREE

You May Also Like

नीट के बिना Medical Courses
Read More

नीट के बिना Medical Courses

ऐसे भी कई मेडिकल और पैरामेडिकल कोर्स उपलब्ध हैं, जिनमें प्रवेश के लिए NEET की आवश्यकता नहीं होती।…
Software Engineering
Read More

Software Engineering in Hindi

Technology के विकसित होने से mobile, laptops, computer आदि भी अधिक advance हो गए हैं। यह सभी devices…