भारत की महिला उद्यमी जिन्होंने पूरे विश्व में सफलता हासिल की

1 minute read
509 views
10 shares
Leverage Edu Default Blog Cover

भारत की महिला उद्यमी ने देश के साथ-साथ अपनी काबिलियत का सिक्का पूरे विश्व में भी जमाया है। इनकी ओर से शुरू की गई कम्पनीज आज पूरे विश्व में दिखती हैं। भारत की महिलाओं ने आत्मनिर्भर शब्द की सही परिभाषा को गढ़ते हुए यह मुकाम हासिल किया है। यह सच में सब के लिए किसी मोटिवेशन है। आइए, जानते हैं भारत की महिला उद्यमी की सफलता की कहानियों बारे में।

महिला उद्यमी किन्हें कहते हैं?

महिला उद्यमी वे महिलाएं होती हैं जो एक एंटरप्राइज को विशेष रूप से एक बिज़नेस को ऑर्गनाइज़ और मैनेज करती हैं। अमेरिका में 20वीं और 21वीं सदी के दौरान महिला उद्यमिता (entrepreneurship) पूरी दुनिया ने देखी थी। उसके बाद कई भारत की महिला उद्यमी ने पूरे विश्व में अपनी विज़न और प्रोडक्ट से भारत का नाम रोशन किया।

Also Read: मिलिए Kiro Beauty की CEO – वसुंधरा पाटनी से

महिला उद्यमिता की सामान्य विशेषताएं

भारत की महिला उद्यमी के लिए सामान्य विशेषताएं इस प्रकार हैं:

  • कम आय वाली ज्यादा महिलाओं के उद्यमी बनने की संभावना होती है।
  • छोटी सुविधाओं वाली महिलाओं के उद्यमी बनने की संभावना है।
  • ज्यादातर स्पिनस्टर्स को अपना उद्यम शुरू करने के लिए वित्तीय सहायता प्राप्त करने में कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है।
  • कम या बिना शिक्षा और प्रशिक्षण वाली बड़ी संख्या में महिलाएं व्यवसाय के क्षेत्र में प्रवेश करती हैं।
  • कई महिलाएं आर्थिक आवश्यकता के कारण उद्यमी बन जाती हैं।
  • महिलाओं की ईमानदारी और कड़ी मेहनत स्थिरता और विकास का कारण है।
  • महिला उद्यमी ग्रोथ ओरिएंटेड होने के बजाय सुरक्षा उन्मुख हैं।
  • ज्यादातर महिलाएं आय का स्थिरीकरण और जोखिम को कम करना पसंद करती हैं।
  • महिलाओं के व्यावसायिक उद्यमों में कार्यशील पूंजी की कमी होती है, इससे कम लाभ मार्जिन होता है।

टॉप 8 भारत की महिला उद्यमी

भारत में यूं तो न जाने कितने उद्यमी हैं जिन्होंने दुनिया में खूब प्रशंसा हासिल की है। भारत की महिला उद्यमी ने भी भारत का मान दुनिया में बढ़ाया है। इन महिला उद्यमी ने अपने बिज़नेस को कम समय में ही बुलंदियों पर ला दिया है। आइए पढ़ते हैं, भारत की उन महिला उद्यमी के बारे में डिटेल से। 

फाल्गुनी नायर (Nykaa)

भारत की महिला उद्यमी
Courtesy: BW Businessworld

IIM-A की एलुमनाई और Kotak Mahindra Capital Company की पूर्व-MD फाल्गुनी नायर ने अपने बिज़नेस Nykaa से दुनिया में मुकाम हासिल किया है। Bloomberg Billionaires Index की November 2021 की रिपोर्ट के अनुसार Nykaa का मार्किट कैप INR 1 लाख करोड़ के पार पहुंच गया है। करीब 80 फीसदी प्रीमियम पर Nykaa की 2,018 रुपये पर लिस्टिंग हुई, जो अपने आप में एक रिकॉर्ड है। लिस्टिंग के बाद शेयर्स ने INR 2,248 के लेवल को पाया और अंत में INR 2,208 पर बंद हुआ था। IPO से मिले पैसों को Nykaa देश में और स्टोर खोलने पर खर्च करेगी।

2012 में फाल्गुनी नायर ने Nykaa को स्थापित किया था। आज 1,600 से अधिक लोग Nykaa में काम करते हैं। भारत में अपने प्राइवेट लेवल सहित 1,500 से ज्यादा ब्रांड्स के पोर्टफोलियो के साथ Nykaa सबसे बड़े ब्यूटी रिटेलर के रूप में उभरा है।

वंदना लूथरा (VLCC)

भारत की महिला उद्यमी
Courtesy: Dropout Dudes

भारत की महिला उद्यमी वंदना लूथरा ने 1989 में नई दिल्ली में एक ब्यूटी और स्वास्थ्य सेवा केंद्र के रूप में VLCC की शुरुआत थी। शुरुआत में VLCC डाइटरी मॉडिफिकेशन और एक्सरसाइज रेजिमेन-आधारित वेट मैनेजमेंट प्रोग्राम्स पर केंद्रित था। VLCC एशिया, अफ्रीका और GCC (गल्फ़ कोपरेशन काउंसिल) में 11 देशों में अपना एम्पायर एक्सपैंड कर चुकी है। VLCC अपने वेट लॉस प्रोग्राम और ब्यूटी ट्रीटमेंट्स के लिए दुनिया भर में लोकप्रिय है। Owler.com की ताज़ा रिपोर्ट के मुताबिक VLCC में 3,000 से अधिक कर्मचारी हैं। 2013 में वंदना लूथरा को पद्म श्री से सम्मानित किया गया था और 2015 में Fortune India द्वारा भारत में व्यापार में 33 वीं सबसे शक्तिशाली महिला के रूप में लिस्ट किया गया था।

सूची मुख़र्जी (Limeroad)

भारत की महिला उद्यमी
Source – India Today

सूची मुख़र्जी ने 2012 में मनीष सक्सेना, अंकुश मेहरा, और प्रशांत मालिक के साथ Limeroad शुरू की थी। Limeroad महिलाओं की पहली सोशल शॉपिंग वेबसाइट है, जो कपड़ों और महिलाओं, पुरुषों और बच्चों से संबंधित सामानों की एक वाइड रेंज प्रदान करती है।

Limeroad ने Lightspeed ventures partners, Matrix Partners और Tiger Global से $20 मिलियन (INR 150 करोड़) का फंड जुटाया है। Limeroad में NIFT-design geeks के लिए 200+ IIT-टेकीज़ की एक मजबूत टीम है। इसमें अब तक users द्वारा 1.5 मिलियन (INR 15 लाख) स्क्रैपबुक पोस्ट किए गए हैं, और प्रति दिन 1 लाख स्क्रैपबुक बनाए गए हैं। उनके ग्रॉस मर्चैंडाइज वैल्यू (GMV) भी लॉन्च के बाद से बड़े पैमाने पर 600% बढ़ गए हैं।

ऋचा कर (Zivame)

भारत की महिला उद्यमी
Credits : Pinterest

ऋचा कर ऑनलाइन वीमेन क्लोथिंग स्टोर Zivame की फाउंडर हैं। 2011 में ऋचा ने Zivame की शुरुआत अपनी सारी सेविंग्स और INR 35 लाख माता-पिता और दोस्तों से उधार लेकर शुरू की थी। Zivame में 200 से ज्यादा लोग काम करते हैं और Zivame में 50 से ज्यादा क्लोथिंग ब्रांड्स उपलब्ध हैं। Zivame पूरे भारत में अपनी सेवाएं प्रदान करता है। Zivame की कुल संपत्ति $13.59 मिलियन (INR 100 करोड़) है।

वाणी कोला (Kalaari Capital)

भारत की महिला उद्यमी
Credits : Pinterest

वाणी कोला ने जनवरी 2011 में Kalaari Capital की स्थापना की थी। Kalaari India में टेक्नोलॉजी से संबंधित कंपनियों में निवेश करने वाली एक वेंचर कंपनी है। Kalaari Capital IT, मोबाइल, हैल्थकेयर, सॉफ्टवेयर प्रोडक्ट्स और सेवाओं, ई-कॉमर्स, मीडिया और क्लीन टेक्नोलॉजी सेक्टर्स में कंपनियों में निवेश करने पर केंद्रित है।

प्रांशु पाटनी (Hello English)

भारत की महिला उद्यमी
Source – Indian Women Blog

प्रांशु पाटनी ने अक्टूबर 2014 में लोगों को इंग्लिश भाषा सिखाने के लिए एक ऐप लांच किया था, जिसका नाम था Hello English। भारत से 8 महीनों में ही इस एंड्राइड ऐप पर 3 मिलियन (30 लाख) से ऊपर इंस्टालेशन आ गए। प्रांशु पाटनी ने इसके कुछ समय बाद Tiger Global और Kae Capital से $6 मिलियन (INR 45 करोड़) भी जुटाए थे।

उपासना टाकू (MobiKwik)

भारत की महिला उद्यमी
Source – The Economic Times

उपासना टाकू और उनके पति बिपिन प्रीत सिंह ने 2009 में MobiKwik की शुरुआत की थी। उपासना अपनी कंपनी शुरू करने से पहले HSBC और PayPal जैसे बड़े फर्म्स में काम कर चुकी हैं। MobiKwik का फिलहाल यूनिकॉर्न वैल्यूएशन है और 2022 तक इनका वैल्यूएशन का टारगेट $1.5 – $1.7 बिलियन (INR 11,250-12,750 करोड़) तक का है।

शायरी चहल

भारत की महिला उद्यमी
Source – People Matters

शायरी चहल एक सफल भारत की महिला उद्यमी है। इनकी SHEROES नाम की एक कंपनी है जो महिलाओं के लिए दुनिया का सबसे बड़ा ऑनलाइन इकोसिस्टम है, जिसे 2014 में स्थापित किया गया था। SHEROES से फैशन, डेली लाइफ संबंधित चीज़ें खरीदी जा सकती हैं। शायरी चहल फ़िलहाल Paytm Payments Bank और Milaan Foundation की बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स की टीम में हैं। शायरी ने JNU से M Phil किया है और IMT गाजियाबाद से PGDM भी किया है। Owler.com के अनुसार SHEROS का सालाना रेवेन्यू USD 2 मिलियन (INR 15 करोड़) है।

FAQs

भारत की पहली महिला उद्यमी कौन थीं?

कल्पना सरोज भारत की पहली महिला उद्यमी है। Kalpana Kamani Tubes की चेयरपर्सन हैं।

कुछ महिला उद्यमियों के नाम बताएं?

आज हमारे देश में कई ऐसी महिला उद्यमी है जो आज अपनी काबिलियत से ऊंचाईयों को छूआ है – जैसे इंदिरा नूयी, इंदु जैन, किरण मजूमदार-शॉ, चंदा कोचर, नीलम धवन, रितु कुमार आदि।

महिला उद्यमिता क्या है?

महिला उद्यमिता को किसी भी देश की आर्थिक प्रगति का एक महत्वपूर्ण साधन माना जाता है। महिला उद्यमी न केवल खुद को आत्मनिर्भर बनाती हैं, बल्कि दूसरों के लिए भी रोजगार के अवसर बढ़ाती है। 

Also Read: Priyanka Gill Founder of Popxo in Hindi

सपने देखकर उन्हें हासिल करना ही सफल उद्यमियों की निशानी होती है। आशा करते हैं कि इस ब्लॉग से आपको भारत की महिला उद्यमी के बारे में जानकारी मिली होगी। यदि आप विदेश में आन्ट्रप्रनर्शिप से संबंधित कोर्स करना चाहते हैं तो हमारे Leverage Edu के एक्सपर्ट्स से 1800 572 000 पर कॉल कर आज ही 30 मिनट्स का फ्री सेशन बुक करें।

Leave a Reply

Required fields are marked *

*

*

15,000+ students realised their study abroad dream with us. Take the first step today.
Talk to an expert