फ्रांसीसी विदेश मंत्री: 2025 तक हमारा लक्ष्य फ्रांस में 20,000 भारतीय छात्रों को लाना

1 minute read
38 views
फ्रांस का लक्ष्य होगा 20 हजार भारतीय छात्रों अपने यहां पढ़ाने का
Courtesy: @MinColonna (Twitter)

14 सितंबर 2022 को फ्रांस की विदेश मंत्री कैथरीन कोलोना ने कहा कि फ्रांस का लक्ष्य 2025 तक 20,000 भारतीय छात्रों को अपने यहां पढ़ाई के लिए लाना है। उन्होंने कहा कि इस उद्देश्य को प्राप्त करने के लिए, हमें हर साल 7,500 से 8,000 छात्रों को आकर्षित करना चाहिए, और इसलिए वास्तविक संख्या में 50% की वृद्धि करनी चाहिए। इस दिशा की ओर काम करना काफी महत्वाकांक्षी है। कोलोना ने यह घोषणा दिल्ली यूनिवर्सिटी के लेडी श्री राम कॉलेज के छात्रों के साथ बातचीत में की।

कोलोना ने आगे बताया कि हम फ्रांस जाने वाले भारतीय छात्रों की संख्या में महामारी से कारण हुई गिरावट से अब उबर चुके हैं।

कोलोना ने आगे कहा कि फ्रांस 2022 में उतने ही भारतीय छात्रों का स्वागत करेगा जितने 2019 में वहां गए थे। 2019 में 5,000 से अधिक छात्रों ने फ्रांस में लॉन्ग टर्म स्टडीज के लिए अपनी प्रक्रिया पूरी की थी।

इसके अलावा, कोलोना ने छात्रों के लिए फ्रांस के वित्तीय सहायता एफर्ट्स की सराहना की, जिससे कई भारतीयों को भी लाभ हुआ है। इस वर्ष फ्रांस की छात्रवृत्ति के माध्यम से 500 भारतीय छात्रों को €1.6 मिलियन की राशि का लाभ हुआ है। यह छात्रवृत्तियां निजी कंपनियों द्वारा फ्रेंच इंडियन एजुकेशन ट्रस्ट के माध्यम से प्रायोजित की गई थीं।

छात्रों के साथ कोलोना ने बातचीत के दौरान न केवल शिक्षा में, बल्कि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भी लैंगिक समानता (gender equality) की आवश्यकता पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि मेरा मानना ​​​​है कि हम (पुरुष और महिला) कम्प्लीमेंटरी हैं। अगर प्रमुख पदों पर और महिलाएं होंगी तो दुनिया बेहतर संतुलन से चलेगी।

2023 में भारत-फ्रांस रणनीतिक संबंधों की 25वीं वर्षगांठ से पहले, कोलोना ने दोनों देशों के बीच मजबूत द्विपक्षीय संबंधों को रेखांकित किया। उन्होंने कहा कि हमारे देश (फ्रांस और भारत) एक समान मूल्य साझा करते हैं। इन में लोकतंत्र और कानून के शासन के साथ साथ दुनिया से 

जैसे कि लोकतंत्र, कानून का शासन, आदि। इसके साथ दुनिया से हमारा संबंध, चाहे वह कला, गैस्ट्रोनॉमी सहित कला में सुंदरता और इतिहास के लिए हमारी रुचि या भविष्य की दृष्टि हो।

फ़िलहाल कोलोना भारत की 3 दिवसीय यात्रा पर हैं, जो मंत्री के रूप में उनकी पहली यात्रा है। कोलोना के साथ-साथ इस प्रोग्राम में भारत में फ्रांस के राजदूत इमैनुएल लेनैन भी मौजूद थे।

Leave a Reply

Required fields are marked *

*

*