घर बैठे पढ़ाई कैसे करें?

1 minute read
129 views
Leverage Edu Default Blog Cover

वर्तमान समय में किसी छात्र के लिए सबसे कठिन काम कुछ है, तो वह है पढ़ना। कोरोना की महामारी ने स्कूल कॉलेज तो बंद करवा ही दिए साथ ही बच्चों को मोबाइल की डोर थमाकर पढ़ाई से भी दूर कर दिया। घर बैठे पढ़ाई करना सबसे चुनौतीपूर्ण कार्यों में से एक है। विद्यार्थी कुछ युक्तियों की तलाश में रहते हैं जो उन्हें घर पर पढ़ने के प्रति प्रेरित करे। यदि आप भी जानना चाहते हैं कि घर बैठे पढ़ाई कैसे करें तो यह ब्लॉग पूरा जरुर पढ़ें।

घर बैठे पढ़ने के 10 तरीके

घर पर अध्ययन करना आपकी शिक्षा और आपके दिमाग के विकास के लिए अत्यन्त आवश्यक है। हमारा घर हमारे लिए एक आरामदायक, कम दबाव वाला वातावरण है। लेकिन ऐसे कुछ कारण भी होते हैं जिनकी वजह से घर पर पढ़ाई करना मुश्किल हो सकता है। जैसे कि फोन, सोशल मीडिया, अनावश्यक दोस्त आदि। टीवी देखना, झपकी लेना, सोशल मीडिया पर स्क्रॉल करना, या अन्य गतिविधियाँ ऐसे कई कारण हैं, जो आपको घर पर पढ़ने से रोक सकते हैं। छात्रों के मन में अकसर यह सवाल होता है कि सही तरीके से घर बैठे पढ़ाई कैसे करें? दृढ़ निश्चय और कुछ तरीकों के साथ आप घर बैठें पढ़ाई कर सकते हैं। घर बैठे पढ़ाई कैसे करें, इसके जवाब में ध्यान केंद्रित रखने और अधिक समय तक पढ़ाई करने में आपकी मदद करने के लिए यहां कुछ तरीके दिए गए हैं-

सक्रिय रहकर पढ़ने का प्रयास करें

सक्रिय अध्ययन उतना ही सरल है जितना कि अध्ययन के समय से पहले, अध्ययन के दौरान और बाद में प्रश्न पूछना। यह न केवल आपकी पढ़ाई को दिशा देने में मदद करता है, बल्कि यह आपको ट्रैक पर रखने और अपने अगले स्टडी सेशन के लिए सुधार करने के तरीके पर विचार करने में भी मदद करता है। घर पर पढ़ाई के लिए बैठने से पहले खुद से पूछिए कि मैं क्या सीखने वाला हूँ? मुझे इस विषय के बारे में पहले से क्या पता है? 

पढ़ाई करते समय खुद से पूछिए कि क्या मैंने अभी जो पढ़ा है उसे समझ रहा हूँ? क्या मैं इसकी व्याख्या कर सकता हूँ? क्या कोई महत्वपूर्ण शब्द या विचार हैं जिन्हें मुझे लिखने की आवश्यकता है? ये शब्द और विचार क्यों महत्वपूर्ण हैं? अंत में पढ़ाई के बाद खुद से पूछिए कि मैंने अभी क्या सीखा? मुझे अगली बार क्या सीखने की ज़रूरत है? इस तरह खुद से ही प्रश्न पूछ कर आप एक सक्रिय दृष्टिकोण अर्जित कर सकते हैं।

टाइमटेबल बनाएं

एक टाइमटेबल बनाना आपके समय को व्यवस्थित करने में मदद करता है, आपके ब्रेक को शेड्यूल करता है और विशेष रूप से तब उपयोगी होता है जब आपके पास अध्ययन करने के लिए कई विषय हों। अपना शेड्यूल या टाइमटेबल लिखकर तैयार रखें ताकि आप इसे याद रख सकें और इसे अक्सर देख सकें। आप प्रत्येक दिन अध्ययन में कितना समय व्यतीत करते हैं, इसके लिए उचित सीमाएँ निर्धारित करें और अपने स्टडी सेशन को विषय के आधार पर विभिन्न विषयों में विभाजित करें।

टाइमर का उपयोग करें

समय का ट्रैक रखने में मदद करने के लिए टाइमर का उपयोग करें और इससे यह सुनिश्चित करें कि आपके द्वारा बनाया गया टाइमटेबल व्यवस्थित रूप से चल रहा है। टाइमर सेट करने से आपको काम पर ध्यान केंद्रित करने में मदद मिलती है। टाइमर बंद होने तक काम करने के लिए खुद पर ज़ोर दें। यह आपको आवश्यक सभी टॉपिक्स को कवर करने के लिए ट्रैक पर रखने में मदद करता है। 

ऑनलाइन लर्निंग ऐप्स की सहायता लें

वैसे तो आज कलसभी मोबाइल फोन का उपयोग केवल मनोरंजन के लिए करते हैं, लेकिन इसे आप अपनी ताकत बना सकते हैं। मोबाइल फोन के जरिए आप कई सारी ऑनलाइन लर्निंग ऐप्स का उपयोग अपनी शिक्षा के लिए कर सकते हैं, जैसे कि अनएकेडमी, बायजूस आदि। यदि आप घर बैठे ही अंग्रेज़ी सीखना चाहते हैं, तो इसके लिए एक प्रभावी जगह है, Leverage Live, जहां आज ही रजिस्टर करके आप इनकी कक्षाओं में शामिल हो सकते हैं। अंग्रेजी सीखने का यह सबसे अच्छा तरीका है। 

अध्ययन क्षेत्र निर्धारित करें

चाहे वह किचन टेबल हो या आपके बेडरूम में डेस्क, अध्ययन के लिए एक ऐसा क्षेत्र निर्धारित करें, जो एक अच्छा अध्ययन क्षेत्र हो। सबसे महत्वपूर्ण बात, अपने अध्ययन स्थान को साफ और व्यवस्थित रखें ताकि आप अध्ययन में अधिक समय लगा सकें और आपकी जरूरत की सभी सामग्री वहां उपस्थित हो, जिससे की आपको व्यर्थ में समय न गंवाना पड़े।

सही समय पर अध्ययन करें

प्रत्येक छात्र का अपना दैनिक उतार-चढ़ाव होता है। कुछ लोग रात के उल्लू होते हैं जबकि कुछ लोग सुबह को पसंद करते हैं। उस दिन का लाभ उठाएं जब आप सबसे अधिक उत्साही महसूस करते हैं और जब आपकी दिमागी शक्ति अपने चरम पर न हो या आपको पढ़ने की इच्छा न के बराबर हो तो खुद को अध्ययन के लिए मजबूर करने की कोशिश न करें। जब आप सबसे अधिक सतर्क हों तब अध्ययन करने का प्रयास करें, ताकि आप जो जानकारी पढ़ रहे हैं उसे आगे भी याद रख सकें।

रात को अच्छी नींद लें

सभी उम्र के छात्रों को हर रात कम से कम आठ घंटे की नींद लेनी चाहिए। यदि आप प्रतिदिन पढ़ रहे हैं, तो यह भी जरूरी है कि निश्चित समय के लिए आपका मस्तिष्क शांत रहे। रटने के लिए देर तक जागना आकर्षक हो सकता है, लेकिन पर्याप्त आराम करना अधिक फायदेमंद है। अतः अच्छी और पूरी नींद लेने का प्रयास करें।  एक अच्छी रात की नींद आपको अधिक सतर्क बनाती है और आपकी याददाश्त में भी सुधार करती है।

सेहत का ध्यान रखें

खाना मत भूलना! घर बैठे अच्छी पढ़ाई के लिए आपके शरीर और आपके मस्तिष्क को ईंधन देने की आवश्यकता होती है। साथ ही, जब आपको भूख लगी हो तो ध्यान केंद्रित करना मुश्किल होता है। पढ़ते समय स्वस्थ नाश्ता करें, लेकिन सुनिश्चित करें कि वे पहले से तैयार हैं ताकि आप अपने काम से ज्यादा समय न बिताएं। समय का सदुपयोग करके अपने सेहत का ध्यान रखना भी आवश्यक है।

डिस्ट्रेक्शन से दूर होने का प्रयास करें

काफ़ी लोग पूछते हैं कि डिस्ट्रैक्शन से दूर होकर घर बैठे पढ़ाई कैसे करें? जब प्रभावी ढंग से अध्ययन करने की बात आती है, तो आपके आस-पास ऐसी कई चीजें हैं, जो आपको पढ़ाई से रोक सकती हैं और आपका ध्यान भटका सकती हैं। यदि आप ऐसे व्यक्ति हैं जो आसानी से सोशल मीडिया से विचलित हो जाते हैं या अपने दोस्तों को मैसेज कर रहे हैं तो अपने फोन से थोड़ी दूरी बना लीजिए। जब फ़ोन की बात आती है, तो फ़ोन बंद करना या इसे अपनी नजरों से दूर रख देना आदि इसे आपकी पढ़ाई के रास्ते में आने से रोकने के लिए एक प्रभावी और पर्याप्त तरीका है। 

बिस्तर पर पढ़ाई न करें

अपने बिस्तर में आराम से अध्ययन करना एक अच्छा विचार लग सकता है, लेकिन यह आमतौर पर अध्ययन का एक अच्छा तरीका नहीं है। बिस्तर पर अध्ययन करने से आप अपने अध्ययन और सोने की आदतों दोनों को प्रभावित करने का जोखिम उठाते हैं। रात में बिस्तर पर लेट कर पढ़ने से वह आराम नहीं मिलेगा जो आपके शरीर को दिन भर की मेहनत के बाद चाहिए। पढ़ाई और बिस्तर को एक दूसरे से दूर रखें, तब ही आप घर पर सही तरीके से पढ़ने की आदत डाल सकते हैं।

FAQs

1 दिन में कितने घंटे पढ़ना चाहिए?

एक छात्र को औसतन 7–8 घंटे पढ़ाई करनी चाहिए पर शरीर के साथ साथ मन और बुध्दि भी पढाई में शामिल होने चाहिए। 

घर बैठे पढ़ाई कैसे करें?

सक्रिय रहकर पढ़ने का प्रयास करें, टाइमटेबल बनाएं, टाइमर का उपयोग करें, ऑनलाइन लर्निंग ऐप्स की सहायता लें, अध्ययन क्षेत्र निर्धारित करें, सही समय पर अध्ययन करें, अपनी नींद पूरी करें, सेहत का ध्यान रखें,  डिस्ट्रेक्शन से दूर होने का प्रयास करें, बिस्तर पर पढ़ाई न करें।

सुबह कितने बजे उठकर पढ़ना चाहिए?

आपको रात में 10 बजे तक जागना चाहिए ताकि सुबह 4 बजे जाग कर पढ़ाई कर सकें। यदि आप देर रात तक जागते हैं तो आपको सुबह जागने में बहुत दिक्कत होगी और उठ भी गए तो आपका दिमाग पढ़ाई के लिए तैयार नहीं होगा। यदि आप प्रातः काल तीन से चार घंटे ही पढ़ लेते हैं, तो वह दिन में की गई पढ़ाई से दुगना परिणाम देती है।

घर में ऑनलाइन कैसे पढ़ें?

ऑनलाइन टाइम टेबल से पढ़ाई करें। पिछले प्रश्न पत्रों से पढ़ाई करें। यूट्यूब वीडियोज़ से पढ़ाई करें। फेसबुक ग्रुप में से पढ़ाई करें। इस प्रकार आप घर में ऑनलाइन पढ़ाई कर सकते हैं।

वर्तमान में और लॉकडाउन के दौरान छात्रों के लिए अध्ययन करना एक बहुत ही अलग अनुभव था। काफ़ी विद्यार्थी इसी सोच में परेशान रहते हैं कि घर बैठे पढ़ाई कैसे करें, कैसे खुद को पढ़ने के लिए तैयार करें। हर किसी की अलग-अलग क्षमताएं, ताकत, कमजोरियां और डिस्ट्रैक्शन होते हैं। अतः यह आप पर निर्भर करता है कि आप घर पर ही प्रभावी तरीकों से कैसे पढ़ सकते हैं। ऐसे ही अन्य ब्लॉग्स पढ़ने के लिए Leverage Edu के साथ बने रहें। यदि आप विदेश में पढ़ना चाहते हैं, तो भी आप 1800 572 000 पर कॉल करके एक्सपर्ट्स से संपर्क कर सकते हैं।

Leave a Reply

Required fields are marked *

*

*

15,000+ students realised their study abroad dream with us. Take the first step today.
Talk to an expert