करियर पर निबंध

1 minute read
116 views
Leverage Edu Default Blog Cover

विद्यार्थी जीवन में उनकी शिक्षा में एक अभिन्न अंग निबंध होता है, इन निबंधों के माध्यम से ही विद्यार्थी जीवन के कुछ महत्त्वपूर्ण पहलुओं के बारे में जान पाते हैं। चाहे विज्ञान का चमत्कार हो या फिर कम्प्यूटर की खोज ऐसे कई विषय हैं, जिन पर निबंध लिखकर छात्र जीवन से रूबरू हो पाते हैं। ऐसा ही एक महत्त्वपूर्ण विषय है, करियर पर निबंध। हमने इस ब्लॉग में करियर निर्माण पर जोर देते हुए, करियर पर निबंध तैयार किया है।

करियर पर निबंध (200 शब्द)

नीचे 200 शब्दों में करियर पर निबंध दिया गया है-

एक युवा के मन में अपनी शिक्षा के बाद या अपनी शिक्षा के दौरान भविष्य से संबन्धित कोई ख्याल होता है, तो वह है करियर। कोई इंजीनियर बनना चाहता, तो कोई डॉक्टर, कोई वकील, कोई गायक, हर किसी की अपनी रूचि है।  परिवार के सदस्यों को अपने बच्चो को अच्छे से समझना चाहिए। उन्हें यह जानना चाहिए कि उनके बच्चे किस क्षेत्र में अपना भविष्य बनाना चाहते है। अच्छा और व्यवस्थित करियर व्यक्ति को चैन की ज़िन्दगी देता है।  ऐसा व्यक्ति अपने परिजनों को भी सुखी रखता है। करियर चुनने के लिए कुछ विशेष बिंदुओं पर ध्यान देने की आवश्यकता है। करियर चुनते समय आपको कुछ बातों का आकलन करना चाहिए।  आप जिस भी करियर के उत्सुक हैं, उसके लिए आपकी कौशल और क्षमताएं क्या है |

आपके पास जिस प्रकार के मौके है उन सबकी एक लिस्ट बना ले। करियर को बेहतर रूप देने के लिए अच्छे और उचित प्रशिक्षण लेना चाहिए। अच्छी ट्रेनिंग और कोचिंग की ज़रूरत होती है ताकि अच्छे कॉलेज में दाखिला हो।  अच्छे से पढ़ाई करने और परीक्षा में अच्छे अंक लाने से अच्छा करियर बनाने की संभावनाएं और अधिक बढ़ जाती है। जो अच्छे और उचित लोग है, उनसे संपर्क रखे। इससे करियर का चयन करने में मदद मिलती है। इंटरनेट में आजकल करियर के अनगिनत अवसर है।  इन अवसरों में से है व्यक्ति किस में अच्छा प्रदर्शन कर पायेगा, यह सोच कर उसे निर्णय लेना चाहिए। अंत में यही कि करियर चुनते वक्त बड़ी ही सावधानी और समझ के साथ फैसला लेना चाहिए और तब तक मेहनत करनी चाहिए जब तक कि हमारा लक्ष्य हमारा करियर हमें प्राप्त न हो जाए।

करियर पर निबंध (300 शब्द)

नीचे 300 शब्दों में करियर पर निबंध दिया गया है –

प्रस्तावना

जीवन में हर इंसान अपने करियर में सफलता प्राप्त करना चाहता है। करियर का अर्थ है आजीविका का जरिया, जिसके अनुसार व्यक्ति अपना और अपने परिवार का पेट भरता है और उन्हें दैनिक सुख सुविधाओं का साधन प्रदान करता है। जिसका करियर सही दिशा में नहीं जाता है, उसका भविष्य का भी कोई ठिकाना नहीं होता। सीधे शब्दों में समझा जाए तो हमारा करियर ही हमारा भविष्य है। अपने सुनहरे भविष्य को आकार देने के लिए सही करियर का चुनाव करना अत्यंत ज़रूरी होता है। यदि आप सही करियर का चुनाव करना चाहते हैं, तो आपको यह खुद से पूछना चाहिए कि आपकी रुचि क्या है, और किस क्षेत्र में आप अपने करियर को आयाम देना चाहते हैं।

कैसे चुनें सही करियर

सभी चाहते है कि उनका एक अच्छा और निश्चित करियर हो ताकि उनका परिवार एक सुकून भरी जिन्दगी जी सके। आज कल के ज़िन्दगी की सबसे बड़ी चुनौती है, अच्छा करियर बनाना है। विद्यार्थी को अपने दसवीं और बारहवीं कक्षा के बाद से ही अपने आने वाले करियर  को गंभीरता से लेना चाहिए। यहां तक कि अपनी 11वीं का मुख्य विषय चुनते समय भी ध्यान रखना चाहिए। यदि आप विज्ञान सम्बन्धी क्षेत्र में आगे बढ़ना चाहते हैं, तो आप विज्ञान को मुख्य विषय के रुप में चुनें। इसी तरह यदि बिजनेस या एग्रीकल्चर के क्षेत्र में करियर बनाना चाहते हैं, तो क्रमशः कॉमर्स या एग्रीकल्चर को मुख्य विषय के रूप में चुनें। अगर करियर चुनने में हमने गलती की तो आगे चलकर हम जीवन में सफल नहीं हो पाते है। जो व्यक्ति अपने लक्ष्य को प्राप्त करने में कड़ी मेहनत करता है, वह सही माईनो में एक अच्छा करियर बना सकता है।

आज बहुत सारे विषय और क्षेत्र है जहां युवा वर्ग अपने अच्छा करियर बना सकते है। अगर करियर अच्छा ना बना तो व्यक्ति को जीवन में कई कठिनाईयों का सामना करना पड़ता है। आजकल ऑनलाइन अच्छे कोर्स है जहां लोग डिप्लोमा इत्यादि करके अच्छे जगह में कार्य करते है। जहां  व्यक्ति को नौकरी मिलती है, वहाँ व्यक्ति को कार्य में संतोष मिलना भी ज़रूरी होता है। ऐसा करियर हर इंसान को चुनना चाहिए जिसमे उनकी रूचि हो।

निष्कर्ष

कोई भी करियर का चयन करने से पहले अक्सर विद्यार्थी अपने परिवार वालो की राय लेते है। आजकल इंटरनेट पर विभिन्न करियर विकल्प उपलब्ध है। अपने से बड़ो का मशवरा लेना बेहतर है क्योंकि वह हमसे ज़्यादा अनुभवी है। करियर का चुनाव सोच समझकर करना ज़रूरी है क्यूंकि इस पर हमारा पूरा भविष्य टिका रहता है। अतः अत्यंत विचार विमर्श करके ही आपको अपने करियर का चुनाव करना चाहिए और उस करियर को ही अपना लक्ष्य बनाकर चलना चाहिए। अतः आपको एक बेहतर करियर की तलाश है, तो उसी प्रकार आपको निरंतर मेहनत भी करनी चाहिए।

विद्यार्थी अपने काबलियत के मुताबिक़ करियर चुनते है।  कभी कभार परिवार के दबाव में आकर ना चाहते हुए कुछ लोग अपना करीयर चुनते है।  जिसकी वजह से उन्हें बाद में पछताना पड़ता है।अपना करियर हमे खुद चुनना चाहिए।  हमे  करियर काउंसलिंग के पास जाकर सभी करियर संबंधित जानकारी लेनी चाहिए ताकि हम ठीक से  सभी दिशाओ को समझ सके।  जिस करियर में रूचि और इच्छा हो , उसे अपनाना चाहिए ताकि सफलता और संतोष दोनों प्राप्त हो। करियर अच्छा होगा तो गरीबी और आर्थिक  अभाव जैसी परेशानियां भी दूर हो जाती है।

करियर पर निबंध (400 शब्द)

 नीचे 400 शब्दों में करियर पर निबंध दिया गया है –

प्रस्तावना

आपके द्वारा चुना गया कैरियर पथ आपके जीवन के विभिन्न अन्य पहलुओं पर एक बड़ा प्रभाव डालता है। यह समाज में आपकी स्थिति, आपकी जीवन शैली, आपके सामाजिक दायरे और यहां तक ​​कि आपके रिश्तेदारों के साथ आपके संबंधों को निर्धारित करता है। ऐसे में अपने करियर को समझदारी से चुनना महत्वपूर्ण है।

करियर क्या है?

करियर का अर्थ है आजीविका का जरिया, जिसके अनुसार व्यक्ति अपना और अपने परिवार का पेट भरता है और उन्हें दैनिक सुख सुविधाओं का साधन प्रदान करता है। आपका करियर ही आपके भविष्य को इंगित करता है। यदि आप एक सही माइंड सेट नहीं रखते तो आप भविष्य में दर दर की ठोकरें ही खाते रहेंगे। भविष्य अगर उज्ज्वल चाहिए तो करियर की उज्जवलता के लिए आज से ही प्रयास शुरू करें।

एक करियर का चयन करते समय विचार करने के लिए कारक

करियर का चुनाव करते समय कई कारक हैं जिन पर आपको ध्यान देना चाहिए। जैसे-

  • रुचि का महत्व : करियर का चुनाव करते समय आपको सबसे पहले खुद का आकलन करना चाहिए। समझें कि आपकी रुचि कहाँ है। हालांकि, केवल एक विशेष क्षेत्र में रुचि रखने से मदद नहीं मिलती है। इसके अतिरिक्त आपको यह भी देखना होगा कि क्या आप उस विशेष पेशे के लिए उपयुक्त हैं। अपनी रूचि को प्राथमिकता दीजिए, क्योंकि ऐसे उत्साहहीन करियर का भी कोई महत्व नहीं है जिसमें आपकी रुचि ही न हो।
  • उपलब्ध अवसरों के लिए देखें: आपकी शैक्षणिक योग्यता और अनुभव से मेल खाते कई तरह के व्यवसाय हो सकते हैं। इन सभी व्यवसायों की सूची बनाना एक अच्छा विचार है। एक करियर का चुनाव करते समय आपको अपने सीनियर्स के साथ-साथ उन लोगों से भी सलाह लेनी चाहिए, जो पहले से ही उस पेशे में हैं, जिसे आप पाने की योजना बना रहे हैं। ऐसे कार्यों के लिए इंटरनेट एक वरदान है। अंतिम निर्णय लेने से पहले इंटरनेट से उसी के बारे में जानकारी इकट्ठा करें।
  • एक अच्छा रिज्यूमे लिखें : एक बार जब आप स्पष्ट हो जाते हैं कि आप किस कैरियर पथ पर चलना चाहते हैं, तो अपनी उपलब्धियों और विशेषताओं का वर्णन करने वाला रेज्यूमे आपके पास होना चाहिए। आपका रिज्यूमे आपकी पसंद की नौकरी लाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। इस प्रकार, आपको एक अच्छा रिज्यूमे तैयार करना चाहिए।
  • कौशल हासिल करें : कई बार, आपकी शैक्षणिक योग्यता आपकी पसंद के करियर की तलाश के लिए पर्याप्त नहीं हो सकती है। आपको कुछ अतिरिक्त कौशल की आवश्यकता हो सकती है जिसे व्यावसायिक प्रशिक्षण से प्राप्त किया जा सकता है। ऐसी पार्टटाइम ट्रेनिंग और कार्यशालाओं के लिए जाने में संकोच न करें और अपने लिए एक बेहतरीन अवसर की तलाश करें।

निष्कर्ष

आपको अपना कैरियर सावधानी से चुनना चाहिए क्योंकि आपके जीवन के विभिन्न पहलू इसके साथ जुड़े हुए हैं। अपना पर्याप्त समय लें, सभी विकल्पों का पता लगाएं, उन लोगों से सलाह लें और फिर एक निर्णय लें। एक बार जब आप करियर चुनते हैं, तो कड़ी मेहनत करें ताकि आप अपनी पसंद के क्षेत्र में आप अपने करियर की नींव रख सकें।

FAQs

करियर क्या है?

करियर का अर्थ है आजीविका का जरिया, जिसके अनुसार व्यक्ति अपना और अपने परिवार का पेट भरता है और उन्हें दैनिक सुख सुविधाओं का साधन प्रदान करता है। आपका करियर ही आपके भविष्य को इंगित करता है। यदि आप एक सही माइंड सेट नहीं रखते तो आप भविष्य में दर दर की ठोकरें ही खाते रहेंगे। भविष्य अगर उज्ज्वल चाहिए तो करियर की उज्जवलता के लिए आज से ही प्रयास शुरू करें।

करियर का चुनाव कैसे करें?

आज कल के ज़िन्दगी की सबसे बड़ी चुनौती है, अच्छा करियर बनाना है। विद्यार्थी को अपने दसवीं और बारहवीं कक्षा के बाद से ही अपने आने वाले करियर  को गंभीरता से लेना चाहिए। यहां तक कि अपनी 11वीं का मुख्य विषय चुनते समय भी ध्यान रखना चाहिए। यदि आप विज्ञान सम्बन्धी क्षेत्र में आगे बढ़ना चाहते हैं, तो आप विज्ञान को मुख्य विषय के रुप में चुनें। इसी तरह यदि बिजनेस या एग्रीकल्चर के क्षेत्र में करियर बनाना चाहते हैं, तो क्रमशः कॉमर्स या एग्रीकल्चर को मुख्य विषय के रूप में चुनें। अगर करियर चुनने में हमने गलती की तो आगे चलकर हम जीवन में सफल नहीं हो पाते है। जो व्यक्ति अपने लक्ष्य को प्राप्त करने में कड़ी मेहनत करता है, वह सही माईनो में एक अच्छा करियर बना सकता है।

करियर पर निबंध कैसे लिखें?

करियर पर निबंध लिखने के लिए उसे खुद के जीवन पर लागू करके देखें कि आप किस क्षेत्र में अपना करियर चाहते हैं, आपकी रुचि क्या हैं। इसी प्रकार अपने विचार लिखते हुए आप करियर पर निबंध लिख सकते हैं।

आशा करते हैं कि आपको एक सटीक करियर पर निबंध इस ब्लॉग में मिला होगा। इसी प्रकार के और भी ब्लॉग के लिए Leverage Edu के साथ बनें रहें। यदि आप अपना बेहतर करियर बनाने के लिए विदेश में पढ़ाई करना चाहते हैं तो 1800 572 000 पर कॉल करके 30 मिनट का फ्री सेशन बुक करें।

Leave a Reply

Required fields are marked *

*

*

15,000+ students realised their study abroad dream with us. Take the first step today.
Talk to an expert