ऑनलाइन पढ़ाई कैसे करें?

1 minute read
1.6K views
10 shares
ऑनलाइन पढ़ाई कैसे करें

कोरोना की बढ़ती मार के साथ ऑनलाइन पढ़ाई का चलन भी बढ़ता जा रहा है। इस कोरोनावायरस महामारी के दौर में ऑनलाइन पढ़ाई ने बच्चों की बहुत सहायता की है। ऑनलाइन पढ़ाई ने बच्चों को पढ़ने के लिए कई तरीके भी दिए हैं। इस महामारी के दौरान ऑनलाइन शिक्षा एक वरदान के रूप में सामने आई है। ऑनलाइन पढ़ाई कैसे करें ऑनलाइन पढ़ाई करने के लिए कुछ टॉप प्लेटफार्म ने अपनी अहम भूमिका निभाई और निभा रहे हैं। आइए विस्तार से जानते हैं कि ऑनलाइन पढ़ाई कैसे करें।

ऑनलाइन पढ़ाई कैसे करे

ऑनलाइन पढ़ाई को आजकल काफी उपयोग में लिया जा रहा है तथा कई टेस्ट, एग्जाम प्रिपरेशन, प्रैक्टिकल ट्रेनिंग आदि भी ऑनलाइन दी जाने लगी है। इसे आधुनिक युग का ओर भी अधिक विस्तार हुआ है। ऑनलाइन पढ़ाई करने से हम चाहे कहीं भी हो पढ़ाई कर सकते हैं हमें स्कूल कॉलेज तक जाने की जरूरत नहीं पड़ती तथा हमको कोरोनावायरस से सुरक्षित भी रहते हैं। तो आइए जाने ऑनलाइन पढ़ाई कैसे करें के बारे में सभी महत्वपूर्ण जानकारी जो नीचे दी गई है-

मोबाइल से पढ़ाई कैसे करें?

आज के जमाने में ऑनलाइन मोबाइल से पढ़ाई करना गलत नहीं है, यह एक ऐसा माध्यम है जो बहुत सारे लोगों के लिए फायदेमंद साबित हो रहा है। वहीं जिन गरीब बच्चों के पास कोचिंग और ट्यूशन के पैसे नहीं है वह भी यूट्यूब से फ्री में पढ़ाई कर रहे हैं। आजकल शिक्षा क्षेत्र में मोबाइल एप्लिकेशन का बहुत ज्यादा ही प्रयोग की जा रही है। मोबाइल फोन के द्वारा पढ़ाई करने से आपको फ्री में नोट्स टेस्ट सीरीज मिल जाती है।

ऑनलाइन पढ़ने के फायदे

Online padhai kaise kare जानने के साथ-साथ ऑनलाइन पढ़ने के फायदे जान लेते हैं, जो इस प्रकार हैं-

  • ऑनलाइन पढ़ाई बेहतरी: फिल्म को टीवी या मोबाइल से देखते हैं तो वो कहानी हमारे दिमाग में अच्छे से छप जाती है।  ठीक उसी तरह से ऑनलाइन पढने से इसका फर्क एक ही प्रकार से होता है। वहीं इसके द्वारा मिलने वाले फायदे कि बात करें तो इसकी वजह से बोरिंग टॉपिक भी हम अच्छी तरह पढ़ पाते हैं।
  • समय का बेहद बचाव: ऑनलाइन पढ़ाई करने का ये सबसे बड़ा फायदा है इससे हमारा काफी टाइम बच जाता है क्योंकि हमें किसी संस्थान या कोचिंग क्लास में जाने की जरुरत नहीं होती तो आने-जाने क्लास के इन्तजार करने का यह सब टाइम हमारा आसानी से बच जाता है।
  • ऑनलाइन टेस्ट सीरीज: ऑनलाइन मोबाइल पढ़ाई की यह बात मुझे सबसे अच्छी लगती है टेस्ट सीरीज वाली क्योंकि आजकल बहुत सारे एग्जाम ऑनलाइन कंप्यूटर के द्वारा होने लगे हैं जिसके चलते ऑनलाइन परीक्षा देने में आपका अनुभव होना भी जरूरी है जिससे एग्जाम के वक्त आपको परेशानी मही होती इसका अच्छा माध्यम online Test सीरीज है जिससे हमारी तैयारी का बखूबी आँकलन हो जाता है और यह बोरिंग भी नहीं लगती यह बहुत ज्यादा आकर्षित होती है जिससे आपको ज्यादा प्रश्न और उनके जवाब याद रहते है।
  • लिखना नहीं पड़ता: ऑफलाइन क्लास या पढ़ाई में हमको जो पढ़ाया जाता है उसके नोट्स हमें खुद से तैयार करने होते है। लेकिन इंटरनेट से पढने में ऐसा नहीं है इसमें आपको डिजिटल छपे हुए बुक की तरह पीडीएफ नोट्स आपके मोबाइल पर भेज दिए जाते हैं या फिर आप उनके ऐप या वेबसाइट से डाउनलोड कर सकते हैं जिसमें आप बिना लिखे मोबाइल में ही पढ़ सकते हैं।

ऑनलाइन पढ़ाई करने के नुकसान

Online padhai kaise kare जानने के साथ-साथ ऑनलाइन पढ़ाई करने के नुकसान जान लेते हैं, जो इस प्रकार हैं-

  • याद कम रहना:- हम शुरू से ही ऑफलाइन क्लास के काफी आदी हो चुके हैं इसलिए अचानक सब कुछ ऑनलाइन हमारे दिमाग में सेट नहीं होता है क्योंकि फिजिकली रूप से क्लास में पढ़ना एक अलग अनुभव होता है जिसके चलते ऑनलाइन क्लास से याद बहुत कम होता है हालाँकि धीरे-धीरे हम जब इसके आदी हो जाएंगे और सीरीज रूप से पढ़ेंगे तो आपको यह समस्या भी बहुत कम आएगी।
  • अनुशासन की कमी:- हम देखते हैं जब हम स्कूल या किसी कोचिंग सेंटर में होते हैं तो मास्टर के डर से और उस इंस्टिट्यूट के अनुशासन नियमों के चलते हम क्लास में एकदम अनुशासित रहते हैं जिससे हमारी पढ़ाई अच्छे से होती है लेकिन ऑनलाइन क्लास में ना तो हमारे पास टीचर होते हैं ना ही हम किसी स्कूल या इंस्टिट्यूट में होते हैं बस घर से पढ़ना है तो टीचर का तो कोई भय है नहीं जितना पढ़ना है पढ़ो नहीं तो मजे करो यह हमारे लिए नुकसानदायक साबित होता है यह आप खुद पर निर्भर करता है।
  • आंखों में नुकसान:– ऑनलाइन पढ़ाई का यह सबसे बड़ा नुकसान है मैं इसको पहले नंबर पर रखता हूं हम घंटों भर ऑनलाइन पढ़ाई के चलते मोबाइल या कंप्यूटर पर रहते हैं जिसके चलते मोबाइल के स्क्रीन से निकलती तरेंगे हमारी आंखों को बहुत नुकसान पहुंचाती है जो ऑफलाइन पढ़ाई या क्लास में नहीं होता है। मोबाइल से अगर पढ़ाई ना करें तो भी फालतू चीजों में हम हमारी आंखें को बहुत खराब करते हैं जहां से हमें कुछ हासिल भी नहीं होता यहां तो कम से कम पढ़ाई करते है।
  • दिमाग का स्तर ना रहेना :– ऑनलाइन पढ़ाई का यह भी नुकसान है जब हम किसी टॉपिक पर सीरियस होकर ऑनलाइन पढ़ाई करने बैठते हैं तो कभी वीडियो में फालतू की ऐड आ जाती है कभी मोबाइल की नोटिफिकेशन आ जाती है स्क्रीन पर अलग-अलग कलर चेंज होते रहते हैं जिसके कारण हमारा दिमागी संतुलन सही नहीं रह पाता है और हमें ऑफलाइन क्लास के मुकाबले ऑनलाइन पढ़ाई करते वक्त याद कम रहता है।

ऑनलाइन पढ़ने के लिए टॉप 7 प्लेटफॉर्म

Online padhai kaise kare यह जानने के लिए नीचे टॉप 7 प्लेटफॉर्म्स के नाम नीचे दिए गए हैं- 

यूट्यूब

नवंबर 2006 में गूगल ने यूट्यूब को खरीद लिया था। गूगल ने यह करके लर्निंग प्लेटफॉर्म को और ऊंचाई तक पहुंचा दिया। हम अपनी रोजमर्रा की जिंदगी में न जाने कितने बार यूट्यूब यूज़ करते हैं चाहे वह घर में खाना बनाना हो या परीक्षा के लिए पढ़ाई करना। यूट्यूब दिन-ब-दिन और भी ज्यादा नाम कमाता जा रहा है यह एक फ्री लर्निंग प्लेटफॉर्म है जहां लाखों वीडियोज़ ना केवल पढ़ने के लिए तथा कई फनी वीडियोज़, खाना बनाने की वीडियोज़ आदि सभी इसमें है। किसी भी परेशानी का हल ढूंढना होता है तो हम यूट्यूब का यूज़ करते हैं। इसी के साथ साथ यदि हम यू ट्यूब से पैसा भी कमाना चाहते हैं तो वीडियोज़ बनाकर भी कमा सकते हैं। क्योंकि यहां हम ऑनलाइन पढ़ाई कैसे करें के बारे में जानना चाहते हैं तो आइए बात करते हैं यूट्यूब एक लर्निंग प्लेटफॉर्म के रूप में यूट्यूब से पढ़ाई करना बहुत ही आसान है इस पर फ्री ऑफ कॉस्ट पढ़ाई की जा सकती है। वहीं एक ही सब्जेक्ट के कई अलग-अलग वीडियोज़ होते हैं जहां से हम चयन कर सकते हैं कि हमें कौन सा वीडियो या जहां हमें ज्यादा समझ में आ रहा है।

दीक्षा ऐप

देश के उपराष्ट्रपति श्री एम वेंकैया नायडू ने सितंबर 2017 ने दीक्षा ऐप की शुरुआत की थी। यह एक ऐप है जिसमें न केवल छात्र ही पढ़ सकते हैं बल्कि शिक्षकों को भी किताबों को पढ़ने में सहायता मिलती है। इस ऐप के जरिए सरकार ने सभी छात्र-छात्राओं की किताबों पर QR कोड प्रकाशित करना शुरू कर दिया जिसे दीक्षा एप द्वारा स्कैन करके उस किताब के बारे में बिना कुछ टाइप करें सिर्फ स्कैन करने से उसका हल मिल जाता है। इसे प्ले स्टोर से डाउनलोड किया जा सकता है। इसमें कक्षा 1 से 12वीं तक के NCERT किताबों के सलूशन मौजूद है।

TED-Ed

देश में अचानक लॉकडाउन के कारण विशेष रूप से शैक्षणिक संदर्भ में एक अस्थायी ठहराव हो गया है क्योंकि परीक्षा, परिणाम, प्रवेश आदि प्रभावित हुए हैं। लेकिन छात्र ऑनलाइन शिक्षा के माध्यम से अपनी शिक्षा जारी रखने का लाभ उठा रहे हैं। चाहे आप एक छात्र या एक कामकाजी पेशेवर हों, TED एक मुफ्त ऑनलाइन प्लेटफ़ॉर्म है जिसे आप प्रचलित और दिलचस्प विषयों के बारे में जानने के लिए खोज सकते हैं। उच्च प्रेरक ऑनलाइन शिक्षण प्लेटफार्मों में से एक होने के नाते, TED-ED, TED वार्ता और TED सम्मेलनों का ग्रुप है। “साझा करने लायक पाठ” के अपने आदर्श वाक्य के साथ , टेड एड का उद्देश्य दुनिया भर में शिक्षकों और छात्रों को मनाना है और लोकप्रिय विषयों पर 1000 से अधिक शैक्षिक वीडियो प्रदान करता है और एक वैश्विक दर्शकों में इसे फैलाने के लिए वेबसाइट पर अपना स्वयं का पाठ भी बना सकता है।

Leverage Live

Leverage Live IELTS, SAT, GMAT, GRE जैसी प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी के लिए गुणवत्तापूर्ण शिक्षा प्रदान करके शीर्ष ऑनलाइन शिक्षण प्लेटफार्मों की लीग में आगे है। Leverage Live में 20,000 से अधिक मेंटर्स है जो सही मार्गदर्शन करने के लिए तैयार है। इनका का उद्देश्य यह सुनिश्चित करना है कि छात्र को अपनी परीक्षा की तैयारी के लिए सबसे अच्छा मार्गदर्शन और साथ ही सही अध्ययन सामग्री प्राप्त हो। यह अपने सपनों के स्कूल तथा कॉलेज प्राप्त करने के इच्छुक विद्यार्थियों को मार्गदर्शन प्रदान करती है। इसके साथ-साथ अध्ययन संबंधित किसी भी प्रकार की जानकारी Leverage Live के द्वारा मिलती है।

हार्वर्ड एक्सटेंशन स्कूल

हावर्ड यूनिवर्सिटी का नाम किसने नहीं सुना होगा। हावर्ड यूनिवर्सिटी नामचीन यूनिवर्सिटी में से एक है। इस कोरोनावायरस के दौर में हावर्ड यूनिवर्सिटी द्वारा कई फ्री कोर्सेज भी निकाले गए। हावर्ड यूनिवर्सिटी में हर विद्यार्थी का एडमिशन लेना सपना होता है। ग्रेजुएशन से लेकर पोस्ट ग्रेजुएट तक, डिप्लोमा तथा सर्टिफिकेट सभी प्रकार के कोर्स यहां कराए जाते हैं। हार्वर्ड विश्वविद्यालय के 12 डिग्री देने वाले संस्थानों में से एक होने के नाते, एचईएस 900 से अधिक ऑनलाइन पाठ्यक्रम और डिग्री कार्यक्रम प्रदान करता है। इसलिए, इस सम्मानित संस्थान से कोर्स करना संगरोध का सबसे अच्छा उपयोग हो सकता है और आप हार्वर्ड एलुमनी एसोसिएशन के सदस्य भी बन सकते हैं । 

Duolingo (डुओलिंगो)

आजकल लोगों के मन में अलग-अलग भाषा को सीखने का चाव बहुत ज्यादा देखने को मिलता है। डुओलिंगो भाषा का बेहतर ज्ञान देने में एक बेहतर प्लेटफार्म है। या फ्री ऑफ कॉस्ट प्लेटफार्म है। यहां कई सारी नई भाषाओं का ज्ञान दिया जाता है। यह आपकी भाषा में सुधार करता है इसके साथ-साथ आपके कौशल को भी बढ़ाता है। जर्मन, स्पैनिश, जापानी से लेकर हिंदी, डच, अरबी आदि क्षेत्रीय लोगों के लिए, डुओलिंगो अद्भुत सुविधाओं के साथ भाषाओं की एक विस्तृत श्रृंखला प्रदान करता है। यदि आप भी कोई नई भाषा सीखने के इच्छुक हैं तो आप बहुत अच्छा सोच रहे हैं यह आपके मानसिक तनाव को दूर करेगा तथा आपके एक नए कौशल को विकसित करेगा तो आज ही इस प्लेटफार्म को चुने और अपने भाषा ज्ञान को बढ़ाएं।

ऑनलाइन क्लास कैसे लें?

ऑनलाइन क्लास शुरू करने के लिए आपके पास सबसे पहले एक बेहतरीन इंटरनेट कनेक्शन होना चाहिए ताकि आप किसी भी ऑनलाइन कोचिंग से जुड़ सकते हैं। साथ ही इसके अलावा आपके पास एक लैपटॉप या फिर स्मार्टफोन होना जरूरी है। वहीं अगर स्कूल के जरिए कोई ऑनलाइन क्लास कराई जाती है या फिर आप किसी कोचिंग संस्थान या फिर आप किसी भी सर की क्लास ले रहे हैं तो उसके लिए इस्तेंमाल की जाने वाली कुछ ऐप्स आपके स्मार्टफोन में या फिर आपके लैपटॉप में मौजूद होनी चाहिए। इन सभी ऐप्स में ज्यादातर इस्तेमाल की जाने वाली ऐप्स zoom, Microsoft teams या फिर Google Meet आदि है।

कंपीटेटिव एग्जाम की तैयारी

किसी भी प्रतियोगी परीक्षा को पास करने के लिए सबसे महत्वपूर्ण होता है कि आप उस एग्जाम की तैयारी करने के लिए कैसा टाइम टेबल बनाते है। एग्जाम का जो भी सिलेबस हो, जो भी सब्जेक्ट हो उसका आपको टाइम टेबल बनाना होगा और उस टाइम टेबल के हिसाब से आपको पढ़ना है और उस हिसाब से आपको तैयारी करनी होगी। लेकिन ध्यान रहे आप टाइम टेबल बनाते वक्त यह जरूर देखें कि सभी सब्जेक्ट को पूरा समय तो मिल रहा है कि नहीं।

आप जो प्रतियोगी परीक्षा देने वाले हो उसमें कई सारे सब्जेक्ट होंगे, कई सारे विषय होंगे और उन सभी विषयों में से कुछ ऐसे भी विषय होंगे जो आपको पसंद नहीं होंगे, पर फिर भी आपको उस विषय की पढ़ाई तो करनी ही पड़ेगी। जो भी सब्जेक्ट आपको पसंद नहीं है उस पर आप थोड़ा ज्यादा समय दें। ताकि आप उस विषय में भी अच्छी तैयारी कर सकें।

घर बैठे ऑनलाइन पढ़ाई कैसे करें?

घर बैठे ऑनलाइन पढ़ाई करना पिछले 5 वर्षों में खूब बढ़ गया है। कोरोना महामारी के इस दौर ने तो इस सुविधा को मानों एक नया वरदान दे दिया है। अब तो सब छात्र ऑनलाइन घर बैठे ही पढ़ाई करने की सुविधा खूब आराम से ले रहे हैं। घर बैठे पढ़ने से आने-जाने का समय भी बचता है जिससे बच्चे उस समय में अधिक पढ़ सकते हैं।

FAQs

ऑनलाइन पढ़ाई करने के लिए क्या चाहिए?

ऑनलाइन क्लास शुरू करने के लिए आपके पास सबसे पहले एक बेहतरीन इंटरनेट कनेक्शन होना चाहिए ताकि आप किसी भी ऑनलाइन कोचिंग से जुड़ सकते हैं। साथ ही इसके अलावा आपके पास एक लैपटॉप या फिर स्मार्टफोन होना जरूरी है।

घर बैठे ऑनलाइन पढ़ाई कैसे करें?

घर बैठे ऑनलाइन पढ़ाई नीचे दिए पॉइंट्स की सहायता से कर सकते हैं-
ऑनलाइन टाइम टेबल से पढ़ाई करें।
पिछले प्रश्न पत्रों से पढाई करें।
यूट्यूब वीडियोज़ से पढ़ाई करें।
फेसबुक ग्रुप में से पढ़ाई करें।
वेबसाइट से पढ़ाई करें।
मोबाइल एप्प से पढ़ाई करें।
Leverage Live से पढ़ाई करें।

पढ़ाई में दिमाग नहीं लगता तो क्या करें?

गोल सेट करें
मेडिटेशन
टाइम टेबल
हार्ड वर्क सबसे पहले करें
नोट्स
रिवीजन
दोस्तो के साथ पढ़ाई के बारे में चर्चा करें।

उम्मीद है आपके सवाल ऑनलाइन पढ़ाई कैसे करें का जवाब आपको मिल गया होगा। अगर आप विदेश में पढ़ाई करना चाहते हैं और साथ ही एक उचित मार्गदर्शन चाहते हैं तो आज ही 1800572000 पर कॉल करके हमारे Leverage Edu के एक्सपर्ट्स के साथ 30 मिनट का फ्री सेशन बुक कीजिए।

Leave a Reply

Required fields are marked *

*

*

15,000+ students realised their study abroad dream with us. Take the first step today.
Talk to an expert