जानिए कैसे करें IPS परीक्षा की तैयारी

1 minute read
IPS परीक्षा

UPSC परीक्षा को भारत की सबसे कठिन परीक्षाओं में से एक माना जाता है। यह परीक्षाएं सार्वजनिक क्षेत्रों में प्रशासनिक पदों के लिए आयोजित की जाती हैं। कड़ी मेहनत, सच्ची लगन और अच्छी तैयारी के साथ आप IAS, IFS, IRS और IPS जैसी सिविल सर्विस परीक्षाओं में सफलता प्राप्त कर सकते हैं। ऐसे में इस ब्लॉग में हम आपको IPS परीक्षा की तैयारी कैसे करें और इसमें सफलता प्राप्त करने की रणनीति के बारे में बताएंगे, जिसके लिए आपको यह ब्लॉग अंत तक पढ़ना होगा।

उससे पहले IPS परीक्षा से संबंधित कुछ प्रमुख जानकारी के लिए नीचे दिए गए तालिका को पढ़ें।

परीक्षा का नामभारतीय पुलिस सेवा (IPS)
कंडक्टिंग बॉडी लोक सेवा आयोग (UPSC)
एग्जाम टाइप ऑफलाइन
नंबर ऑफ़ एटेम्पट 6
आयुसीमा(21 से 32 साल)
योग्यताकिसी भी स्ट्रीम से ग्रेजुएशन

IPS क्या है?

IPS यानी भारतीय पुलिस सेवा, ऑल इंडियन सर्विस के तहत एक सेंट्रल सिविल सर्विस है। IPS अधिकारी केंद्र सरकार और अलग-अलग राज्य, दोनों में कार्यरत होता है। IPS एक प्रशासनिक अधिकारी होता है जो कानून और व्यवस्था को बनाए रखने का काम करता है। IPS जिला पुलिस का सबसे बड़ा अधिकारी होता है, जो पूरे जिले में सुरक्षा, लड़ाई , दंगे, चोरी, दुर्घटना, अपराध को रोकने का काम करता है। साथ ही यातायात प्रबंधन का भी काम करता है। IPS सिविल सेवा में सबसे प्रतिष्ठित पदों में से एक हैं जो IAS के बाद आता है।

कैसे करें IPS की तैयारी?

आईपीएस की तैयारी में सबसे महत्वपूर्ण है उसका सिलेबस। बेसिक क्लियर होने के बाद ही अभ्यार्थी सही रणनीति बना सकते हैं। ऐसे में आईपीएस की तैयारी कैसे करें के बारे में हम यहां विस्तार से जानेंगे।

NCERT बुक्स पढ़ें

IPS परीक्षा की तैयारी के लिए स्टडी मटेरियल इकट्ठा करते समय आपको किसी विशेष गाइड या बुक की जरूरत नहीं होती है। आप सिर्फ NCERT की छठी से 12वीं कक्षा की पुस्तकों की मदद से प्रिलियम एग्जाम के सभी सब्जेक्ट कवर कर सकते हैं। NCERT बुक पढ़ने से आपको इतिहास, भूगोल और राजनीति के आवश्यक विषयों की पूर्ण जानकारी मिल जाएगी। यदि आप सीधे उच्च-स्तरीय पुस्तकों की मदद से परीक्षा की तैयारी करते हैं, तो एडवांस लेवल के प्रश्नों को देखकर आपकी हिम्मत टूट सकती है। इसलिए, बेहतर यही है कि शुरुआत NCERT की बुक से करें।

रोजाना अखबार पढ़ें

यदि आप राष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगी परीक्षा जैसे IAS, IPS, या IES देना चाहते हैं, तो आपको रोजाना अंग्रेजी समाचार पत्र पढ़ने की आदत बना लेनी चाहिए। इससे ना सिर्फ आपको दुनिया की ताजा खबरें मिलेगी बल्कि यह आपकी शब्दावली बढ़ाएगा और वाक्य संरचना की अच्छी पकड़ हासिल करने में मदद करेगा। आप एक “न्यूज़ पेपर” डायरी भी बना सकते हैं, जिसमें नए शब्दों के साथ उनके विलोम और समानार्थी शब्दों को लिखकर रोजाना प्रैक्टिस कर सकते हैं। शब्दावली पर अच्छी पकड़ होने से आप प्रतियोगी परीक्षाओं में अंग्रेजी भाषा में शानदार कामयाबी पा सकते हैं। 

अपने नोट्स खुद बनाएं

किसी भी विषय या टॉपिक को अच्छी तरह समझने और उन्हें याद रखने का बेहतरीन तरीका यह है, कि आप अपने नोट्स खुद लिखकर तैयार करें। आपको जैसे ही कोई एक टॉपिक याद होता है, उसे लिखकर दोहराएं। ऐसा करने से आपको आत्म विश्लेषण करने और अपनी तैयारी का स्तर जानने में मदद मिलेगी। लिखकर तैयारी करने से आपको विषयों को अच्छी तरह, लंबे समय तक याद रखने में सहायता मिलेगी। इसीलिए, आपको इस तरीके से हर टॉपिक की प्रैक्टिस करनी जरूरी है। बाद में, आप अपने लिखे हुए नोट्स में से विषयों का आसानी से रिवीजन कर सकते हैं। महत्वपूर्ण इवेंट्स और घटनाओं के फ्लैश कार्ड बनाकर आप अपने रोजमर्रा के काम करते समय उन पर नजर डाल सकते हैं।

पिछले वर्षों के प्रश्न पत्रों का विश्लेषण करें

IPS परीक्षा के उम्मीदवारों के लिए एक और अहम टिप यह है, कि उन्हें UPSC परीक्षा के पिछले वर्षों के क्वेश्चन पेपर इकट्ठे करके उनका विश्लेषण करें। पिछले वर्षों के प्रश्न पत्र हल करने से आपको हर सेक्शन में पूछे जाने वाले टॉपिक और प्रश्नों के प्रकार का अंदाजा मिलेगा। अक्सर इन परीक्षाओं में पिछले वर्षों की परीक्षाओं से मिलते जुलते प्रश्न पूछे जाते हैं, यही कारण है कि आपको इसे अपनी तैयारी में शामिल करना जरूरी है।

हाल ही में टॉप करने वाले छात्रों से सीखें

IPS परीक्षा में सफलता पाने के लिए सिर्फ किताबों के कांसेप्ट समझ लेना काफी नहीं होता। यदि आप भारतीय पुलिस सेवा में अच्छे पदों की जॉब प्राप्त करना चाहते हैं, तो आपको एक्स्ट्रा तैयारी करनी चाहिए। आप उन लोगों से कुछ फायदे मन टिप्स और ट्रिक्स प्राप्त कर सकते हैं, जिन्होंने हाल ही में IPS परीक्षा को क्वालीफाई किया है।

मॉक टेस्ट की प्रैक्टिस करें

किसी भी परीक्षा में सफलता पाने के लिए मुसलसल प्रैक्टिस करते रहना सबसे महत्वपूर्ण होता है। ज्यादा प्रैक्टिस और रिवीजन करने से आपकी चुनी हुई परीक्षा में सफलता पाने के चांस और बढ़ जाते हैं। UPSC सिलेबस की गहराई का अंदाज़ा लगाना कठिन है, इसलिए सभी महत्वपूर्ण कांसेप्ट को मुसलसल रिवाइज करने से आपको हर सेक्शन पर मजबूती मिल जाएगी। आप कोई भी अहम पॉइंट छोड़ने का रिस्क नहीं ले सकते। अपनी जानकारी और सीखने का अंदाजा लगाने के लिए, समय-समय से ऑनलाइन या ऑफलाइन मॉक टेस्ट प्रैक्टिस करते रहें। स्व मूल्यांकन से आप अपनी तैयारी की स्ट्रेटेजी पर अच्छी तरह काम कर सकते हैं।

IPS ट्रेनिंग सेंटर

IPS की ट्रेनिंग सेंटर की लिस्ट नीचे दी गई है:

  • फाउंडेशन कोर्स (3 महीने): LBSNAA, मसूरी
  • फेज I ट्रेनिंग (बेसिक कोर्स- 11 महीने): सरदार वल्लभभाई पटेल राष्ट्रीय पुलिस अकादमी, हैदराबाद
  • डिस्ट्रिक्ट प्रैक्टिकल ट्रेनिंग (6 महीने): संबंधित संवर्ग में
  • फेज II ट्रेनिंग (1 महीने): सरदार वल्लभभाई पटेल राष्ट्रीय पुलिस अकादमी (एसवीपीएनपीए), हैदराबाद

IPS के लिए योग्यता | IPS Kaise Bane

IPS ऑफिसर बनने के लिए शैक्षणिक के साथ-साथ शारीरिक योग्यता की भी आवश्यता होती है। एक IPS अधिकारी बनने के लिए आप में निम्नलिखित योग्यताएं होनी चाहिए

  1. शारीरिक मापदंड
  • पुरुषों के लिए – 165 सेंटीमीटर
  • महिलाओं के लिए – 150 सेंटीमीटर
  • सीना
  • नज़र
  • दूर दृष्टि 6/6 या 6/9 और खराब आँख के लिए 6/12 या 6/9 होनी चाहिए और निकट दृष्टि क्रमशः JI और J2 होनी चाहिए।
  1. राष्ट्रीयता
  • भारतीय नागरिक
  • नेपाल के नागरिक
  • भूटान के नागरिक
  • 1 जनवरी 1962 से पहले भारत में प्रवेश करने वाले तिब्बती रिफ्यूजी
  1. शैक्षिक योग्यता
  • किसी भी UGC द्वारा मान्यता प्राप्त यूनिवर्सिटी से बैचलर की डिग्री।
  1. आयु सीमा
  • उम्मीदवार की उम्र 21 से 32 वर्ष के बीच होनी चाहिए।

यह भी पढ़े : IPS Syllabus in Hindi

आईपीएस सिलेबस

IPS सिलेबस को दो स्तरों में बांटा गया है:

  1. मुख्य परीक्षा के लिए आवेदकों के चयन के लिए प्रारंभिक परीक्षा (वस्तुनिष्ठ प्रकार)
  2. विभिन्न सेवाओं और पदों के लिए आवेदकों के चयन के लिए मुख्य परीक्षा (लिखित)।

प्रीलिम्स के लिए IPS सिलेबस

पेपर I का Syllabus (सामान्य अध्ययन – I)1. राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय महत्व की वर्तमान घटनाएं
2. भारत का इतिहास और भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन
3. भारतीय और विश्व भूगोल- भारत और विश्व का भौतिक, सामाजिक, आर्थिक भूगोल
4. भारतीय राजनीति और शासन – संविधान, राजनीतिक व्यवस्था, पंचायती राज, सार्वजनिक नीति, अधिकार मुद्दे, आदि
5. सामान्य विज्ञान 
6. आर्थिक और सामाजिक विकास – सतत विकास, गरीबी, समावेश, जनसांख्यिकी, सामाजिक क्षेत्र की पहल, आदि
7. पर्यावरण पारिस्थितिकी, जैव-विविधता और जलवायु पर सामान्य मुद्दे 
पेपर II के लिए Syllabus (CSAT / सामान्य अध्ययन – II)1. समझ (Comprehension)
2. संचार कौशल सहित पारस्परिक कौशल
3. तार्किक तर्क और विश्लेषणात्मक क्षमतानिर्णय लेने और समस्या-समाधान
4. सामान्य मानसिक क्षमता
5. बुनियादी संख्यात्मकता (संख्याएं और उनके संबंध, परिमाण के क्रम, आदि) (कक्षा X स्तर ) और डेटा व्याख्या (चार्ट, ग्राफ़, टेबल, डेटा पर्याप्तता, आदि – दसवीं कक्षा स्तर)

आईपीएस मेन्स सिलेबस

पेपर ए – आधुनिक भारतीय भाषाएँ – 300 अंकदिए गए अंशों की समझ, सटीक लेखन उपयोग और शब्दावली लघु निबंध अंग्रेजी से भारतीय भाषा में अनुवाद और इसके विपरीत 
पेपर बी – अंग्रेजी – 300 अंकदिए गए अंशों की समझ, सटीक लेखन उपयोग और शब्दावली लघु निबंध 

2021 में कैसे करें आईएएस की तैयारी? सीखें खुद IAS टॉपर्स से

IPS ऑफिसर की सैलरी

IPS ऑफिसर की सैलरी इनकी पोस्ट के अनुसार नीचे दी गई है:

IPS रैंक इन स्टेट पुलिस/सेंट्रल पुलिस फाॅर्स पोजीशन IPS सैलरी ( 7वें वित्त आयोग के अनुसार )
डायरेक्टर-जनरल ऑफ़ पुलिस/डायरेक्टर ऑफ़ IB और CBIकमिश्नर ऑफ़ पुलिस 2,25,000.00 INR
डायरेक्टर जनरल ऑफ़ पुलिस स्पेशल कमिश्नर ऑफ़ पुलिस 2,05,400.00 INR
इंस्पेक्टर-जनरल ऑफ़ पुलिस जॉइंट कमिश्नर ऑफ़ पुलिस 1,44,200.00 INR
डिप्टी इंस्पेक्टर ऑफ़ पुलिस एडिशनल कमिश्नर ऑफ़ पुलिस 1,31,100.00 INR
सीनियर सुपरिन्टेन्डेन्ट ऑफ़ पुलिस डिप्टी कमिश्नर ऑफ़ पुलिस78,800.00 INR
एडिशनल सुपरिन्टेन्डेन्ट ऑफ़ पुलिस एडिशनल डिप्टी कमिश्नर ऑफ़ पुलिस 67,700.00 INR
डिप्टी सुपरिन्टेन्डेन्ट ऑफ़ पुलिस असिस्टेंट कमिश्नर ऑफ़ पुलिस 56,100.00 INR

सबसे ज़्यादा तनख्वाह वाली सरकारी नौकरियाँ

IPS पोस्ट की लिस्ट

IPS पोस्ट की लिस्ट नीचे दी गई है:

  • डायरेक्टर जनरल ऑफ़ पुलिस
  • इंस्पेक्टर जनरल ऑफ़ पुलिस
  • डिप्टी इंस्पेक्टर जनरल ऑफ़ पुलिस
  • सीनियर सुपरिन्टेन्डेन्ट ऑफ़ पुलिस
  • एडिशनल सुपरिन्टेन्डेन्ट ऑफ़ पुलिस
  • डिप्टी सुपरिन्टेन्डेन्ट ऑफ़ पुलिस
  • कमिश्नर ऑफ़ पुलिस
  • स्पेशल कमिश्नर ऑफ़ पुलिस
  • जॉइंट कमिश्नर ऑफ़ पुलिस
  • एडिशनल कमिश्नर ऑफ़ पुलिस
  • डिप्टी कमिश्नर ऑफ़ पुलिस
  • एडिशनल डिप्टी कमिश्नर ऑफ़ पुलिस
  • असिस्टेंट कमिश्नर ऑफ़ पुलिस

FAQs

IPS की तैयारी कैसे करे?


IPS की तैयारी करने के लिए टिप्स
-NCERT बुक्स रिफर करें
-रोजाना अखबार पढ़ें
-अपने नोट्स खुद बनाएं
-पिछले वर्षों के प्रश्न पत्रों का विश्लेषण करें
-हाल ही में टॉप करने वाले छात्रों से सीखें
-मॉक टेस्ट की प्रैक्टिस करें

आईपीएस बनने के लिए 12वीं में कितने परसेंट चाहिए?

50% से अधिक

IPS में कौन कौन सी पोस्ट होती है?

IPS पोस्ट:
-जनरल ऑफ़ पुलिस
-इंस्पेक्टर जनरल ऑफ़ पुलिस
-डिप्टी इंस्पेक्टर जनरल ऑफ़ पुलिस
-सीनियर सुपरिन्टेन्डेन्ट ऑफ़ पुलिस
-एडिशनल सुपरिन्टेन्डेन्ट ऑफ़ पुलिस
-डिप्टी सुपरिन्टेन्डेन्ट ऑफ़ पुलिस आदि

आईएएस बनने के लिए कौन सी डिग्री चाहिए?

IPS बनने के लिए ग्रेजुएशन की डिग्री पहली आवश्यकता है।

आईपीएस मेंस में कितने पेपर होते हैं?

IPS मेंस में कुल 9 पेपर होते हैं

आशा है कि इस ब्लॉग से आपको IPS परीक्षा में कामयाबी पाने की सभी टिप्स और ट्रिक्स पता चल गई होंगी। इसी तरह के अन्य ब्लॉग्स पढ़ने के लिए बने रहिए Leverage Edu के साथ।

प्रातिक्रिया दे

Required fields are marked *

*

*

25 comments
    1. कोमल जी आईपीएस की तैयारी करने के लिए आपको रोजाना अखबार पढ़ने की जरुरत है। इसके अलावा अपने नोट्स खुद बनाएं, पिछले वर्षों के प्रश्न पत्रों का विश्लेषण करें और मॉक टेस्ट की प्रैक्टिस करें। या फिर आप कोई कोचिंग क्लास को भी ज्वाइन कर सकते हैं।

    1. वंदना जी, आईपीएस या आईएएस अधिकारी बनने के लिए आपका ग्रेजुएट होना आवश्यक है तभी आप सिविल सेवा परीक्षा (CSE) में भाग ले सकते हैं। इस परीक्षा का आयोजन प्रतिवर्ष UPSC द्वारा किया जाता है।