IPS परीक्षा की तैयारी कैसे करें?

1 minute read
892 views
Leverage Edu Default Blog Cover

UPSC परीक्षा को भारत की सबसे कठिन परीक्षाओं में से एक माना जाता है। यह परीक्षाएं सार्वजनिक क्षेत्रों में प्रशासनिक पदों के लिए आयोजित की जाती हैं। हालांकि, इन परीक्षाओं में सफलता पाना काफी मुश्किल होता है, कड़ी मेहनत, सच्ची लगन और अच्छी तैयारी के साथ आप IAS, IFS, IRS और IPS जैसी सिविल सर्विस परीक्षाओं में सफलता प्राप्त कर सकते हैं। इस ब्लॉग में हमने IPS परीक्षा की तैयारी और इसमें सफलता प्राप्त करने की रणनीति के बारे में बताया है। IPS परीक्षा की तैयारी कैसे करें के बारे में विस्तार से जानने के लिए यह ब्लॉग पूरा पढ़ें।  

परीक्षा का नाम भारतीय पुलिस सेवा (IPS)
आयोजक लोक सेवा आयोग (UPSC)
परीक्षा का प्रकार ऑफलाइन
नंबर ऑफ़ एटेम्पट 6
ऑनलाइन एप्लीकेशन की तारीख 2-22 फरवरी 2022
एडमिट कार्ड (प्रीलिमिनरी) मई 2022 का तीसरा हफ्ता
प्रीलिमिनरी परीक्षा की तारीख 5 जून 2022
प्रीलिमिनरी रिजल्ट की तारीख अगस्त 2022
मेंस परीक्षा की तारीख 9 सितंबर 2022 से शुरू
मेंस रिजल्ट की तारीख अक्टूबर 2022
इंटरव्यू की तारीख नवंबर 2022
फाइनल रिजल्ट दिसम्बर 2022

IPS कौन होते हैं?

IPS भारतीय पुलिस सेवा, ऑल इंडियन सर्विस के तहत एक सेंट्रल सिविल सर्विस है। भारत के ब्रिटिश राज से स्वतंत्र होने के एक साल बाद 1948 में इसने भारतीय शाही पुलिस की जगह ले ली। IPS अधिकारी केंद्र सरकार और अलग-अलग राज्यों दोनों में कार्यरत होते हैं। IPS एक प्रशासनिक अधिकारी होता है यह कानून और व्यवस्था को बनाए रखने का काम करता है IPS जिला पुलिस का सबसे बड़ा अधिकारी होता है। IPS पूरे जिले में सुरक्षा, लड़ाई , दंगे, चोरी, दुर्घटना, अपराध को रोकने का काम करता है। साथ ही यातायात प्रबंधन का भी काम करता है। IPS अपने राज्य का डायरेक्टर जनरल ऑफ पुलिस बन सकता है। IPS सिविल सेवा में सबसे प्रतिष्ठित पदों में से एक हैं जो IAS के बाद आता है।

IPS बनने के लिए योग्यता

IPS ऑफिसर बनने के लिए शैक्षणिक के साथ-साथ शारीरिक योग्यता की भी आवश्यता होती है, जिसके बारे में नीचे बताया गया है:

  1. शारीरिक मापदंड
  • पुरुषों के लिए – 165 सेंटीमीटर
  • महिलाओं के लिए – 150 सेंटीमीटर
  • सीना
  • नज़र
  • दूर दृष्टि 6/6 या 6/9 और खराब आँख के लिए 6/12 या 6/9 होनी चाहिए और निकट दृष्टि क्रमशः JI और J2 होनी चाहिए।
  1. राष्ट्रीयता
  • भारतीय नागरिक
  • नेपाल के नागरिक
  • भूटान के नागरिक
  • 1 जनवरी 1962 से पहले भारत में प्रवेश करने वाले तिब्बती रिफ्यूजी
  1. शैक्षिक योग्यता
  • किसी भी UGC द्वारा मान्यता प्राप्त यूनिवर्सिटी से बैचलर की डिग्री प्राप्त की हो।
  1. आयु सीमा
  • उम्मीदवार की उम्र 21 से 32 वर्ष के बीच होनी चाहिए।

100 मोटिवेशनल कोट्स इन हिंदी

IPS परीक्षा तारीख 2022

UPSC IPS 2021 परीक्षा का प्रकार परीक्षा की तारीख
IPS प्रीलिमिनरी ऑब्जेक्टिव 5 जून 2022
IPS मेंस परीक्षा डिस्क्रिप्टिव 9 सितंबर 2022 से शुरू

IPS ऑफिसर की भूमिका और जिम्मेदारियां 

भारतीय पुलिस सेवा गृह मंत्रालय के अंतर्गत काम करती है। हमने यहां IPS ऑफिसर की विभिन्न जिम्मेदारियों की जानकारी दी है:

  • सार्वजनिक शांति बनाए रखना
  • अपराध की रोकथाम
  • जांच पड़ताल और सबूत इकट्ठा करना
  • वीआईपी सिक्योरिटी
  • रेलवे पुलिसिंग
  • एंटी स्मगलिंग ऑल ड्रग तस्करी को रोकना
  • सीमा सुरक्षा की जिम्मेदारी
  • आतंकवाद की रोकथाम
  • सीमा पुलिसिंग
  • आपदा प्रबंधन

भारतीय खुफिया एजेंसी की ज़िम्मेदारी

  • RAW
  • IB
  • CID
  • CBI

भारतीय फेडरल कानून प्रवर्तन एजेंसी ज़िम्मेदारी

  • BSF
  • ITBP
  • NSG
  • CISF
  • CRPF

IPS एग्ज़ाम के अंक

नए IPS ऑफिसर को 2 वर्ष की ट्रेनिंग या परिवीक्षा अवधि पूरी करनी होती है। हमने यहां आंतरिक और बाहरी विषयों और उनके मार्क्स की लिस्ट दी है:

आंतरिक विषय मार्क्स
आधुनिक भारत की पुलिस 75
इंडियन एविडेंस एक्ट, 1872 100
भारतीय दंड संहिता, 1860 100
अपराधिक प्रक्रिया संहिता, 1973 100
विशेष कानून 50
अपराध रोकथाम और अपराध विज्ञान 75
जांच – I 75
जांच – II 75
फॉरेंसिक मेडिसिन 50
फॉरेंसिक साइंस 75
सार्वजनिक शांति और व्यवस्था का रखरखाव 75
आंतरिक सुरक्षा 75
पुलिस लीडरशिप और मैनेजमेंट 100
नैतिकता और मानवअधिकार 75
सूचना और संचार प्रौघिकी 100
बाहरी विषय मार्क्स
ड्रिल- I 100
ड्रिल- II 80
समीकरण 40
फील्ड क्राफ्ट रणनीति और मैप पढ़ना 200
प्राथमिक इलाज और एम्बुलेंस ड्रिल 20
शारीरिक फिटनेस 80
तैराकी 25
निहत्थे मुकाबला करना 30
योग 25

2021 में कैसे करें आईएएस की तैयारी? सीखें खुद IAS टॉपर्स से

IPS ट्रेनिंग सेंटर

IPS की ट्रेनिंग सेंटर की लिस्ट नीचे दी गई है:

  • फाउंडेशन कोर्स (3 महीने): LBSNAA, मसूरी
  • फेज I ट्रेनिंग (बेसिक कोर्स- 11 महीने): सरदार वल्लभभाई पटेल राष्ट्रीय पुलिस अकादमी, हैदराबाद
  • डिस्ट्रिक्ट प्रैक्टिकल ट्रेनिंग (6 महीने): संबंधित संवर्ग में
  • फेज II ट्रेनिंग (1 महीने): सरदार वल्लभभाई पटेल राष्ट्रीय पुलिस अकादमी (एसवीपीएनपीए), हैदराबाद

IPS ऑफिसर की सैलरी

IPS ऑफिसर की सैलरी इनकी पोस्ट के अनुसार नीचे दी गई है:

IPS रैंक इन स्टेट पुलिस/सेंट्रल पुलिस फाॅर्स पोजीशन IPS सैलरी ( 7वें वित्त आयोग के अनुसार )
डायरेक्टर-जनरल ऑफ़ पुलिस/डायरेक्टर ऑफ़ IB और CBI कमिश्नर ऑफ़ पुलिस 2,25,000.00 INR
डायरेक्टर जनरल ऑफ़ पुलिस स्पेशल कमिश्नर ऑफ़ पुलिस 2,05,400.00 INR
इंस्पेक्टर-जनरल ऑफ़ पुलिस जॉइंट कमिश्नर ऑफ़ पुलिस 1,44,200.00 INR
डिप्टी इंस्पेक्टर ऑफ़ पुलिस एडिशनल कमिश्नर ऑफ़ पुलिस 1,31,100.00 INR
सीनियर सुपरिन्टेन्डेन्ट ऑफ़ पुलिस डिप्टी कमिश्नर ऑफ़ पुलिस 78,800.00 INR
एडिशनल सुपरिन्टेन्डेन्ट ऑफ़ पुलिस एडिशनल डिप्टी कमिश्नर ऑफ़ पुलिस 67,700.00 INR
डिप्टी सुपरिन्टेन्डेन्ट ऑफ़ पुलिस असिस्टेंट कमिश्नर ऑफ़ पुलिस 56,100.00 INR

सबसे ज़्यादा तनख्वाह वाली सरकारी नौकरियाँ

IPS कैडर आवंटन

राज्य पुलिस सेवाओं से चुने जाने वाले अधिकारियों को राज्य के कैडरों में रहना जरूरी है। IPS कैडर को 5 जोन में बांटा गया है:

जोन 1 – राज्य कैडरों की संख्या: 7

  • एजीएमयूटी (अरुणाचल प्रदेश, गोवा, मिजोरम और यूनियन टेरिटरी)
  • जम्मू और कश्मीर
  • हिमाचल प्रदेश
  • पंजाब
  • राजस्थान
  • हरयाणा
  • उत्तराखंड

जोन 2 – राज्य कैडरों की संख्या: 4

  • उतार प्रदेश
  • बिहार
  • झारखंड
  • ओडिशा

जोन 3 – राज्य कैडरों की संख्या: 4

  • गुजरात
  • महाराष्ट्र
  • मध्य प्रदेश
  • छत्तीसगढ़

जोन 4 – राज्य कैडरों की संख्या: 6

  • पश्चिम बंगाल
  • सिक्किम
  • असम-मेघालय
  • मणिपुर
  • त्रिपुरा
  • नागालैंड

जोन 5 – राज्य कैडरों की संख्या: 5

  • तेलंगाना
  • आंध्र प्रदेश
  • कर्नाटक
  • तमिलनाडु
  • केरल

IPS परीक्षा में सफलता पाने की टिप्स और ट्रिक्स 

अब जबकि आप IPS की परीक्षा की विशेषताओं बारे में पूरी जानकारी प्राप्त कर चुके हैं, हम आपको कुछ फायदेमंद टिप्स और तैयारी की तकनीक बताएंगे, जिनकी मदद से आप शानदार स्कोर प्राप्त कर सकेंगे। 

NCERT बुक्स पढ़ें

IPS परीक्षा की तैयारी के लिए स्टडी मटेरियल इकट्ठा करते समय आपको किसी विशेष गाइड या बुक की जरूरत नहीं होती है। आप सिर्फ NCERT की छठी से 12वीं कक्षा की पुस्तकों की मदद से प्रीमियम एग्जाम के सभी सब्जेक्ट कवर कर सकते हैं। UPSC परीक्षाओं के लिए NCERT बुक रेफर करने से आपको इतिहास, भूगोल और राजनीति के आवश्यक विषयों की पूर्ण जानकारी मिल जाएगी। यदि आप सीधे उच्च-स्तरीय पुस्तकों की मदद से परीक्षा की तैयारी करते हैं, तो एडवांस लेवल के प्रश्नों को देखकर आपकी हिम्मत टूट सकती है। इसलिए, बेहतर यही है कि शुरुआत NCERT की बुक से करें।

रोजाना अखबार पढ़ें

यदि आप राष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगी परीक्षा जैसे IAS, IPS, या IES देना चाहते हैं, तो आपको रोजाना अंग्रेजी समाचार पत्र पढ़ने की आदत बना लेनी चाहिए। इससे ना सिर्फ आपको दुनिया की ताजा खबरें मिलेगी बल्कि यह आपकी शब्दावली बढ़ाएगा और वाक्य संरचना की अच्छी पकड़ हासिल करने में मदद करेगा। आप एक “न्यूज़ पेपर” डायरी भी बना सकते हैं, जिसमें नए शब्दों के साथ उनके विलोम और समानार्थी शब्दों को लिखकर रोजाना प्रैक्टिस कर सकते हैं। शब्दावली पर अच्छी पकड़ होने से आप प्रतियोगी परीक्षाओं में अंग्रेजी भाषा में शानदार कामयाबी पा सकते हैं। 

अपने नोट्स खुद बनाएं

किसी भी विषय या टॉपिक को अच्छी तरह समझने और उन्हें याद रखने का बेहतरीन तरीका यह है, कि आप अपने नोट्स खुद लिखकर तैयार करें। आपको जैसे ही कोई एक टॉपिक याद होता है, उसे लिखकर दोहराएं। ऐसा करने से आपको आत्म विश्लेषण करने और अपनी तैयारी का स्तर जानने में मदद मिलेगी। लिखकर तैयारी करने से आपको विषयों को अच्छी तरह, लंबे समय तक याद रखने में सहायता मिलेगी। इसीलिए, आपको इस तरीके से हर टॉपिक की प्रैक्टिस करनी जरूरी है। बाद में, आप अपने लिखे हुए नोट्स में से विषयों का आसानी से रिवीजन कर सकते हैं। महत्वपूर्ण इवेंट्स और घटनाओं के फ्लैश कार्ड बनाकर आप अपने रोजमर्रा के काम करते समय उन पर नजर डाल सकते हैं।

पिछले वर्षों के प्रश्न पत्रों का विश्लेषण करें

IPS परीक्षा के उम्मीदवारों के लिए एक और अहम टिप यह है, कि उन्हें UPSC परीक्षा के पिछले वर्षों के क्वेश्चन पेपर इकट्ठे करके उनका विश्लेषण करें। पिछले वर्षों के प्रश्न पत्र हल करने से आपको हर सेक्शन में पूछे जाने वाले टॉपिक और प्रश्नों के प्रकार का अंदाजा मिलेगा। अक्सर इन परीक्षाओं में पिछले वर्षों की परीक्षाओं से मिलते जुलते प्रश्न पूछे जाते हैं, यही कारण है कि आपको इसे अपनी तैयारी में शामिल करना जरूरी है।

हाल ही में टॉप करने वाले छात्रों से सीखें

IPS परीक्षा में सफलता पाने के लिए सिर्फ किताबों के कांसेप्ट समझ लेना काफी नहीं होता। यदि आप भारतीय पुलिस सेवा में अच्छे पदों की जॉब प्राप्त करना चाहते हैं, तो आपको एक्स्ट्रा तैयारी करनी चाहिए। आप उन लोगों से कुछ फायदे मन टिप्स और ट्रिक्स प्राप्त कर सकते हैं, जिन्होंने हाल ही में IPS परीक्षा को क्वालीफाई किया है।

मॉक टेस्ट की प्रैक्टिस करें

किसी भी परीक्षा में सफलता पाने के लिए मुसलसल प्रैक्टिस करते रहना सबसे महत्वपूर्ण होता है। ज्यादा प्रैक्टिस और रिवीजन करने से आपकी चुनी हुई परीक्षा में सफलता पाने के चांस और बढ़ जाते हैं। UPSC सिलेबस की गहराई का अंदाज़ा लगाना कठिन है, इसलिए सभी महत्वपूर्ण कांसेप्ट को मुसलसल रिवाइज करने से आपको हर सेक्शन पर मजबूती मिल जाएगी। आप कोई भी अहम पॉइंट छोड़ने का रिस्क नहीं ले सकते। अपनी जानकारी और सीखने का अंदाजा लगाने के लिए, समय-समय से ऑनलाइन या ऑफलाइन मॉक टेस्ट प्रैक्टिस करते रहें। स्व मूल्यांकन से आप अपनी तैयारी की स्ट्रेटेजी पर अच्छी तरह काम कर सकते हैं।

10वीं के बाद IPS कैसे बने?

10 वीं के बाद हालांकि आईपीएस परीक्षा नहीं दी जा सकती लेकिन आप नीचे दी गयी टिप्स के द्वारा 10 वीं से ही आईपीएस बनने की तैयारी शुरू कर सकते है।

  • सबसे पहले एग्जाम की पूरी जानकारी होना जरूरी है।
  • एग्जाम में आने वाले सिलेबस को समझे ।
  • रणनीति और अध्ययन की सामग्री को इकट्ठा करें ।
  • एकाग्रता के साथ पढ़ाई करें।
  • पढ़ाई के साथ ही साथ लेखन करना भी जरूरी है । 
  • बार-बार मोक टेस्ट दीजिए।
  • रोज़ाना न्यूज़ पेपर और मैगज़ीन पढ़े।

आईपीएस सिलेबस

IPS सिलेबस को दो स्तरों में बांटा गया है:

  1. मुख्य परीक्षा के लिए आवेदकों के चयन के लिए प्रारंभिक परीक्षा (वस्तुनिष्ठ प्रकार)
  2. विभिन्न सेवाओं और पदों के लिए आवेदकों के चयन के लिए मुख्य परीक्षा (लिखित)।

प्रीलिम्स के लिए IPS सिलेबस

पेपर I का Syllabus (सामान्य अध्ययन – I) 1. राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय महत्व की वर्तमान घटनाएं
2. भारत का इतिहास और भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन
3. भारतीय और विश्व भूगोल- भारत और विश्व का भौतिक, सामाजिक, आर्थिक भूगोल
4. भारतीय राजनीति और शासन – संविधान, राजनीतिक व्यवस्था, पंचायती राज, सार्वजनिक नीति, अधिकार मुद्दे, आदि
5. सामान्य विज्ञान 
6. आर्थिक और सामाजिक विकास – सतत विकास, गरीबी, समावेश, जनसांख्यिकी, सामाजिक क्षेत्र की पहल, आदि
7. पर्यावरण पारिस्थितिकी, जैव-विविधता और जलवायु पर सामान्य मुद्दे 
पेपर II के लिए Syllabus (CSAT / सामान्य अध्ययन – II) 1. समझ (Comprehension)
2. संचार कौशल सहित पारस्परिक कौशल
3. तार्किक तर्क और विश्लेषणात्मक क्षमतानिर्णय लेने और समस्या-समाधान
4. सामान्य मानसिक क्षमता
5. बुनियादी संख्यात्मकता (संख्याएं और उनके संबंध, परिमाण के क्रम, आदि) (कक्षा X स्तर ) और डेटा व्याख्या (चार्ट, ग्राफ़, टेबल, डेटा पर्याप्तता, आदि – दसवीं कक्षा स्तर)

आईपीएस मेन्स सिलेबस

पेपर ए – आधुनिक भारतीय भाषाएँ – 300 अंक दिए गए अंशों की समझ, सटीक लेखन उपयोग और शब्दावली लघु निबंध अंग्रेजी से भारतीय भाषा में अनुवाद और इसके विपरीत 
पेपर बी – अंग्रेजी – 300 अंक दिए गए अंशों की समझ, सटीक लेखन उपयोग और शब्दावली लघु निबंध 

IPS पोस्ट की लिस्ट

IPS पोस्ट की लिस्ट नीचे दी गई है:

  • डायरेक्टर जनरल ऑफ़ पुलिस
  • इंस्पेक्टर जनरल ऑफ़ पुलिस
  • डिप्टी इंस्पेक्टर जनरल ऑफ़ पुलिस
  • सीनियर सुपरिन्टेन्डेन्ट ऑफ़ पुलिस
  • एडिशनल सुपरिन्टेन्डेन्ट ऑफ़ पुलिस
  • डिप्टी सुपरिन्टेन्डेन्ट ऑफ़ पुलिस
  • कमिश्नर ऑफ़ पुलिस
  • स्पेशल कमिश्नर ऑफ़ पुलिस
  • जॉइंट कमिश्नर ऑफ़ पुलिस
  • एडिशनल कमिश्नर ऑफ़ पुलिस
  • डिप्टी कमिश्नर ऑफ़ पुलिस
  • एडिशनल डिप्टी कमिश्नर ऑफ़ पुलिस
  • असिस्टेंट कमिश्नर ऑफ़ पुलिस

FAQs

IPS की तैयारी कैसे करे?

IPS की तैयारी करने के लिए टिप्स
-NCERT बुक्स रिफर करें
-रोजाना अखबार पढ़ें
-अपने नोट्स खुद बनाएं
-पिछले वर्षों के प्रश्न पत्रों का विश्लेषण करें
-हाल ही में टॉप करने वाले छात्रों से सीखें
-मॉक टेस्ट की प्रैक्टिस करें

आईपीएस बनने के लिए 12वीं में कितने परसेंट चाहिए?

50% से अधिक

IPS में कौन कौन सी पोस्ट होती है?

IPS पोस्ट:
-जनरल ऑफ़ पुलिस
-इंस्पेक्टर जनरल ऑफ़ पुलिस
-डिप्टी इंस्पेक्टर जनरल ऑफ़ पुलिस
-सीनियर सुपरिन्टेन्डेन्ट ऑफ़ पुलिस
-एडिशनल सुपरिन्टेन्डेन्ट ऑफ़ पुलिस
-डिप्टी सुपरिन्टेन्डेन्ट ऑफ़ पुलिस आदि

आईएएस बनने के लिए कौन सी डिग्री चाहिए?

IPS बनने के लिए ग्रेजुएशन की डिग्री पहली आवश्यकता है।

आईपीएस मेंस में कितने पेपर होते हैं?

IPS मेंस में कुल 9 पेपर होते हैं

हम उम्मीद करते हैं, कि इस ब्लॉग से आपको IPS परीक्षा में कामयाबी पाने की सभी टिप्स और ट्रिक्स पता चल गई होंगी। यदि आप भी विदेश में पढ़ाई करना चाहते हैं, तो आज ही 1800 572 000 पर कॉल करके हमारे Leverage Edu के विशेषज्ञों के साथ 30 मिनट का फ्री सेशन बुक करें। वे आपको उचित मार्गदर्शन के साथ ऊपर दी गई सभी सुविधाएं प्रदान करने में मदद करेंगे।

Leave a Reply

Required fields are marked *

*

*

15,000+ students realised their study abroad dream with us. Take the first step today.
Talk to an expert