ब्रिटिश हाई कमिश्नर: भारतीय छात्रों को एक दिन में यूके का वीज़ा मिल सकता है

1 minute read
36 views
भारतीय छात्रों को एक दिन में मिलेगा यूके का वीज़ा

30 अगस्त 2022 को भारत में ब्रिटिश हाई कमीशन ने यूनाइटेड किंगडम में पढ़ाई करने की योजना बना रहे भारतीय छात्रों के लिए एक एडवाइजरी जारी की है। भारत में ब्रिटिश राजदूत एलेक्स एलिस ने कहा कि यूके का लक्ष्य छात्र वीजा की संख्या में वृद्धि करना है, जो इस साल जून 2022 में बनाए गए रिकॉर्ड को तोड़ने का प्रयास कर रहा है।

एलेक्स एलिस ने यूनाइटेड किंगडम में अगले अकादमिक सेशन के लिए आवेदन करने के उद्देश्य से भारतीय छात्रों के लिए प्रायोरिटी और सुपर प्रायोरिटी वीजा खोलने की घोषणा की। भारत में ब्रिटिश राजदूत ने यह भी कहा कि भारत ब्रिटेन में छात्रों का सबसे बड़ा सोर्स देश है।

एलिस ने अपने वीडियो कॉन्फ्रेंस में कहा कि आप आवश्यक दस्तावेजों के साथ जितनी जल्दी हो सके अपने वीजा के लिए आवेदन करें।

यूके छात्र वीजा- आवश्यक दस्तावेज

यूके छात्र वीजा के लिए आवेदन करने के लिए आवश्यक दस्तावेजों की लिस्ट यहां दी गई है-

  • विश्वविद्यालय से ऑफर लेटर: पढ़ाई के लिए स्वीकृति की पुष्टि होनी आवश्यक है, इसके लिए आपके पास विश्वविद्यालय से ऑफर लेटर प्राप्त होना चाहिए। आपको अपने वीज़ा आवेदन पर ऑफर लेटर का रेफेरेंस नंबर दर्ज करना होगा। आपको अपना CAS प्राप्त करने के 6 महीने के भीतर अपने वीज़ा के लिए आवेदन करना होगा। 
  • TB सर्टिफिकेट: यदि आप यूके में 6 महीने से अधिक समय से आ रहे हैं और इनमें से किसी भी लिस्टेड देश में निवासी हैं तो आपको ट्यूबरक्लोसिस टेस्ट करवाना होगा। 
  • फंडिंग का सबूत: इसमें सरकार, सरकार द्वारा प्रायोजित लोन कंपनी, या एक रेगुलेटेड छात्र लोन स्कीम शामिल है। फंडिंग के सबूत में शामिल होता है आपका अपना पैसा, आपके माता-पिता का पैसा (यदि वे इस बात की पुष्टि करते हुए एक लेटर प्रदान करते हैं कि वे इस तरह से इसका उपयोग करने के लिए सहमत हैं) आपके पार्टनर का पैसा अगर आपका पार्टनर यूके में मौजूद है या उसी समय आवेदन कर रहा है। 

प्रायोरिटी, सुपर प्रायोरिटी वीज़ा क्या है?

यूके वीज़ा और इमिग्रेशन सर्विस ने अब प्रायोरिटी वीज़ा और सुपर प्रायोरिटी वीज़ा सेवा खोल दी है जो पढ़ाई के लिए ब्रिटेन आने के इच्छुक छात्रों के लिए उपलब्ध है। प्रायोरिटी और सुपर प्रायोरिटी वाली वीज़ा सेवाओं में अतिरिक्त लागतें शामिल हैं।

सुपर प्रायोरिटी वीज़ा आमतौर पर 2 दिन में आवेदक को प्राप्त होता है। वहीं आवेदक को प्रायोरिटी वीज़ा 5 दिनों में प्राप्त होता है।

यूके सरकार के अनुसार “यदि आप वीजा आवेदन केंद्र में अपनी आइडेंटिटी वेरीफाई करते हैं और सेवा उस देश में उपलब्ध है जहां से आप आवेदन कर रहे हैं, तो आप आवेदन करते समय ‘प्रायोरिटी सेवा’ चुन सकते हैं। इस सेवा के लिए अतिरिक्त लागत आपसे ली जाएगी।”

यदि छात्र ने वीज़ा आवेदन केंद्र में अपनी नियुक्ति में भाग लिया है या ऑनलाइन आवेदन किया है, तो सामान्य छात्र वीज़ा सेवा में अभी 15 दिनों से लेकर 3 सप्ताह तक की टर्नअराउंड अवधि है।

वीजा दिए जाने के बाद

यदि आपने वीज़ा आवेदन केंद्र पर अपनी पहचान वेरिफाइड की है तो आपके दस्तावेज़ कलेक्शन के लिए तैयार होने पर आपसे संपर्क किया जाएगा।

यदि आपने यूके इमिग्रेशन आईडी चेक ऐप के माध्यम से अपनी पहचान वेरिफाइड की है, और आपका आवेदन सफल रहा है, तो आपको बायोमेट्रिक निवास परमिट (BRP) की आवश्यकता नहीं है। आपकी इमिग्रेशन स्थिति पूरी तरह से ऑनलाइन होगी।

यूके सरकार के अनुसार, यदि आप किसी वीज़ा आवेदन केंद्र में अपनी पहचान वेरीफाई करते हैं, तो आप अपने वीज़ा आवेदन केंद्र से जांच कर सकते हैं कि आप किस देश में हैं, इसके आधार पर आप अपना वीज़ा तेज़ी से प्राप्त कर सकते हैं या अन्य सेवाएं प्राप्त कर सकते हैं।

यूके छात्र वीजा: बायोमेट्रिक निवास परमिट

यदि आप यूके में 6 महीने से अधिक समय से रह रहे हैं और आपने वीज़ा आवेदन केंद्र पर अपनी पहचान वेरिफाइड की है तो आपको अपना बायोमेट्रिक निवास परमिट (BRP) जमा करना होगा। एक बार जब आप यूके में हों तो अपना BRP एकत्र करें।

आपके यूके वीज़ा में देरी क्यों हो सकती है?

-यदि आपके सहायक दस्तावेजों अधूरे हैं। 

-यदि आपको इंटरव्यू ठीक से नहीं गया।

-आपकी व्यक्तिगत परिस्थितियों के कारण (उदाहरण के लिए यदि आप पर आपराधिक आरोप है)

यदि आपने प्रायोरिटी या सुपर प्रायोरिटी वीज़ा के लिए आवेदन किया है और आपका आवेदन सीधा या स्पष्ट नहीं है, तो आपको अधिक प्रतीक्षा करनी पड़ सकती है, लेकिन निर्णय लेने की प्रक्रिया के हर चरण में आपका आवेदन अभी भी लाइन में सबसे आगे रखा जाएगा।

प्रातिक्रिया दे

Required fields are marked *

*

*