मर्चेंट नेवी में करियर कैसे बनाएं ?

2 minute read
515 views
10 shares

मर्चेंट नेवी फोर्स एक विशेष उद्योग है जो पूरी तरह से व्यापारिक अभ्यासों में व्यस्त है, जिसमें समुद्री मार्गों के माध्यम से वस्तुओं और यात्रियों के परिवहन शामिल हैं। “शिपर मरीन” के रूप में उपयुक्त रूप से नामित, मर्चेंट नेवी दुनिया भर में डिलीवरी डिवीजन का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है और किसी भी देश की अर्थव्यवस्था का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है। यह एक विश्वव्यापी उद्योग है जिसमें कुछ राष्ट्र विभिन्न प्रकार के जहाजों पर सहयोग करते हैं। इस ब्लॉग में, आप Merchant Navy me career kaise banayen के विवरण और संभावनाओं के बारे में जानेंगे।

क्षेत्र मर्चेंट नेवी
एंट्रेंस एग्ज़ाम AIMNET,IMU CET,JEE एडवांस्ड ,MARI प्रवेश परीक्षा,TMI SAT
कोर्स B.Tech Marine Engineering,,B.Tech Ship Building,B.B.A. Logistics & Supply Chain Management,BBA Shipping,B.E Marine Engineering आदि।
डिप्लोमा कोर्सिज़ Diploma in Marine Engineering (DME),Diploma in Nautical Science (DNS) आदि।
जॉब प्रोफाइल्स डेक कैडिट,चीफ ऑफिसर,कैप्टन

मर्चेंट नेवी क्या है?

मर्चेंट नेवी कोर्स समुद्री परिवहन के व्यापार प्रभाग की ओर संकेत करती है। इसका सैन्य सहायता में कोई समावेश नहीं है, बल्कि इसके बजाय मालवाहक नौकाओं, बड़े सवारों और लक्जरी जहाजों पर समुद्र के माध्यम से भार और व्यक्तियों को एक जगह से दूसरी जगह लेजाया जाता है। देशों के बीच वर्ल्ड एक्सचेंज के रूप में ओशियन बिज़नेस एसोसिएशन वर्ल्डवाइड इकॉनमी का मूल केंद्र बना हुआ है। व्यवसाय अपवाह और तटवर्ती दोनों तरह से नौकरी के अवसर प्रदान करता है। मर्चेंट नेवी स्कूली शिक्षा पूरी करने के बाद कुछ बेहतरीन करियर विकल्प प्रदान करती है। इन कोर्सिज़ को नॉलेज बढ़ानें और नौसेना बल की पूरी टीम बनाने के लिए डिज़ाइन किया गया है। एक देश से दूसरे देश में वस्तुओं का आदान प्रदान करने के लिए विक्रेता जहाज बड़ी संख्या में मजदूरों का उपयोग करते हैं। इन व्यापारिक जहाज़ों से डील करने वाले विशेषज्ञों को नाविक या नौसैनिक कहा जाता है।

  • डेक डिवीजन/रूट
  • बिल्डिंग ऑफिस
  • इलेक्ट्रो-स्पेशलाइज़्ड ऑफिस
  • स्टीवर्ड ऑफिस / अकोमोडेशन । 

व्यापारी नौसैनिक बल में शामिल होने पर, छात्रों के लिए इन डिवीजनों में से प्रत्येक के बारे में बुनियादी ज्ञान और उनके कार्यालयों के केंद्रीय कर्तव्यों का ज्ञान होना अनिवार्य है। 

ये भी पढ़ें : नेवी की तैयारी कैसे करें ?

मर्चेंट नेवी में कोर्स क्यों करें ?

मर्चेंट नेवी में किसी भी पोस्ट के लिए आपको एक अलग कोर्स और डिग्री की आवश्यकता पढ़ सकती है जिसमें हर एक पोस्ट का अपना एक अलग मज़ा है और फायदें हैं। मर्चेंट नेवी में कोर्स करने के मुख्य फायदों की लिस्ट नीचे दी गयी है –

  • एक मर्चेंट नेवी अफसर बनने पर आपको एक अलग आत्मनिर्भरता का एहसास होगा जो आपको अपने बल पर खुदका जीवन आत्मविश्वास के साथ जीने के लिए प्रेरित करता है।
  • मर्चेंट नेवी में आपको लंबी छुट्टीयां मिलती है जिसे अपने घर जाकर अपने परिवार के साथ समय व्यतीत क्र सकतें हैं।
  • नेवी का भाग होनें के कारण मर्चेंट नेवी आपको अनुशासित और प्रोफेशनल बनाती है जो आपके नीजी जीवन और काम को बैलेंस करने के लिए आवश्यक है।
  • मर्चेंट नेवी की इनकम टैक्स फ्री इनकम मानी जाती है जिसमें उन्हें टैक्स भरने की आवश्यकता नहीं होती।
  • एक मरीन सेवा होने के कारण जिसमें वस्तुओं और व्यक्तियों का एक जगह से दूसरी जगह जाना शामिल है ,आपको जगह जगह जाने और वहां की संस्कृति और लोगों को जान्ने का मौका देता है। यह अनुभव वाकई आपको वर्ल्ड टूअर जैसा प्रतीत होगा।
  • मर्चेंट नेवी अफसर को उनके रोल अनुसार प्रदान की गई यूनिफॉर्म को पहनना अनिवार्य होता है। इस यूनिफार्म का आकर्षण आपको दुनियां में एक अलग इज़्ज़त प्रदान करता है।
  • जगहें बदलने के साथ साथ आपके साथं काम करने वाले व्याक्ति भी बदलते है। जिसमें आपके सीनियर्स भी शामिल हैं। इस प्रोसेस से आपका नेटवर्क बढ़ता है और आप अलग अलग प्रकार के व्यक्तियों से मिलना और उन्हें जानने का अनुभव ले पाते हो।
  • घर से दूर मरीन लाइफ की जॉब आपको आत्मनिर्भर बनाने के साथ साथ ख़ुदको एक्स्प्लोर करने का मौका देती है जिसमें आप अपना जीवन अपनी पसंद और फैसलों के अनुसार जी सकते हैं।

मर्चेंट नेवी के लिए आवश्यक स्किल्स

जैसे हर प्रोफेशन को चुनने से पहले उसके स्किल्स की जानकारी होना आवश्यक है वैसे ही मर्चेंट नेवी को चुनने से पहले आपको निम्नलिखित स्किल्स को ध्यान में रखना ज़रूरी है जिससे आप जान पाएंगे कि इस फील्ड को चुनना आपके लिए एक बेहतर विकल्प है या नहीं –

  • मर्चेंट नेवी कोर्स के लिए अप्लाई कर रहे छात्र का इस फील्ड के प्रति जूनून होना आवश्यक है। जिसमें जलयात्रा शामिल हैं।
  • पानी के प्रति फैमिलियर और रोमांचित रहने की स्किल्स अति आवश्यक है क्योकि आपका सारा समय जलयात्रा में ही गुज़रेगा।
  • असाधारण टीम वर्क स्किल का होना महत्वपूर्ण है। बदलती जगहों के साथ नए लोगों से मिलना और उनके साथ काम करना इस क्षेत्र का हिस्सा है जिसमें टीम वर्क स्किल का होना बहुत ज़रूरी है।
  • समय अनुसार ख़ुदको ढालना और कठिन समय आने पर सही निर्णय लेने की कला आपकी जर्नी आसान कर देगी।
  • एनालिटिकल और लॉजिकल थिंकिंग का होना आवश्यक।
ये भी पढ़ें : पिसकीकलचर में करियर 

मर्चेंट नेवी में करियर कैसे बनाएं स्टेप बाय स्टेप गाइड

मर्चेंट नेवी में करियर बनाने के लिए स्टेप बाय स्टेप गाइड निम्नलिखित है जो आपके मर्चेंट नेवी की तरफ बढ़ रही राहों को आसान बना सकता है और आपकी आने वाली समस्यायों के प्रति आपको जागरूक कर सकता है –

  • बारहवीं की शिक्षा : किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से बारहवीं करना आवश्यक है जिसमें आपके मूल सब्जेक्ट्स फिज़िक्स, केमिस्ट्री और मैथ्स होने चाहिए।
  • स्किल्स पहचानें : मर्चेंट नेवी में अप्लाई कर रहे विद्यार्थी ब्लॉग में दी गई स्किल्स को ध्यान से पढ़ें और ख़ुदको पहचानें। अगर आप यह समझ पाते हैं कि दी गई स्किल्स आपसे ताल्लुक रखती है तो आगे बढ़ें।
  • कोर्स और कॉलेज चुनें :मर्चेंट नेवी में कोर्सिज़ की लिस्ट बनाएं और चुनें गए कोर्स को उपलब्ध करा रही युनिवर्सिटी का पता लगाएं। अपनी सहूलियत के लिए आप एक लिस्ट बना सकते हैं जिसमें आप अपने कोर्स कोर्स, युनिवर्सिटी और कॉलेज को रैंक अनुसार सिस्टम से लिख सकें।
  • वेबसाइट विज़िट करें : चुनी गयी युनिवर्सिटी की ऑफिशियल वेबसाईट को ध्यान से देखें और योग्यताओं पर ध्यान दें।
  • आवेदन प्रक्रिया ध्यान से पढ़ें : युनिवर्सिटी द्वारा दी गई आवेदन प्रक्रिया पर ध्यान दें और रजिस्टर करें।
  • विदेश के लिए आवेदन प्रक्रिया : विदेश की युनिवर्सिटी में अप्लाई कर रहे विद्यार्थी आवेदन प्रक्रिया के सभी स्टेप्स को ध्यान से पढ़ें और फॉलो करें।
  • अन्य ज़रूरी सूचना : आवेदक अविवाहित भारतीय निवासी (पुरुष या महिला) 28 वर्ष की आयु सीमा के भीतर होना चाहिए। साथ ही अच्छी दृष्टि होना आवश्यक माना गया है लेकिन 2.5 तक लेंस क्षमता वाले चश्मे की अनुमति दी जा सकती है। इन दो बातों का ध्यान रखें और अपना सफर जारी रखें।
ये भी पढ़ें : इंजीनियरिंग के बाद कोर्सिज़ 

सब्जेक्ट्स एंड सिलेबस

मर्चेंट नेवी कोर्सिज़ में आने वाले सब्जेक्ट्स और सिलेबस निम्नलिखित हैं –

  • मरीन बॉयलर एंड सिस्टम इंजीनियरिंग
  • मरीटाइम लॉ
  • नवल आर्किटेक्चर
  • मैकेनिक्स ऑफ़ फ्लूइड
  • शिप ऑपरेशन्स टेक्नोलॉजी
  • मरीन ऑग्ज़ियलरि मशीन
  • प्रिंसिपल्स ऑफ़ नैविगेशन
  • मरीन IC इंजीनियरिंग
  • शिपिंग मैनेजमेंट
  • वोयाज प्लानिंग एंड कोलाइज़न प्रिवेंशन
  • मरीन इलेक्ट्रिकल टेक्नोलॉजी
  • नॉटिकल फिज़िक्स एंड इलेक्ट्रॉनिक्स पेपर
  • इलेक्ट्रिकल मशीन्स
  • कार्गो मशीन एंड मरीन कम्युनिकेशन
  • मरीन हीट इंजिन्स एंड एयर कंडीशनिंग
  • मरीन मशीन्स एंड सिस्टम डिज़ाईन
  • एन्वायरमेंटल साइंस
  • STCW एंड शिप फायर प्रिवेंशन
ये भी पढ़ें : ओशियनोग्राफि में करियर 

मर्चेंट नेवी के लिए प्रसिद्ध कोर्सिज़  

मुख्य रूप से साइंस स्ट्रीम में आने वाले, यहां कुछ ऐसे कोर्स हैं जो मर्चेंट नेवी में करियर की सुविधा प्रदान करते हैं:

B.Tech Marine Engineering Diploma in Marine Engineering (DME) Diploma in Nautical Science (DNS) B.Tech Harbour & Ocean Engineering
General Purpose Rating Course MBA Shipping Finance B.Sc Nautical Science B.E Marine Engineering
B.E. Mechanical Engineering B.Tech Ship Building B.E Harbour and Ocean Engineering Electro-Technical Officer Course
B.B.A. Logistics & Supply Chain Management Higher National Diploma (Marine Engineering)  Marine Engineering under Alternate Training Scheme  M.B.A. Shipping & Logistics Management
BBA Shipping Higher National Diploma (Nautical Science)  ETO (Electro-Technical Officer) B.Tech Naval Architecture and Offshore Engineering

मर्चेंट नेवी के लिए टॉप युनिवर्सिटीज़

चूंकि समुद्री व्यापार सभी विकासशील और विकसित देशों की अर्थव्यवस्था का एक अभिन्न अंग है, इसलिए दुनिया भर के शीर्ष विश्वविद्यालयों में विशेष कोर्सिज़ उपलब्ध हैं। यहां कुछ लोकप्रिय विकल्प दिए गए हैं: 

यूनिवर्सिटी राज्य
एडिथ कोवन यूनिवर्सिटी ऑस्ट्रेलिया
आरहुस यूनिवर्सिटी , स्कूल ऑफ़ मरीन एंड टेक्निकल इंजीनियरिंग डेनमार्क
द यूनिवर्सिटी ऑफ़ स्ट्रैथक्लाइड UK
ब्रिटिश कोलम्बिया इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी , पैसिफिक मरीन ट्रेनिंग कैंपस कनाडा
ग्रिफिथ यूनिवर्सिटी ऑस्ट्रेलिया
फ्लीटवुड नॉटिकल कॉलेज UK
हिरोशिमा नैशनल कॉलेज ऑफ़ मरीटाइम टेक्नोलॉजी जापान
ऑस्ट्रेलियन मरीटाइम कॉलेज ऑस्ट्रेलिया
द यूनिवर्सिटी ऑफ़ न्यू ओर्लिन्स USA
मनुकाउ इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी ऑस्ट्रेलिया
ये भी पढ़ें : एक शिप कप्तान कैसे बनें ?

मर्चेंट नेवी के लिए योग्यताएं

Merchant Navy me career kaise banayen  इसके लिए आपको योग्यताएं जानना ज़रूरी है। मर्चेंट नेवी कोर्सिज़ के लिए आवेदन करने के लिए आवेदक को कुछ बुनियादी मानदंड पूरे करने होंगे। यहां उनमें से कुछ हैं:

  • मर्चेंट नेवी कोर्स में शामिल होने के लिए बेसिक क्वालिफिकेशन फिजिक्स, केमिस्ट्री और मैथमेटिक्स के साथ 12वीं पास करना है। यह बैचलर डिग्री और अधिकांश डिप्लोमा पाठ्यक्रमों के लिए लागू है ।
  • आवेदक अविवाहित भारतीय निवासी (पुरुष या महिला) 28 वर्ष की आयु सीमा के भीतर होना चाहिए।
  • अच्छी दृष्टि वांछनीय है लेकिन 2.5 तक लेंस क्षमता वाले चश्मे की अनुमति दी जा सकती है। 
  • विदेश में अपनी बैचलर डिग्री के लिए अप्लाई कर रहे छात्रों का इंग्लिश प्रोफिशिएंसी टेस्ट का स्कोर माईने रखता है। इसमें  IELTS, TOEFL, PTE आदि टेस्ट शामिल हैं। 
  • विदेश में पढ़ने के इच्छा रखने वाले विद्यार्थियों को SOP और  LOR जमा कराना अनिवार्य है। 

नोट : यह योग्यताएं MA इकोनॉमिक्स और उससे जुड़े प्रोग्राम्स के लिए एक बेसिक मापदंड है। आपकी चुनी गई युनिवर्सिटी अनुसार इसमें बदलाव देखने को मिल सकते हैं।  पूर्ती के लिए अपनी चुनी गयी युनिवर्सिटी की ऑफिशियल वेबसाइट को भी विज़िट करें और विस्तार से जानें। 

आवेदन प्रक्रिया 

छात्रों के लिए मर्चेंट नेवी कोर्स में प्रवेश करने के कई तरीके हैं। छात्र अपनी सुविधा के अनुसार और मर्चेंट नेवी में जिस प्रकार की नौकरी चाहते हैं, उसके अनुसार प्रवेश मार्ग चुन सकते हैं। यहाँ कुछ प्रमुख तरीके दिए गए हैं:

  • स्पॉन्सरशिप बेस्ड एंट्री

यदि छात्र समुद्री कार्यक्रमों के लिए जाने-माने संस्थानों में आवेदन करते हैं तो उन्हें मर्चेंट नेवी के पाठ्यक्रमों में प्रायोजित प्रवेश मिल सकता है। वे बड़े समुद्री संगठनों में प्रायोजन के लिए आवेदन कर सकते हैं। यदि ये संगठन छात्रों में क्षमता देखते हैं, तो वे उन्हें शिक्षा के साथ-साथ शिपर नौसेना बल के साथ काम करने के लिए प्रायोजन प्रदान करते हैं।

  • लैटरल एंट्री

समुद्री इंजीनियरिंग कार्यक्रमों में एलई सीटों के बारे में सुनिश्चित करने के दो अलग-अलग तरीके हैं: 

  • मैकेनिकल या इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग के साथ प्रथम वर्ष पूरा करना।
  • लगभग 60% के न्यूनतम स्कोर के साथ संबंधित इंजीनियरिंग पाठ्यक्रमों में डिप्लोमा होना।

भारत में आवेदन प्रक्रिया 

मर्चेंट नेवी में एडमिशन के लिए निम्नलिखित स्टेप्स को फॉलो करना आवश्यक है। यह आवेदन प्रक्रिया आपको आपके मन चाहे कॉलेज में एडमिशन दिलाने के लिए महत्वपूर्ण है-

  • पहले मर्चेंट नेवी से जुड़े सभी कोर्सेज को जानें और अपने लिए एक बेहतर विकल्प चुनें। 
  • उसके बाद कौन से कॉलेजेस आपका चुना कोर्स उपलब्ध करातें है पता लगाएं। 
  • ध्यान से कोर्स और कॉलेज के लिए दी गई योग्यता को पढ़ें। 
  • मर्चेंट नेवी में आपके चुनें विकल्प के लिए देने वाले एंट्रेंस एग्ज़ाम्स का पता लगाएं और आपके कॉलेज द्वारा स्वीकार किया जाने योग्य एग्ज़ाम चुनें। 
  • मर्चेंट नेवी प्रोग्राम के लिए एनरोल कर रहे कैंडिडेट का एंट्रेंस एग्जाम क्लियर करना आवश्यक है क्योकि मास्टर डिग्री देने वाली ज़्यादा तर युनिवर्सिटीज़ और इंस्टिट्यूट्स एंट्रेंस टैस्ट के स्कोर के हिसाब से ही एडमिशन लेते है। 
  • कई युनिवर्सिटीस आपके एंट्रेंस एग्ज़ाम रिज़ल्ट अनुसार डायरेक्ट एडमिशन भी देतीं हैं जबकि कुछ उसके  बाद भी एडिशनल चीज़ों के मुताबिक़ सेलेक्शन किया करतीं हैं जिसमें ज़्यादातर ग्रुप डिस्कशन और पर्सनल इंटरव्यू शामिल होतें हैं। 
  • रिजल्ट आने के बाद,काउंसिलिंग के लिए रजिस्टर करें और प्रोसेस फॉलो करें। 
  • अपने चुनें गए कॉलेज और कोर्स को काउंसिलिंग में सेलेक्ट करें। 
  • रजिस्टर करें और दस्तावेज़ जमा कराएं।

विदेश में आवेदन प्रक्रिया 

विदेश के विश्वविद्यालयों में आवेदन करने वाले अंतरराष्ट्रीय छात्रों को अपनी आवेदन प्रक्रिया का ख़ास ध्यान रखना होगा, नीचे दिए गए स्टेप्स को ध्यान से पढ़ें-

  • कोर्सेज़ और युनिवर्सिटीज़ को शॉर्टलिस्ट करें: आवेदन प्रक्रिया में पहला स्टेप आपके शैक्षणिक प्रोफ़ाइल के अनुसार कोर्सेज़ और युनिवर्सिटीज़ को शॉर्टलिस्ट करना है। छात्र AI Course Finder के माध्यम से कोर्स और युनिवर्सिटी को शॉर्टलिस्ट कर सकते हैं और उन युनिवर्सिटीज़ की एक लिस्ट तैयार कर सकते हैं, जहां उन्हें अप्लाई करना सही लगता है।
  • अपनी समय सीमा जानें: अगला कदम विदेश में उन युनिवर्सिटीज़ और कॉलेजों की समय सीमा जानना है, जिनमें आप आवेदन करने का सोच रहे हैं। अंतर्राष्ट्रीय छात्रों को आवेदन प्रक्रिया के लिए काफी पहले (वास्तविक समय सीमा से एक वर्ष से 6 महीने पहले) ध्यान देना होता है। यह सुनिश्चित करता है कि छात्र कॉलेज की सभी आवश्यकताओं जैसे SOP, सिफारिश के पत्र, फंडिंग / स्कालरशिप का विकल्प और आवास को पूरा कर सकते हैं।
  • प्रवेश परीक्षा लें: विदेशी यूनिवर्सिटीज़ के लिए आवेदन प्रक्रिया के तीसरे स्टेप मे छात्रों को IELTS, TOEFL, PTE और यूनिवर्सिटी क्लिनिकल एप्टीट्यूड टेस्ट (UCAT) जैसे टेस्ट देने होते हैं। इंग्लिश प्रोफिशिएंसी टेस्ट में एक नया Duolingo टेस्ट है जो छात्रों को अपने घरों से परीक्षा में बैठने की अनुमति देता है और दुनिया भर में स्वीकार किया जाता है।
  • अपने दस्तावेज़ कंप्लीट करें: अगला कदम आवेदन प्रक्रिया के लिए सभी आवश्यक दस्तावेज़ो और स्कोर को पूरा करके एक जगह पर संभल लें। इसका मतलब है कि छात्रों को अपना SOP लिखना शुरू कर देना चाहिए, शिक्षकों और सुपरवाइज़र्स से सिफारिश के पत्र प्राप्त करना चाहिए और अपने फाइनेंशियल स्टेटमेंट्स को अन्य दस्तावेज़ों जैसे टेस्ट स्कोरकार्ड के साथ सिस्टेमैटिक तरह से रखलें। COVID-19 महामारी के साथ, छात्रों को अपना वैक्सीन प्रमाणपत्र डाउनलोड करना होगा। 
  • अपने आवेदन करने की प्रक्रिया प्रारंभ करें: एक बार जब आपके पास सभी दस्तावेज़ मौजूद हों, तो छात्र सीधे या UCAS के माध्यम से आवेदन प्रक्रिया शुरू कर सकते हैं। विदेश की युनिवर्सिटीज़ में आवेदन करने वाले छात्र जो सीधे आवेदन स्वीकार करते हैं, वे युनिवर्सिटी वेबसाइट के माध्यम से आवेदन करके शुरू कर सकते हैं। उन्हें कोर्सेज़ का चयन करना होगा, आवेदन शुल्क का भुगतान करना होगा और ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया शुरू करनी होगी।

आवश्यक दस्तावेज़

Merchant Navy me career kaise banayen जानने के साथ साथ उससे जुड़े कोर्स में अप्लाई करने के लिए छात्र को नीचे दिए गए दस्तावेज़ों की आवश्यकता होगी-

  • 10वीं और 12वीं उत्तीर्ण की मार्कशीट। 
  • भारतीय नागरिकता का प्रमाण जिसमें जन्म पत्री या पासपोर्ट हो सकता है। 
  • किसी मान्यता प्राप्त डॉक्टर द्वारा दिया गया ‘फिज़िकल फिटनेस सर्टिफिकेट’
  • कैंडिडेट की 5 पासपोर्ट साइज़ फोटो। 
  • लैंग्वेज टेस्ट स्कोर शीट IELTS, TOEFL आदि। 
  • Statement of Purpose (SOP) जमा कराएं। 
  •  Letters of Recommendation (LORs). जमा कराएं। 

एंट्रेंस एग्ज़ाम

मर्चेंट नेवी में विशेष कोर्सिज़ के लिए आवेदन करने के लिए, छात्रों को आमतौर पर कुछ एंट्रेंस एग्ज़ाम देने की आवश्यकता होती हैं। ये एग्ज़ाम प्रमुख संस्थानों में छात्रों के लिए एक जगह सुनिश्चित करते हैं निम्नलिखित कुछ प्रसिद्ध एंट्रेंस एग्ज़ाम हैं: 

  • AIMNET (ऑल इंडिया मर्चेंट नेवी एंट्रेंस टेस्ट)
  • PGDME (पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन मरीन इंजीनियरिंग)
  • IMU CET
  • JEE एडवांस्ड 
  • MARI प्रवेश परीक्षा
  • TMI SAT
ये भी पढ़ें : नॉटिकल साइंस में डिप्लोमा 

करियर स्कोप

मर्चेंट नेवी में आने वाले छात्रों को उनकी डिग्री पूरी करने के बाद करियर में बहुत से मौके देखने को मिल सकते है। मर्चेंट नेवी में आपकी सैलरी आपकी पोस्ट के मुताबिक़ तय की जा सकती है उसके अलावा आपके पिछले अनुभव को भी मद्दे नज़र रखा जाता है। मर्चेंट नेवी अफसर को आम तौर पर कमर्शियल शिपिंग कंपनीज़ द्वारा हायर किया जाता है। जिसमें समुद्री जहाज़ पर काम करना शामिल है फिर चाहे वो टैंकर्स हो, क्रूज़ लाइनर्स हो या कार्गो शिप्स एक मर्चेंट नेवी अफसर को किसी भी तरह के समुद्री वाहन में भेजा जा सकता है। शुरू में ट्रेनीज़ को डेक कैडेट्स के रूप में काम सौपा जाता है। पोस्ट्स की अगर बात की जाए तो मर्चेंट नेवी में निम्नलिखित पोस्ट्स शामिल होती हैं –

डेक ऑफिसर्स में आने वाली पोज़िशन्स :

  • कप्तान
  • चीफ ऑफिसर
  • सेकेंड ऑफिसर/मेट
  • डेक कैडेट
  • बोसुन
  • एबल सीमैन

इंजीनियरस की श्रेणी में आने वाली पोज़िशन्स :

  • चीफ इंजीनियर
  • सेकेंड इंजीनियर /असिस्टेंट इंजीनियर
  • थर्ड इंजीनियर /सेकेंड अस्सिटेंट इंजीनियर
  • फोर्थ इंजीनियर/ थर्ड अस्सिटेंट इंजीनियर
  • फिफ्थ इंजीनियर/फोर्थ असिस्टेंट इंजीनियर
ये भी पढ़ें : मर्चेंट नेवी जॉब्स 

टॉप रिक्रूटर्स

मर्चेंट नेवी में करियर बनाने वाले छात्रों के लिए टॉप रिक्रूटिंग कंपनीज़ की लिस्ट निम्नलिखित है :

  • निधि मरीटाइम कन्सल्टेन्सी
  • सेकोर मरीन सर्विसेज़
  • ग्लोवल पैसिफिक शिपिंग एंड मरीन सर्विसिज़
  • गोल्डन ओशियन मरीटाइम सर्विसिज़
  • सिनर्जी मरीटाइम रिक्रूटमेंट सर्विसिज़ प्राइवेट लिमिटेड
  • MSC एजेंसी (इंडिया) प्राइवेट लिमिटेड
  • वीरा शिपिंग एंड क्रू मैनेजमेंट सर्विसिज़
ये भी पढ़ें : आर्मी में भर्ती कैसे लें ?

जॉब प्रोफाइल एंड सैलरी

मर्चेंट नेवी कोर्स पूरा करने के बाद वेतन स्थिति, अनुभव और अतिरिक्त शिक्षा पर निर्भर करता है। मर्चेंट नेवी ग्रेजुएट के कुछ करियर और वेतन निम्नलिखित हैं।

जॉब प्रोफ़ाइल औसत सैलरी (प्रतिमाह)
डेक कैडिट INR 25,000 to 85,000
3rd ऑफिसर / 2nd ऑफिसर INR 1,50,000 to 3,00,000 
चीफ ऑफिसर INR 4,00,000 to 6,00,000 
कैप्टन INR 8,65,000 to 20,00,000 

FAQs

मर्चेंट नेवी में कितने कोर्स होते हैं?

नॉटिकल साइंस तीन तथा मरीन इंजीनियरिंग चार वर्ष की अवध‍ि का कोर्स है। यदि आप 10वीं पास करने के बाद मर्चेंट नेवी में करियर बनाने के इच्छुक हैं, तो प्री-सी ट्रेनिंग फॉर पर्सोनेल, डेक रेटिंग, इंजन रेटिंग, सलून रेटिंग जैसे डिप्लोमा कोर्स कर सकते हैं। ये सभी कोर्स 3 से 4 माह की अवध‍ि के हैं।

मर्चेंट नेवी में कितने साल की नौकरी होती है?

दो वर्षीय डिप्लोमा पाठ्यक्रमों के लिए, उम्मीदवारों को कम से कम 50 प्रतिशत अंकों के साथ इलेक्ट्रॉनिक्स इंजीनियरिंग / मरीन इंजीनियरिंग / मैकेनिकल इंजीनियरिंग / इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग / शिपबिल्डिंग इंजीनियरिंग में डिप्लोमा उत्तीर्ण होना चाहिए।

मर्चेंट नेवी की भर्ती कब आती है?

इसकी भर्ती हर साल होती है 10वी,12 वी और ग्रेजुएशन वालो के लिए अलग-अलग पोस्ट निकलती है यह फिक्स नही होता है कि भर्ती कब आएगी .

क्या नेवी में लड़कियां जा सकती हैं?

जीं हां, लडकियां / महिलाएं नेवी में नौकरी प्राप्त कर सकती है.

नेवी में क्या करना पड़ता है?

यदि आप इंडियन नेवी में भर्ती होना चाहते हैं तो आपको NDA का एग्जाम पास करना आवश्यक है। NDA एग्जाम देने के लिए आपको 12th पास होना चाहिए तथा 12th में 60% होना आवश्यक है। एनडीए का एंट्रेंस एग्जाम साल में दो बार होता है। एनडीए का एंट्रेंस एग्जाम यूपीएससी द्वारा आयोजित किया जाता है।

इंडियन नेवी में कितने पद होते हैं?

कुल 300 पदों पर होगी भर्ती।
अनुमान है कि 300 रिक्तियों (Join Indian Navy) के लिए लगभग 1500 उम्मीदवार लिखित परीक्षा और फिजिकल फिटनेस टेस्ट में शामिल हो सकते हैं। आवेदन करने से पहले यहां दी गई जानकारी को ध्यान से पढ़ें।

उम्मीद है आपको हमारा ‘Merchant Navy me career kaise banayen’ पर ब्लॉग पसंद आया होगा। यदि आप विदेश में MA करना चाहते हैं तो हमारे Leverage Edu के एक्सपर्ट्स से 1800572000 पर कांटेक्ट कर आज ही 30 मिनट्स का फ्री सेशन बुक कीजिए।

Leave a Reply

Required fields are marked *

*

*

10,000+ students realised their study abroad dream with us. Take the first step today.
Talk to an expert