कोलेट्रल के बिना एजुकेशन लोन

1 minute read
908 views
Education Loan without Collateral

अच्छी शिक्षा के लिए हजारों छात्र विदेश जाते हैं। मगर विदेश जाकर पढ़ाई करने में होने वाले खर्चे का बोझ अक्सर छात्रों के सपने तोड़ देता है, लेकिन इस खर्चे को कम करने का काम एजुकेशन लोन आसानी से कर देते हैं और कई सपने पूरे हो जाते हैं। इस जरूरत को समझते हुए कई सारे संस्थान अब हर वर्ग के छात्रों को सहयोग करने की कोशिश कर रहे हैं। कोलेट्रल के बिना एजुकेशन लोन, ऐसा लोन है, जिसमें उन छात्रों को भी लोग मिल जाता है। जिनके पास कोलेट्रल में ऑफर करने के लिए संपत्ति नहीं है। इसके साथ आर्थिक तौर पर कमजोर तबके के छात्रों के लिए एजुकेशन लोन लेना आसान हो जाता है।

एजुकेशन लोन के फायदे

समय बदलने के साथ शिक्षा महंगी होती जा रही है और उच्च शिक्षा भी इससे अछूती नहीं है। इसलिए आम भारतीय परिवारों के लिए विदेशी धरती पर जाकर उच्च शिक्षा लेना काफी कठिन हो गया है। ऐसे लोगों की जरूरतों को पूरा करने के लिए वित्त संस्थान कई तरह के एजुकेशन लोन के साथ आगे आए हैं। यहां एजुकेशन लोन लेने के कुछ फायदों के बारे में बताया जा रहा है:

  • एजुकेशन लोन आपकी बचत को कम नहीं होने देते हैं। इनके साथ आप अपनी बचत को भविषय के कामों जैसे रिटायरमेंट और शादी आदि के लिए सुरक्षित रख सकते हैं। 
  • एजुकेशन लोन आमतौर पर शिक्षा पर हुए कुल खर्चे का 90 प्रतिशत तक वहन कर लेते हैं। इस खर्चे में ट्यूशन फीस, किताबें, यात्रा, प्रोजेक्ट, लाइब्रेरी, यूनिफॉर्म, परीक्षा का खर्चा आदि शामिल होता है। 
  • एजुकेशन लोन का प्रबंधन छात्रों में पैसों को लेकर अनुशासन का संचार करता है। 
  • आप ब्याज पर असीमित टैक्स कटौती की घोषणा भी कर सकते हैं। जिसको आपने आयकर एक्ट के सेक्शन 80 ई के अंतर्गत 8 सालों तक भुगतान किया है। 

कोलेट्रल के बिना एजुकेशन लोन

किसी भी नॉर्मल लोन की तरह बैंक एजुकेशन लोन के लिए भी अमाउट की सिक्योरिटी के तौर पर कोलेट्रल की मांग रखती हैं, ताकि अगर किसी वजह से लोन का भुगतान रुक जाए तो इन कोलेट्रल का इस्तेमाल कंपनी एमाउंट रिकवर करने के लिए कर सकें। कोलेट्रल में कई चीजें शामिल होती हैं, जैसे कोई संपत्ति, जमीन, घर, फिक्स्ड डिपॉजिट और इंश्योरेंस कॉर्पस (insurance corpus) आदि। जिन एजुकेशन लोन में इस तरह के किसी भी कोलेट्रल की जरूरत नहीं होती है, उनको कोलेट्रल के बिना एजुकेशन लोन Education Loan Bina Collateral Ke या असुरक्षित एजुकेशन लोन कहते हैं। ज्यादातर बार ऐसे लोन में ब्याज दर काफी हाई होता है या फिर भुगतान की प्रक्रिया काफी सख्त होती है। 

Education Loans for Abroad Studies

एजुकेशन लोन के लिए योग्यता

एजुकेशन लोन के लिए योग्यता के बारे में जानना उतना ही जरूरी है, जितना इस लोन के लिए डॉक्युमेंट्स इकट्ठा करना। रीपेमेंट का तरीका, ब्याज दर और अपर लिमिट हर बैंक के हिसाब से अलग हो सकती है लेकिन कुछ आम शर्तें सभी जगह एक सी ही होती हैं। इसलिए एजुकेशन लोन के लिए जरूरी योग्यता के कुछ बेसिक नियमों को पहचान लीजिए:

  • उम्मीदवार को भारत का नागरिक होना चाहिए। 
  • छात्र के साथ एक को-अप्लीकेंट भी होना चाहिए। को-अप्लीकेंट आपके माता-पिता, भाई-बहन या पति-पत्नी भी हो सकते हैं। 
  • 7.5 लाख रुपए से ज्यादा लोन के लिए कोलेट्रल जरूरी हो जाता है। 
  • छात्र का शैक्षणिक रिकॉर्ड बहुत अच्छा होना चाहिए।
  • छात्र का किसी भी मान्यताप्राप्त विश्वविद्यालय या विदेशी कॉलेज में एडमिशन सुरक्षित हो गया होना चाहिए। 

एजुकेशन लोन की लिस्ट 

भारत में सर्वश्रेष्ठ एजुकेशन लोन बैंक की एक सूची तैयार की है, जो आपको अपने ख्वाबों की यूनिवर्सिटी तक पहुंचाने में मदद कर सकते हैं।

बैंक भारतीय यूनिवर्सिटीज़ के लिए स्टूडेंट लोन इंटरेस्ट विदेश में पढ़ने के लिए स्टूडेंट लोन इंटरेस्ट 
एक्सिस बैंक 13.70% 13.70%
बैंक ऑफ बड़ौदा 7.70% 8.35%
बैंक ऑफ इंडिया 9.05% 9.05%
कनारा बैंक 8.50% 8.50%
सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया 8.50% 8.50%
फेडरल बैंक 10.05% 10.05%
IDBI बैंक 6.90% 8.40%
इंडियन ओवरसीज़ बैंक 10.65% 10.65%
पीएनबी 7.05% 10.65%
स्टेट बैंक ऑफ इंडिया 7.00% 8.80%
यूको बैंक 9.30% 9.30%
यूनियन बैंक ऑफ इंडिया 8.40% 8.05%

एजुकेशन लोन के प्रकार

भारतीय बैंकों द्वारा कई अलग-अलग प्रकार के एजुकेशनल लोन प्रदान किये जाते हैं, जो विभिन्न प्रकार के एजुकेशन प्रोग्राम के लिए दिए जाते हैं। आपके कोर्स के आधार पर डिप्लोमा और सर्टिफिकेट कोर्स के लिए छात्र लोन, स्किल आधारित कोर्स के लिए छात्र लोन, विदेश में पढ़ाई करने के लिए छात्र लोन दिए जाते हैं।

लोकेशन के आधार पर एजुकेशन लोन 

  • डोमेस्टिक एजुकेशन लोन – यह लोन सिर्फ देश की भौगोलिक सीमा के अंदर स्थित कॉलेज या यूनिवर्सिटी में पढ़ाई करने  के लिए दिया जाता है। 
  • विदेश में पढ़ाई के लिए एजुकेशन लोन – यह विदेश में पढ़ाई करने के लिए दिया जाता है। 

कोर्स के आधार पर एजुकेशनल लोन  

  • उच्च शिक्षा ऋण
  • डिप्लोमा अध्ययन ऋण
  • व्यावसायिक पाठ्यक्रमों के लिए ऋण

संपार्श्विक ( कोलेट्रल ) या गारंटी की सुरक्षा के आधार पर एजुकेशन लोन 

  • सुरक्षित ऋण
  • असुरक्षित ऋण

कोलेट्रल या सिक्योरिटी का नहीं होना

कोलेट्रल के बिना मिलने वाले कई तरह के लोन हैं, क्योंकि बहुत से लोगों के पास सिक्योरिटी नहीं होती है. देश के कई संस्थान कोलेट्रल के बिना एजुकेशन लोन Education Loan Bina Collateral Ke देते हैं। अगर आपको भी ऐसा लोन चाहिए, तो आपको कुछ बातें ध्यान रखनी होंगी। 

  • अगर आप 4 लाख तक का लोन किसी सरकारी बैंक से ले रहे हैं, तो आपको कोई कोलेट्रल नहीं देना होगा 
  • RBI के नियमानुसार अगर सारे मानदंड पूरे हो रहे हैं, तो देश के सभी बैंकों को 7.5 लाख रुपए तक का एजुकेशन लोन कोलेट्रल के बिना (education loan bina collateral ke)  देना होगा।
  • जो लोग 7.5 लाख रुपए से ज्यादा का लोन लेना चाहते हैं, उनको प्राइवेट या NBFCs का रुख करना होगा. क्योंकि ये संस्थान 50 लाख रुपए तक का लोन कोलेट्रल के बिना Education Loan Bina Collateral Ke देते हैं। 

कोलेट्रल के बिना एजुकेशन लोन

  • अप्लीकेशन फॉर्म जमा करना: इसको ऑनलाइन और ऑफलाइन, दोनों तरह से जमा किया जा सकता है।
  • जनरल डॉक्युमेंट्स: 
    • पासपोर्ट फोटो
    • निवास प्रमाण पत्र
    • फोटो पहचान पत्र
  • शैक्षिक योग्यता प्रमाण पत्र:
    • 10वीं और 12 वीं की मार्कशीट
    • स्नातक की मार्कशीट (अगर लागू हो तो)
  • एडमिशन प्रूफ: ये एडमिशन का आधिकारिक ऑफर होता है, जिसमें बताया गया होता है कि इस छात्र को यूनिवर्सिटी में एडमिशन दिया गया है। इसमें सीट के लिए जरूरी डिपॉजिट के साथ इस ऑफर को दिए जाने के लिए जरूरी शर्तों के बारे में भी बताया जाता है।
  • को-अप्लीकेन्ट के पिछले 8 महीने के बैंक स्टेटमेंट  
  • को-अप्लीकेन्ट का आय प्रमाणपत्र 
  • कोलेट्रल की जानकारी (अगर है तो)

कोलैटरल संबंधित दस्तावेज

आमतौर पर कोलेट्रल श्रेणी के लिए आवेदक से निम्न डॉक्युमेंट्स (Education Loan Documents in Hindi)  की मांग की जाती है-

जमा पर ऋण

  • आवर्ती जमा/सावधि जमा की मूल रसीद  
  • आवर्ती जमा/सावधि जमा का ब्याज स्टेटमेंट 

अचल संपत्ति पर ऋण (संपत्ति/घर/जमीन)

  • रखरखाव बिल/टैक्स के साथ अभी की संपत्ति का टैक्स स्टेटमेंट
  • सेल डीड/ प्रॉपर्टी डीड
  • सोसाइटी/बिल्डर से एनओसी
  • म्युनिसिपल कॉर्पोरेशन या किसी दूसरी सरकारी अथॉरिटी से एलॉटमेंट लेटर

सिक्योरिटीज/शेयर और डिबेंचर पर ऋण

  • पैनकार्ड कॉपी
  • डी-मैट एकाउंट स्टेटमेंट

कोलेट्रल के बिना एजुकेशन लोन लेने के विकल्प

2021 में कोलेट्रल के बिना एजुकेशन लोन Education Loan Bina Collateral Ke लेने के बेस्ट विकल्प ये रहे- 

इंक्रेड (Incred)

इंक्रेड फाइनेंशियल सेर्विसेज (Incred Financial Services) एक नॉन बेंकिंग फाइनेंशियल कॉर्पोरेशन है, जो रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (Reserve Bank of India) के साथ रजिस्टर्ड है। ये संस्थान 40 लाख रुपए तक का एजुकेशन लोन कोलेट्रेल के बिना Education Loan Bina Collateral Ke देता है। इंक्रेड कई देशों जैसे कनाडा, फ्रांस, नीदरलैंड, यूएसए, जर्मनी, सिंगापुर, आयरलैंड और ऑस्ट्रेलिया की 700 यूनिवर्सिटी को कवर करता है।

ऑक्जिलो (Auxilo)

ऑक्जिलो (Auxilo) आवेदक की जरूरत के हिसाब से विदेश में पढ़ाई के लिए लोन देता है। ये असुरक्षित लोन Education Loan Bina Collateral Ke भी ऑफर करता है, जिनका आंकलन स्टूडेंट के हुनर और योग्यता के आधार पर किया जाता है। इस वक्त कुछ खास फैक्टर्स जैसे यूनिवर्सिटी एडमिशन, पुराने रिकॉर्ड और टेस्ट स्कोर्स आदि को देखा जाता है. कंपनी की ओर से लोन की उच्च सीमा और खर्चों को लेकर कोई शर्त नहीं रखी जाती हैं।

एचडीएफसी क्रेडिला (HDFC Credila)

एचडीएफसी क्रेडिला से कोलेट्रल के बिना Education Loan Bina Collateral Ke 20 लाख रुपए से कम का एजुकेशन लोन लिया जा सकता है। एचडीएफसी क्रेडिला एक एचडीएफसी लिमिटेड कंपनी है, जो भारत में एजुकेशन लोन देने वाली कुछ शुरुआती कंपनियों में से एक है। ये नो मार्जिन मनी के साथ 100 प्रतिशत लोन कवर देती है। इसके साथ 10 साल की भुगतान अवधि और दूसरी सुविधा भी मिलती है। 

विदेश में मास्टर्स अध्ययन के लिए केसी महिंद्रा छात्रवृत्ति

ये के सी महिंद्रा एजुकेशन ट्रस्ट की ओर से पोस्टग्रेजुएट स्टूडेंट्स के लिए चलाई जाने वाली एक प्रतियोगी स्कॉलरशिप्स स्कीम है। अवार्ड के तौर पर उन छात्रों को ब्याज रहित लोन स्कॉलरशिप्स Education Loan Bina Collateral Ke मिलती है, जिनको विदेशी यूनिवर्सिटी में एडमिशन मिल गया है।

ज्ञानधन

ज्ञानधन (Gyandhan) शिक्षा से जुड़ा संस्थान है, जो छात्रों और उनसे जुड़े उधारदाताओं के लिए बाजार का काम करता है. इनकी कई सारे फाइनेंशियल इंस्टीट्यूशन से साथ भागीदारी भी है। कोलेट्रेल के बिना एजुकेशन लोन Education Loan Bina Collateral Ke चाहने वाले छात्रों के लिए ज्ञानधन ब्याज दरों के शुल्क, पुनर्भुगतान संरचना, मार्जिन मनी, छिपी हुई फीस जैसे फैक्टर्स के आंकलन में मदद करता है। ये किसी भी सर्विस के लिए चार्ज नहीं करता है। 

एवान्स

एवान्स (Avanse) एक शिक्षा पर केन्द्रित नॉन बेंकिंग फाइनेंशियल कंपनी है, जो दुनियाभर के 40 देशों की 100 से ज्यादा यूनिवर्सिटीज में पढ़ने के लिए छात्रों को कोलेट्रल के बिना एजुकेशन लोन Education Loan Bina Collateral Ke देती है। ये छात्रों को 100 प्रतिशत ट्यूशन फी कवरेज, रहने-खाने से जुड़े खर्चे और आंशिक यात्रा के खर्चों को कवर करता है। इन लोन को एप्रूव करने से पहले गहरी जांच की जाती है।  

प्रोडिगी फाइनेंस

11 साल पहले शुरू की गई प्रोडिगी फाइनेंस एक अंतरराष्ट्रीय एजुकेशन फाइनेंसिंग कंपनी है, जो छात्रों को विदेश जाकर पोस्ट ग्रेजुएट शिक्षा लेने के लिए लोन देती है। ये एक खास कंपनी है, जो कोलेट्रल के बिना एजुकेशन लोन Education Loan Bina Collateral Ke पर ही फोकस करती है। ये लोन का आंकलन करने के लिए एडमिशन ऑफर और भविष्य में कमाई की संभावनाओं को ध्यान में रखती है। 

पंजाब नेशनल बैंक प्रतिभा एजुकेशन लोन

ये सिर्फ उन मेधावी छात्रों के लिए है, जो भारत के अच्छे संस्थानों से उच्च शिक्षा लेना चाहते हैं। ऐसे छात्रों को पीएनबी बैंक प्रतिभा स्कीम ऑफर करता है, जो छात्र बिजनेस, इंजीनियरिंग, मेडिकल या किसी दूसरे कोर्स को करना चाहते हैं। उनको ये बैंक 4 लाख रुपए से कम का बिना कोलेट्रल का एजुकेशन लोन Education Loan Bina Collateral Ke  देती है। छात्रों को ये लोन 15 साल के अंदर देना होता है और इस लोन में माता-पिता का को-अप्लीकेंट होना भी जरूरी है। 

SBI लोन फॉर वोकेशनल एजुकेशन एंड ट्रेनिंग

वो छात्र जो वोकेशनल फील्ड में कोर्स करके करियर बनाना चाहते हैं, उनके लिए ये स्कीम बेस्ट है। अगर कोर्स की अवधि 6 महीने से कम है, तो छात्रों को 50000 रुपए तक का लोन मिल सकता है। यही कोर्स अगर 1 साल या इससे ज्यादा की अवधि का है, तो ये एमाउंट 1 लाख रुपए तक हो सकता है. इस स्कीम में कोई भी प्रोसेस चर्जिंग नहीं है और मातापिता को-बॉरोअर हो सकते हैं।

एक्सिस बैंक एजुकेशन लोन

ये उन छात्रों के लिए बेस्ट है, जो विदेश जाकर पढ़ने के लिए कोलेट्रल के बिना एजुकेशन लोन (education loan bina collateral ke)  लेना चाहते हैं। ऐसे छात्र मार्जिन और कोलेट्र्ल के बिना 4 लाख तक का लोन ले सकते हैं। आवेदक को ये पता होना चाहिए कि इस स्कीम में कोलेट्र्ल की जरूरत वैकल्पिक और विषय परक है। अगर पढ़ाई के बाद नौकरी की सुरक्षा नहीं है और भुगतान में दिक्कत आ सकती है, तब ही कोलेट्र्ल की मांग की जाती है। 

लिवरेज फाइनेंस एजुकेशन लोन

आप Leverage Finance की मदद से विदेश में पढ़ाई करने के लिए अपने कोर्स और विश्वविद्यालय के अनुसार एजुकेशन लोन भी पा सकते हैं। 

एजुकेशन लोन कैलकुलेटर

एजुकेशन लोन कैलकुलेटर आपको यह जानकारी देता है कि आपको EMI के तौर पर हर महीने कितने पैसे देने होंगे। इस कैलकुलेटर में आपको लोन की राशि, ब्याज दर और लोन टाइम पीरियड डालना होता है। इसके बाद यह कैलकुलेटर आपको बताएगा कि आपको कितनी EMI देनी होगी। आपको यह भी जानकारी मिलेगी आपको कुल मिलाकर कितने ब्याज का भुगतान करना होगा।

FAQ

कौनसी बैंक से एजुकेशन लोन लेना सही है सरकारी या प्राइवेट ?

आप सरकारी या निजी दोनों में से किसी भी बैंक से लोन ले सकते है, यह निर्भर करता है आपको कितना लोन चाहिए और किस ब्याज दर पर चाहिए। जो कंडीशन को फुल फील करती हो आप उस बैंक से लोन ले सकते हैं। 

एजुकेशन लोन के लिए ब्याज दर क्या है?

हर बैंक की ब्याज दर अलग-अलग है जैसे PNB की 9.45-11%, SBI की 10.50%(0.50% less for girls), BOI की 10.90%, HDFC की 14%आदि है। 

मुझे कितने समय में लोन वापस चुकाना होगा?

लोन वापस चुकाने की समयावधि हर बैंक की अलग-अलग होती है। लेकिन सामान्यत: 15 वर्ष में लोन वापस चुकाना होता है। 

मुझे कितनी राशि तक का लोन मिल सकता है?

आपको सामान्यत: 20 लाख से 1 करोड़ तक का लोन मिल सकता है। इसके अलावा यह आपके दस्तावेज पर भी निर्भर करता है। 

कोलेट्रल के बिना एजुकेशन लोन Education Loan Bina Collateral Ke 21वीं सदी की एक अनोखी पहल है, जो हजारों छात्रों को अपने सपने पूरे करने में मदद कर रही है। यदि आप विदेश में पढ़ाई करना चाहते हैं, तो हमारे Leverage Edu एक्सपर्ट्स के साथ 30 मिनट का फ्री सेशन 1800 572 000 पर कॉल कर बुक करें।

Leave a Reply

Required fields are marked *

*

*

15,000+ students realised their study abroad dream with us. Take the first step today.
Talk to an expert