CMS ED Course Details in Hindi : जानिए CMS ED कोर्स के बारे में

2 minute read
CMS ED course details in hind

कोई भी स्टूडेंट जो कम समय में स्वास्थ्य सेवा के क्षेत्र में आकर लोगों की सेवा करना चाहता है तो वह एलोपैथी से जुड़ा कोर्स कर सकता है। एक एलोपैथिक बनकर ग्रामीण क्षेत्र में उपचार कर सकते है। ग्रामीण क्षेत्र में हेल्थकेयर सर्विसेज पहुंचाने के लिए WHO और सुप्रीम कोर्ट ऑफ इंडिया ने CMS & Ed कोर्स को मान्यता दी है। CMS & ED (सीएमएस & ईडी) कोर्स 18 महीने का डिप्लोमा पाठ्यक्रम है जिसे कंप्लीट करने के बाद आप अपने करियर को उड़ान दे सकते हैं। इस ब्लाॅग में हम CMS ED Course Details in Hindi के बारे में विस्तार से जानेंगे।

कोर्सCMS & Ed
कोर्स लेवलडिप्लोमा
कोर्स अवधि18 माह या 2 साल
योग्यता12वीं पास
एडमिशन प्रोसेस12वीं के अंक 
जाॅब प्रोफाइल्सकम्युनिटी हेल्थ वर्कर, हेल्थ फिजिशियन, जनरल फिजिशियन आदि।
प्रमुख संस्थानमेवाड़ यूनिवर्सिटी कॉलेज ऑफ पैरामेडिकल साइंस, मनसा इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल एंड हेल्थ साइंसेज,आर्यव्रत पारा चिकित्सा शिक्षा बोर्ड, एम एस ग्रुप ऑफ इंस्टीट्यूशंस एंड चैरिटेबल हॉस्पिटल आदि।

CMS & Ed कोर्स क्या है?

CMS & Ed एक डिप्लोमा कोर्स है जो कि गांवों में दवाइयों के उपयोग से हेल्थकेयर सर्विसेज की मजबूती के लिए तैयार किया गया है। इस कोर्स को WHO (वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन) और सुप्रीम कोर्ट ने मान्यता दी है, इस कोर्स को करने के बाद कोई भी एलोपैथी मेडिसिन की प्रैक्टिस कर सकता है। इस कोर्स में एलोपैथिक दवाइयों के प्रयोग और कई बीमारियों का इलाज करना सिखाया जाता है। इसे डिस्टेंस लर्निंग और रेगुलर बेसिस पर कर सकते हैं।

Source: LEARN ABOUT MEDICINE

CMS & Ed कोर्स क्यों करें?

CMS ED Course Details in Hindi क्यों के बारे में नीचे बताया गया है-

  • समय की बचत- CMS & Ed कोर्स डिप्लोमा कोर्स है और यह 18 माह में पूरा हो जाता है। अन्य मेडिकल कोर्सेज की तुलना में इस कोर्स में कम समय लगता है।
  • अच्छा वेतन- CMS & Ed कोर्स करने वाले कैंडिडेट्स को अच्छी सैलरी मिलती है और वह अपना खुद का भी क्लीनिक खोल सकते हैं। 
  • करियर का अच्छा अवसर- इस कोर्स को पूरा करने के बाद आप एलोपैथिक मेडिसिन की प्रैक्टिस कर ग्रामीण क्षेत्रों में उपचार कर सकते हैं। साथ ही सामुदायिक, स्वास्थ्य कार्यकर्ता, ग्रामीण चिकित्सा अधिकारी, सामान्य चिकित्सक आदि सरकारी नौकरियों के लिए अप्लाई कर सकते हैं।

CMS & Ed कोर्स की फुल फाॅर्म क्या है?

CMS & Ed कोर्स की फुल फाॅर्म (Community Medical Services & Essential Drug) और सामुदायिक स्वास्थ्य सेवाएं एवं आवश्यक औषधि है। 

CMS & Ed कोर्स की अवधि क्या है?

CMS & Ed कोर्स की अवधि 18 माह की है। यह कोर्स 6-6 माह के 3 सेमेस्टर में विभाजित किया गया है। कई इंस्टीट्यूट रेगुलर बेसिस पर यह कोर्स 2 वर्ष में पूरा कराते हैं। इसमें इंटर्नशिप भी शामिल है। 

CMS ED Course Medicine List in Hindi

CMS ED Course in Hindi में CMS ED कोर्स मेडिसिन लिस्ट इस प्रकार हैः

  • पेनिसिलिन
  • अमोक्सिसिलिन
  • एम्पीसिलीन
  • जेंटामीसिन
  • टेट्रासाइक्लिन
  • क्लोरैम्फेनिकोल
  • अट्रोपिन
  • को-ट्राइमोक्साज़ोल
  • सल्फाडिमिडीन
  • सल्फोन
  • रिफैम्पिसिन कैप्सूल
  • क्लोफ़ाज़िमिन टैबलेट
  • आइसोनायाज़िड टैबलेट
  • थियासिटाज़ोन
  • पाइराज़ीनामिड टैबलेट
  • ट्यूबरकुलोसिस टैबलेट
  • सुमाग मरहम
  • बोरोग्लिसरीन
  • आयोडेक्स मरहम
  • कोरेक्स खांसी की सिरप
  • डेक्सट्रोज़
  • टोबरामाय्सिन
  • ग्रिसेओफुल्विन टैबलेट
  • स्ट्रेप्टोमाइसिन आदि।

CMS & Ed कोर्स करने के लिए फीस

किसी भी कोर्स के लिए इंस्टिट्यूट्स की ओर से फीस निर्धारित की जाती है। CMS ED Course Fee in Hindi यहां बताई जा रही हैः

  • रेगुलेर बेसिस- 1 लाख से 1.20 लाख तक। 
  • डिस्टेंस लर्निंग- 60,000 हजार से 80,000 तक।
CMS ED Course Details in Hindi

CMS & Ed कोर्स के लिए भारत के टाॅप काॅलेज और यूनिवर्सिटीज

CMS ED Course Details in Hindi के लिए भारत के टाॅप इंस्टिट्यूट्स की लिस्ट इस प्रकार हैः

  • जेवियर इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज
  • एम एस ग्रुप ऑफ इंस्टिट्यूट
  • एम.एस.ए. डॉल्फिन नर्सिंग और फार्मेसी कॉलेज
  • एनएलपी ग्रुप ऑफ इंस्टीट्यूशंस
  • मेवाड़ यूनिवर्सिटी कॉलेज ऑफ पैरामेडिकल साइंस
  • मनसा इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल एंड हेल्थ साइंसेज
  • आर्यव्रत पारा चिकित्सा शिक्षा बोर्ड
  • एम एस ग्रुप ऑफ इंस्टीट्यूशंस एंड चैरिटेबल हॉस्पिटल
  • साई इंस्टीट्यूट ऑफ पैरामेडिकल साइंसेज।

CMS & Ed कोर्स करने के लिए योग्यता क्या है?

CMS ED Course Details in Hindi के लिए योग्यता नीचे बताई गई है-

  • स्टूडेंट को 10+2 पास होना चाहिए। यदि आप साइंस स्ट्रीम से 12वीं पास करते हैं तो आपके लिए और अच्छा है। 
  • यदि कैंडिडेट ने डिग्री हासिल की है या फिर मेडिकल प्रोफेशनल हैं और एलोपैथिक मेडिसिन की प्रैक्टिस करना चाहते हैं तो भी यह कोर्स कर सकते हैं।
  • इस कोर्स को करने के लिए आयु सीमा निर्धारित नहीं है। 

CMS & Ed कोर्स करने के लिए आवेदन प्रक्रिया क्या है?

CMS ED Course Details in Hindi के लिए भारतीय इंस्टिट्यूट या यूनिवर्सिटीज में आवेदन प्रक्रिया नीचे बताई गई है-

  • अपने चुने हुए इंस्टिट्यूट या यूनिवर्सिटी की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर रजिस्ट्रेशन करें।
  • यूनिवर्सिटी की वेबसाइट पर रजिस्ट्रेशन के बाद आपको एक यूजर नेम और पासवर्ड प्राप्त होगा।
  • फिर वेबसाइट में साइन इन के बाद अपने चुने हुए कोर्स का चयन करें जिसे आप करना चाहते हैं।
  • अब शैक्षिक योग्यता, वर्ग आदि के साथ आवेदन फॉर्म भरें।
  • इसके बाद आवेदन फॉर्म जमा करें और आवश्यक आवेदन शुल्क का भुगतान करें। 
  • यदि एडमिशन, प्रवेश परीक्षा पर आधारित है तो पहले प्रवेश परीक्षा के लिए रजिस्ट्रेशन करें और फिर रिजल्ट के बाद काउंसलिंग की प्रतीक्षा करें। प्रवेश परीक्षा के अंको के आधार पर आपका चयन किया जाएगा और लिस्ट जारी की जाएगी।

CMS & Ed कोर्स करने के लिए आवश्यक दस्तावेज

CMS ED Course Details in Hindi के लिए आवश्यक दस्तावेजों की लिस्ट नीचे प्वाइंट्स में दी गई है-

CMS & Ed कोर्स के लिए बेस्ट बुक्स

CMS ED Course Details in Hindi के लिए कुछ बुक्स नीचे दी गई हैं जो CMS & Ed कोर्स से जुड़े टाॅपिक्स समझने में मदद करेंगी-

बुक्सराइटर-पब्लिशरलिंक
Handbook of C.M.S. & E.D.Dr. Mukesh Nagarयहां से खरीदें
General Practice GuideDr Amritesh Kumar यहां से खरीदें
Chikitsa Guide For General Medical Practitioners Kailash Banjara यहां से खरीदें
Human Body – Brain And Nervous System: Knowledge Encyclopedia For ChildrenWonder House Booksयहां से खरीदें
360 Degree Postural MedicineBiswaroop Roy Chowdhury यहां से खरीदें

CMS & Ed कोर्स के बाद करियर स्कोप

CMS & Ed कोर्स के बाद भारत में नौकरी के बहुत अवसर उपलब्ध हैं। आप प्राइवेट व सरकारी जॉब करने के साथ खुद का भी क्लीनिक खोल सकते हैं। नीचे कुछ टाॅप रिक्रूटर्स की लिस्ट दी गई है-

  • प्राइवेट हाॅस्पिटल्स
  • गवर्मेंट हाॅस्पिटल्स-पीएचसी एंड सीएचसी आदि।
  • जेनेरिक मेडिकल स्टोर
  • प्राइमरी हेल्थ क्लीनिक।

CMS & Ed कोर्स के बाद जाॅब प्रोफाइल्स और सैलरी

इस कोर्स को करने के बाद किसी भी शहर में अपना खुद का उपचार केंद्र खोल सकते हैं। किसी सरकारी या प्राइवेट हॉस्पिटल में जाॅब कर सकते हैं। यहां कुछ जाॅब प्रोफाइल्स और उनकी सैलरी के बारे में बताया जा रहा हैः

रूरल मेडिकल ऑफिसर5 से 6 लाख तक
कम्युनिटी हेल्थ वर्कर3.50 लाख से 5 लाख तक
हेल्थ फिजिशियन3 लाख से 12.80 लाख तक
जनरल फिजिशियन6.50 लाख से 10 लाख तक
असिस्टेंट फार्मासिस्ट6 लाख से 8.50 लाख तक।

FAQs

भारत में CMS & Ed कोर्स कितने वर्ष का होता है?

उत्तर- 18 माह से 2 वर्ष तक।

CMS & Ed कोर्स की फुल फाॅर्म क्या है?

उत्तर- CMS & Ed कोर्स की फुल फाॅर्म Community Medical Services & Essential Drug है।

क्या CMS & ED कोर्स करने के बाद डॉक्टर बनते हैं?

उत्तर-  CMS & ED कोर्स करने के बाद एक उपचार चिकित्सक रहेंगे। WHO की गाइडेंस के आधार पर ही काम कर पाएंगे।

क्या CMS & ED कोर्स करने बाद अपना उपचार केंद्र खोल सकते है?

उत्तर- CMS & ED कोर्स करने उपचार केंद्र खोल सकते हैं, लेकिन हाॅस्पिटल नहीं खोल सकते हैं।

आशा है कि आपको इस ब्लाॅग CMS ED Course Details in Hindi कोर्स के बारे में पूरी जानकारी मिल गई होगी। यदि आपको यह ब्लॉग पसंद आया है तो इसे अपने परिवार और दोस्तों के साथ शेयर ज़रूर करें। ऐसे ही कोर्सेज से जुड़े ब्लॉग्स पढ़ने के लिए Leverage Edu के साथ बने रहें।

प्रातिक्रिया दे

Required fields are marked *

*

*

17 comments
    1. शिवम जी आपका प्रश्न स्पष्ट नहीं है। इस कोर्स कंप्लीट करने के बाद आप एलोपैथिक मेडिसिन की प्रैक्टिस कर ग्रामीण क्षेत्रों में उपचार कर सकते हैं और कोर्स से जुड़ी ज्यादा जानकारी https://leverageedu.com/blog/hi/cms-ed-course-details-in-hindi/ से ले सकते हैं। धन्यवाद।

      1. मजीद जी, इस कोर्स को WHO (वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन) और सुप्रीम कोर्ट ने मान्यता दी है, इस कोर्स को करने के बाद कोई भी एलोपैथी मेडिसिन की प्रैक्टिस कर सकता है।

      1. ओम प्रकाश जी कोर्स की अवधि को तो आपको कंप्लीट करना होगा, हालांकि अगर आपको मेडिकल की फील्ड का अनुभव है तो कोर्स और अन्य चीजें समझने में आपको आसानी हो जाएगी।

      1. ओम प्रकाश जी कोर्स की अवधि को तो आपको कंप्लीट करना होगा, हालांकि अगर आपको मेडिकल की फील्ड का अनुभव है तो कोर्स और अन्य चीजें समझने में आपको आसानी हो जाएगी।