ACT कोर्स सिलेबस

1 minute read
140 views
Leverage-Edu-Default-Blog

12वीं के बाद विदेश से अपनी पढ़ाई करने का सपना लगभग हर छात्र का होता है। अक्सर बच्चे सही नॉलेज न होने की वजह से कई सुनहरे मौके हाथ से गंवा बैठते हैं। जिससे उनका सपना, सपना बनकर ही रह जाता है और उन्हें अंत में अपने आसपास ही किसी कॉलेज से अपनी पढ़ाई पूरी करनी पड़ती है। अगर आप भी उन छात्रों में से हैं जो विदेश में अपनी पढ़ाई करना तो चाहते है परंतु आपके पास पूरी नॉलेज नहीं है कि वह विदेश में कैसे पढ़ाई करें। ACT एक ऐसी परीक्षा है जिसके माध्यम से छात्र अमेरिका के अच्छे विश्वविद्यालयों में एडमिशन ले सकता है। ACT कोर्स सिलेबस के बारे में इस ब्लॉग में बताया गया है। यदि आपके पास इस ब्लॉग से संबंधित कोई सुझाव हैं तो नीचे कमैंट्स सेक्शन में अपनी राय दें।

ACT की फ़ुल फॉर्म अमेरिकन कॉलेज टेस्टिंग
मोड पेपर-आधारित और कंप्यूटर-आधारित टेस्ट
पात्रता हाई स्कूल के छात्रों के लिए
अवधि राइटिंग पेपर के लिए 175 मिनट+40 मिनट अतिरिक्त
प्रश्नों के प्रकार  MCQ
नेगेटिव मार्किंग नहीं
परीक्षा शुल्क लेखन के साथ: USD 50.50 ( INR 3,769 )बिना लिखे: USD 67 ( INR 5,000 )
आयु सीमा 13 साल से ऊपर का कोई भी व्यक्ति
सेक्शन की संख्या 4 (राइटिंग सेक्शन ऑप्शनल है) 

ACT कोर्स क्या है? 

ACT की फ़ुल फॉर्म अमेरिकन कॉलेज टेस्टिंग होती है। अमेरिका में लगभग सारी यूनिवर्सिटी अलग-अलग एजुकेशनल बैकग्राउंड से आने वाले छात्रों के लिए एक स्टैंडर्ड टेस्ट आयोजित करती है। इसके ज़रिए यूनिवर्सिटीज विद्यार्थियों की नॉलेज को और उनकी योग्यता को टेस्ट करती है। इसके अलावा विद्यार्थियों को इंग्लिश टेस्ट भी देना होता है। इस टेस्ट में प्राप्त अंकों के आधार पर ही विद्यार्थी अपने स्कूल और कॉलेज का चयन कर सकते हैं।

अमेरिका की यूनिवर्सिटीज में ग्रेजुएट या अंडर ग्रेजुएट कोर्स में एडमिशन पाने के लिए विदेशी छात्रों को एक या एक से अधिक स्टैंडर्डाइज्ड टेस्ट देना होता है। जब बच्चे एडमिशन के लिए फॉर्म भरते हैं तो उसमें इस टेस्ट के अंक लिखने अनिवार्य होते हैं। इंटरनेशनल कॉलेज होने के कारण छात्रों की अंग्रेजी को इसके द्वारा परखा जाता है।

ACT कोर्स सिलेबस

भारत में ACT कोर्स सिलेबस में 4 सेक्शन शामिल हैं: रीडिंग, विज्ञान, गणित और अंग्रेजी। इसके अलावा, एक राइटिंग सेक्शन है जिसमें छात्रों को 40 मिनट के आवंटित समय में एक निबंध लिखना होता है। प्रत्येक खंड को 1 से 36 अंकों पर स्कोर किया जाता है। ACT कोर्स का सामान्य सिलेबस इस प्रकार है:

सेक्शन प्रश्नों के प्रकार शामिल विषय
इंग्लिश मल्टीपल एस्से या पैसेज सेंटेंस स्ट्रक्चर एंड फॉर्मेशन, पंक्चुएशन, इंग्लिश यूसेज
गणित ग्राफ, चार्ट्स, फॉर्मूला बेस्ड आदि अलजेब्रा, नंबर एंड क्वांटिटी, फंक्शंस, जिओमेट्री, स्टैटिसटिक्स एंड प्रोबेबिलिटी आदि। 
रीडिंग लॉन्ग पैसेज या शॉर्ट प्रोज़   इन्फ्रेंसेस एंड कंक्लुजन लॉजिकल रीजनिंग, रीजनिंग इंटरप्रिटेशन आदि। 
साइंस टेबल एंड ग्राफ, डायग्राम, मल्टीपल चॉइस क्वेश्चन (MCQs), साइंटिफिक फिनोमिना क्वेश्चन  बायोलॉजी, केमिस्ट्री, अर्थस्पेस/ स्पेस साइंस (e.g जियोलॉजी, एस्ट्रोनॉमी, और मीटरोलॉजी और फिजिक्स 
राइटिंग एस्से राइटिंग

ACT एग्जाम पैटर्न

ACT टेस्ट के ज़रिए विद्यार्थी के इंग्लिश, मैथ्स, साइंस रीडिंग के ज्ञान को जांचा जाता है। ACT का टेस्ट 3 घंटे का होता है। कुल मिलाकर 215 प्रश्न होते हैं। प्रश्न MCQ में होते हैं। इस परीक्षा में किसी भी प्रकार की नेगेटिव मार्किंग नहीं होती है, इसलिए अगर बच्चों की राइटिंग स्किल अच्छी है तो उनके हाथ में 40 मिनट एक्स्ट्रा होता है।

सब्जेक्ट सब-सेक्शन प्रश्नों की संख्या
मैथमेटिक A. प्रि- अलजेब्रा 
B. एलिमेंट्री अलजेब्रा
C. इंटरमीडिएट अलजेब्रा
D. कोऑर्डिनेट ज्योमेट्री
E. प्लेन जमेट्री
F. ट्रिग्नोमेट्री
60 MCQs
रीडिंग A. सोशल स्टडीज
B. नेचुरल साइंस
C. फिक्शन और ह्यूमैनिटीज
40 (4 पैसेज)
साइंस A. डाटा रिप्रेजेंटेशन (ग्राफ और टेबल) 
B. रिसर्च समरी
C. कनफ्लिक्टिंग व्यू प्वाइंट
40
इंग्लिश यूसेज या मैकेनिक 
A. पंक्चुएशन
B. ग्रामर एंड यूसेज 
C. सेंटेंस स्ट्रक्चर
रहेट्रिकल स्किल्स
A. स्ट्रेटजी
B. ऑर्गनाइजेशन स्टाइल
75
ऑप्शनल राइटिंग टेस्ट 1 राइटिंग प्रोम्ट
कुल 4 सेक्शन (1 ऑप्शनल)  215

ACT कोर्स की तैयारी के लिए टिप्स 

ACT कोर्स सिलेबस की तैयारी के लिए कुछ टिप्स इस प्रकार हैं:

  • परीक्षा के लिए उपस्थित होने की तिथि चुनने से 3 महीने पहले परीक्षा के लिए रजिस्ट्रेशन करने के लिए रिकमेंड किया जाता है।
  • अपने सिलेबस को अच्छी तरह से चेक करें। 
  • खूब सेल्फ स्टडी करें। 
  • सम्पूर्ण समझ विकसित करने के लिए पिछले वर्षों के प्रश्न पत्रों को हल करें।
  • ACT परीक्षा की तैयारी पूरी तरह से लक्ष्य पर निर्भर करती है, लेकिन विद्यार्थी को 80 से 100 घंटे तक के प्रिपरेशन की आवश्यकता होती है। विद्यार्थी ऑफिशियल ACT की तैयारी के लिए गाइड का उपयोग कर सकते हैं। ACT परीक्षा की तैयारी करने के लिए बहुत ज़्यादा रिसोर्स की आवश्यकता नहीं है।
  • Premium ACT Prep Courses ACT स्कोर सुधारने के लिए यह बहुत ही अच्छा ऑनलाइन पोर्टल है जहां पर विद्यार्थी ACT परीक्षा के लिए तैयारी कर सकते हैं। यहां से आप अच्छे ट्रिक्स और टेक्निक्स को सीख सकते हैं जो आपके पोटेंशियल को बढ़ाता है।
  • विद्यार्थी एक्ट की परीक्षा देने से पहले उसके लिए प्रैक्टिस करना चाहता हैं, तो विद्यार्थी ऑफिशियल प्रैक्टिस टेस्ट ACT पर जाकर कई सारे टेस्ट के नमूने को देख सकता है और उससे प्रैक्टिस कर सकता है।

FAQs

ACT शुल्क भारतीय रुपया में कितना होता है?

ACT एग्ज़ाम फीस USD 155 (INR 11,571) (ओरल) और USD 166.50 (INR 12,429) (रिटन) है।

ACT के लिए सबसे अच्छा अंक कितना होना चाहिए?

आम तौर पर, 24 या उससे अधिक का स्कोर अच्छा होता है। यह आपको 74वें पर्सेंटाइल में डाल देगा, जिससे आप एक्ट स्कोर पर्सेंटाइल में एक स्टैंडआउट बन जाएंगे। दूसरे शब्दों में, आपका 24 का स्कोर सभी परीक्षार्थियों के 74 प्रतिशत से बेहतर है।

ACT क्या है? 

ACT की फ़ुल फॉर्म अमेरिकन कॉलेज टेस्टिंग होती है। अमेरिका में लगभग सारी यूनिवर्सिटी अलग-अलग एजुकेशनल बैकग्राउंड से आने वाले छात्रों के लिए एक स्टैंडर्ड टेस्ट आयोजित करती है। इसके ज़रिए यूनिवर्सिटीज विद्यार्थियों की नॉलेज को और उनकी एलिजिबिलिटी को टेस्ट करती है। इसके अलावा विद्यार्थियों को इंग्लिश टेस्ट भी देना होता है। इस टेस्ट में प्राप्त अंकों के आधार पर ही विद्यार्थी अपने स्कूल और कॉलेज का चयन कर सकते हैं।

आशा करते हैं कि ACT कोर्स सिलेबस के इस ब्लॉग से आपको जानकारी प्राप्त हुई होगी। यदि विदेश में पढ़ना चाहते हैं तो आज ही 1800 572 000 पर कॉल करके Leverage Edu के विशेषज्ञों के साथ 30 मिनट का फ्री सेशन बुक करें। वे आपको उचित मार्गदर्शन के साथ आवेदन प्रक्रिया में भी आपकी मदद करेंगे।

प्रातिक्रिया दे

Required fields are marked *

*

*

15,000+ students realised their study abroad dream with us. Take the first step today. Study Abroad
Talk to an expert