वृद्धि संधि : परिभाषा, प्रकार, नियम और उदाहरण

1 minute read
वृद्धि संधि

संधि, हिंदी व्याकरण के महत्वपूर्ण विषयों में से एक है। इसका शाब्दिक अर्थ है- मेल। यानी दो वर्णों के परस्पर मेल से जो परिवर्तन होता है, उसे संधि कहा जाता है। संधि में पहले शब्द के अंतिम वर्ण या ध्वनि और दूसरे शब्द के प्रथम वर्ण या ध्वनि का मेल होने पर एक अलग स्वर बनता है। इसी प्रकार इस लेख में हम आपको वृद्धि संधि के बारे में विस्तार से बताएंगे, जिसमें आपको इसकी परिभाषा , नियम, प्रकार और उदाहरण बताये जाएंगे।

जैसे-

  • हिम + आलय = हिमालय
  • विद्या + आलय = विद्यालय
  • सत् + आनन्द = सदानन्द

हिमालय दो शब्द हिम और आलय से मिलकर बना है। पहला शब्द हिम का अंतिम वर्ण ‘म‘ है और ‘म‘ वर्ण (म् + अ) से मिलकर बना है इसलिए हिम का अंतिम वर्ण ‘अ‘ है दूसरा शब्द (आलय) का पहला वर्ण ‘आ‘ है । जब अ + आ मिलता तो ‘आ‘ बनता है और ‘आ‘ की मात्रा लगती है इसलिए हिम्(अ) + (आ)लय = हिमालय

वृद्धि संधि

यदि ‘अ’/ ‘आ’ के साथ ए/ ऐ आये तो ‘ऐ’ और ओ/ औ आये तो औ बन जाता है। इस प्रकार बनने वाले शब्दों को वृद्धि संधि कहा जाता है।

  • जब अ,आ के साथ ए,ऐ हो तो “ऐ” बनता है।
  • जब अ,आ के साथ ओ,औ हो तो ” औ” बनता है।

वृद्धि संधि में (अ + ए = ऐ ) के उदाहरण

वृद्धि संधि में (अ + ए = ऐ )के उदाहरण आप नीचे दी गयी तालिका में देखे सकते हैं:-

विश्व + एकता  विश्वैकता
तत्र + एव  तत्रैव
प्रिय + एषी प्रियैषी
वित्त + एषणा वित्तैषणा
मत + एकता मतैकता

वृद्धि संधि में (अ + = ऐ ) के उदाहरण

वृद्धि संधि में (अ + ऐ = ऐ )के उदाहरण आप नीचे दी गयी तालिका में देखे सकते हैं:-

धन + ऐश्वर्य धनैश्वर्य
जन + ऐश्वर्य जनैश्वर्य
ज्ञान + ऐक्य ज्ञानैक्य
स्व + ऐच्छिक स्वैच्छिक
लोक + ऐश्वर्य लोकैश्वर्य

वृद्धि संधि में (आ + = ऐ ) के उदाहरण

वृद्धि संधि में (आ + ऐ = ऐ ) के उदाहरण आप नीचे दी गयी तालिका में देखे सकते हैं:-

महा + ऐश्वर्य महैश्वर्य
राजा + ऐश्वर्य राजैश्वर्य
गंगा + ऐश्वर्य गंगैश्वर्य
टिका + ऐत टिकैत 
रमा + ऐश्वर्य रमैश्वर्य

वृद्धि संधि में (आ + ए = ऐ ) के उदाहरण

वृद्धि संधि में (आ + ए = ऐ) के उदाहरण आप नीचे दी गयी तालिका में देखे सकते हैं:-

सदा + एव सदैव
तथा + एव तथैव
यथा + एव यथैव
सर्वदा + एव सर्वदैव
महा + एषणा महैषणा

वृद्धि संधि में (अ + ओ = औ) के उदाहरण

वृद्धि संधि में (अ + ओ = औ) के उदाहरण आप नीचे दी गयी तालिका में देखे सकते हैं:-

जल + ओघ जलौघ
जल + ओस जलौस
जल + ओक जलौक
परम + ओजस्वी परमौजस्वी
वन + ओकस वनौकस

वृद्धि संधि में (अ + औ = औ) के उदाहरण

वृद्धि संधि में (अ + औ = औ) के उदाहरण आप नीचे दी गयी तालिका में देखे सकते हैं:-

वीर + औदार्य वीरौदार्य
ज्ञान + औषधि ज्ञानौषधि
मंत्र + औषधि मंत्रौषधि
प्र + औधोगिकी प्रौधोगिकी
जल + औषधि जलौषधि

वृद्धि संधि में (आ + ओ = औ) के उदाहरण

वृद्धि संधि में (आ + ओ = औ) के उदाहरण आप नीचे दी गयी तालिका में देखे सकते हैं:-

महा + ओज महौज
महा + ओजस्वी महौजस्वी
गंगा + ओघ गंगौघ
महा + ओघ महौघ
गंगा + ओक गंगौक

वृद्धि संधि में ( आ +औ = औ) के उदाहरण

वृद्धि संधि में (आ+औ = औ) के उदाहरण आप नीचे दी गयी तालिका में देखे सकते हैं:-

महा + औषधि महौषधि
वृथा + औदार्य वृथौदार्य
यथा + औचित्य यथौचित्य
मृदा + औषधि मृदौषधि
महा + औत्सुक्य महौत्सुक्य

आशा करते हैं कि इस ब्लॉग से आपको वृद्धि संधि के बारे में जानकारी प्राप्त हुई होगी। संधि से जुड़े हुए अन्य महत्वपूर्ण और रोचक ब्लॉग पढ़ने के लिए Leverage Edu के साथ बने रहिए।

प्रातिक्रिया दे

Required fields are marked *

*

*