Mobile Apps Development Courses

2 minute read
310 views
Mobile Apps Development Courses

आज-कल के लाइफ में मोबाइल फोन बेहद जरूरी है. बच्चों से लेकर बुजुर्ग तक लगभग हर कोई इसका इस्तेमाल करता है. यही वजह है कि सेल फोन और टैबलेट के इस्तेमाल के लिए रोज नए-नए एप्लिकेशन आ रहे हैं. इससे मोबाइल एप्लिकेशन डिजाइनर्स की जरूरत बढ़ गई है. मोबाइल ऐप डेवलपमेंट को सेल फोन, टैबलेट और इसी तरह के अन्य गैजेट्स के लिए प्रोडक्ट बनाने से जुड़ी प्रक्रियाओं के तौर पर समझा जा सकता है. यही वजह है कि मोबाइल एप्लिकेशन डेवलपमेंट कोर्सेज (Mobile Apps Development Courses) युवाओं में लगातार पॉपुलर हो रहा है. वेब एप्लीकेशन डेवलपमेंट की तरह ही मोबाइल डेवलपमेंट प्रोग्रामिंग भी डेवलपमेंट उद्योग का एक हिस्सा माना जाने लगा है. इस ब्लॉग में हम कई मोबाइल एप्लिकेशन डेवलपमेंट कोर्सेज (Mobile Apps Development Courses) से जुड़ी जरूरी जानकारी और इसके स्कोप के बारे में आपको बता रहे हैं.

ऑनलाइन पढ़ाई कैसे करे

ओवरव्यू (Overview)

मोबाइल एप्लिकेशन डेवलपमेंट कोर्सेज  एक एडवांस फील्ड है जो इकोनॉमी में बेहद क्रिएटिव फील्ड माना जाने लगा है. यह आज के टेक्नोलॉजी मार्केट का वर्तमान और भविष्य तय करता है. हर रोज होने वाली नई खोजों की वजह से बाजार में आने वाले नए गैजेट एक बेहतरीन विकल्प बन रहे हैं. मोबाइल एप्लिकेशन डेवलपमेंट कोर्सेज  आपको नए प्रोडक्ट्स के लिए कोडिंग लैंग्वेज, प्रोग्रामिंग और जरूरी सॉफ्टवेयर की टेक्नोलॉजी को सिखाता है.

हालांकि, मार्केट में पहले से ही कई मोबाइल एप्लिकेशन मौजूद हैं, लेकिन इन सभी कोर्सेज  का उद्देश्य स्टूडेंट्स को नए गैजेट्स को बेहतर बनाने और हमारे जीवन को सरल बनाने का हुनर देना है. साइबर सिक्युरिटी और एप्लिकेशन डेवलपमेंट के क्षेत्र में करियर की शुरुआत करने से आपको एक अच्छा पैसा भी मिलेगा और इकोनॉमी भी मजबूत होगी। ये मोबाइल एप्लिकेशन डेवलपमेंट कोर्सेज  का एक खास मकसद है। 

50 Education Quotes हिंदी में

मोबाइल एप्लिकेशन डेवलपमेंट कोर्सेज  के सब्जेक्ट्स (Subjects Covered)

मोबाइल एप्लिकेशन डेवलपमेंट कोर्सेज  एक बड़ा और कई सब्जेक्ट वाला मॉड्यूल है, इसमें कंप्यूटर एप्लिकेशन और टेक्नोलॉजी की दुनिया के तमाम पहलुओं को ध्यान में रखा जाता है। इन कोर्सेज  वर्क में मीडिया डिजाइन, ऐप डिप्लॉयमेंट, मार्केटिंग और कई प्लेटफार्म पर एप्लीकेशन प्रमोशन आदि शामिल है. इसके साथ ही आपको मान्यता प्राप्त डिग्री भी दी जाएगी. कोर्सेज  में आने वाली चुनौतियों के लिए स्टूडेंट्स को इन विषयों के बारे में जानना जरूरी है. कई मोबाइल एप्लिकेशन डेवलपमेंट कोर्सेज  में शामिल विषयों की एक सूची नीचे दी गई है.

Factors in Developing Mobile Applications More on UIs 
Intents and Services Storing and Retrieving Data
Communications Via Network and the Web Telephony
Notifications and Alarms Graphics
Multimedia Security and Hacking
Platforms and Additional Issues Location

टेलीफोनी(Telephony)

मोबाइल एप्लिकेशन डेवलपमेंट कोर्सेज  की बात करें तो टेलीफोनी एक नई तकनीक है, जिसमें आवाज, फैक्स या अन्य डेटा का इलेक्ट्रॉनिक ट्रांसमिशन किया जाता है. ये आमतौर पर फोन के फ्रेमवर्क का इस्तेमाल कर स्पीकर या ट्रांसमीटर और कलेक्टर दोनों को जोड़कर हैंडहेल्ड गैजेट से किया जाता है.पर्सनल कंप्यूटर आने के बाद और फोन फ्रेमवर्क पर कंप्यूटराइज्ड डेटा के ट्रांसमिशन और फोन सिग्नल को ट्रांसमिट करने के लिए रेडियो का इस्तेमाल शुरू होने के बाद कम्युनिकेशन और मीडिया ट्रांसमिशन में अंतर कर पाना मुश्किल है। 

Lokoktiyan in Hindi (लोकोक्तियाँ)

मल्टीमीडिया (Multimedia)

कोई भी विजुअल, जो ऑडियो, वीडियो या इमेज का मिश्रण हो, उसे मल्टीमीडिया के रूप में जाना जाता है. टेक्स्ट की तुलना में इंटरएक्टिव मीडिया अधिक जानकारी देता है. इसके साथ ही यह जानकारियों को प्रभावी, आकर्षक और दिलचस्प बनाने में मदद करता है. पिछले कुछ सालों में मल्टीमीडिया का लगातार विकास हो रहा है. इसी वजह से यह टेक्नोलॉजी की दुनिया में एक बड़ा क्षेत्र बन गया है और इस में एक जरूरी सब्जेक्ट है

सिक्योरिटी और हैकिंग(Security and Hacking)

अप्रूवल के साथ फ्रेमवर्क सिक्योरिटी को बाइपास कर पोटेंशियल इन्फॉर्मेशन को निकालना और सिस्टम में खतरों का पता लगाना एथिकल हैकिंग कहलाता है. जिन संस्थानों के पास फ्रेमवर्क या सिस्टम है, वह साइबर सिक्युरिटी आर्किटेक्ट्स को अपने फ्रेमवर्क की सिक्योरिटी को टेस्ट करने की अनुमति देते हैं. इसलिए, यह मोबाइल एप्लिकेशन डेवलपमेंट कोर्सेज  में एक बहुत जरूरी विषय है क्योंकि इसकी मदद से सिक्योर और हैक करने में मुश्किल ऐप तैयार हो पाएंगे

जैसे-जैसे मोबाइल डेवलपमेंट कंपनियां पॉपुलर हो रही हैं, वैसे-वैसे कई नए मोबाइल एप्लिकेशन डेवलपमेंट कोर्सेज  मैनस्ट्रीम में आ रहे हैं. मोबाइल एप्लिकेशन डेवलपमेंट कोर्सेज  कंप्यूटर और इन्फॉर्मेशन टेक्नोलॉजी के क्षेत्र में स्पेशलाइजेशन प्रदान करते है. स्टूडेंट्स को मोबाइल एप्लिकेशन डेवलपमेंट कोर्सेज  के लिए जरूरी जानकारी और इस क्षेत्र में आगे बढ़ने के लिए नीचे कुछ कोर्सेज  दिए गए हैं. 

Level Courses
Diploma – Diploma in user experience design
– Electrical and computer engineering
– Software technology.
– Mobile application development (certificate course)
– Software and app development
– HND web and app development
– Diploma in software development
-Advanced diploma in computer science technology
– Certificate in computing
– Graduate diploma in-game and app production
-diploma in digital humanities
Bachelor’s – Computer science with specialization– Btech in information technology– B.E in artificial intelligence– Bsc(Hons) software engineering– Bachelors of commerce-Bachelors of computer science– Bachelors of creative media production– Computing and web development– Bachelors of product design– Digital media-independent game production
Master’s – Mtech in computer science– M.E in AI– Mtech in information technology– MSc in advanced computing data structure– Mtech in digital media business– Msc in applied computer science– Masters in digital marketing– Msc in computer engineering– Mphil in computer science– Advanced software engineering– Masters in Animation

ये यूनिवर्सिटीज जो मोबाइल एप्लिकेशन डेवलपमेंट कोर्सेज  कराती है (Universities offering Mobile Apps Development Courses)

मोबाइल एप्लिकेशन डेवलपमेंट कोर्सेज  करने का निर्णय लेने के बाद, अगला महत्वपूर्ण कदम यह तय करना होता है कि किस यूनिवर्सिटी में दाखिला लिया जाए. बड़ी संख्या में यूनिवर्सिटी हैं जो इस क्षेत्र में कोर्सेज  कराते हैं. नीचे कुछ प्रमुख यूनिवर्सिटी के नाम दिए गए हैं जो आपको डेवलपमेंट कोर्सेज करने की योजना बनाते समय ध्यान में रखना चाहिए.

स्किल्स और जवाबदेही (Mobile Application Developer Skills and Responsibilities)

टेक्नोलॉजी के इस्तेमाल में आए उछाल के साथ ही मोबाइल एप्लिकेशन डेवलपमेंट कोर्सेज  की मांग भी तेजी से बढ़ रही है. पोर्टेबल एप्लिकेशन डिजाइनरों के काम करने की क्षमताओं की एक लंबी सूची है. जिसमें मोबाइल एप्लिकेशन डेवलपमेंट के क्षेत्र में सफल होने के लिए जरूरी स्किल्स भी शामिल हैं. नीचे कुछ प्रमुख स्किल्स दिए गए हैं जिनको इस क्षेत्र में अपना करियर शुरू करने से पहले सीखना जरूरी है. 

  • मोबाइल एप्लिकेशन डिजाइनरों को ऑब्जेक्ट ऑरिएन्टेड प्रोग्रामिंग (Object oriented Programming) लैंग्वेज जैसे जावा, Objective-C और C++ की अच्छी पकड़ होनी चाहिए.
  • मोबाइल ऐप डेवलपर को कम से कम एक टॉप पोर्टेबल OS पर काम करने से संबंधित स्किल होना चाहिए.
  • जब कभी भी जरूरत हो, तो एप्लिकेशन इंजीनियरों को एप्लिकेशन प्रोग्रामिंग इंटरफेस (API का इस्तेमाल करना आना चाहिए.
  • मोबाइल एप्लिकेशन इंजीनियरों को कोडिंग कीवर्ड की जानकारी के साथ ही नए आइडिया को समझने और एप्लिकेशन कोडिंग में बेहतर टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल करने आना चाहिए.

मोबाइल एप्लिकेशन डेवलपर्स के जॉब के लिए नीचे दिए गए रोल पर पकड़ होना जरूरी है.

  • एप्लिकेशन डिजाइनर को कोड, टेस्ट, इन्वेस्टिगेट, स्क्रीन और कई एप्लिकेशन के बदलाव को सुरक्षित करना आना चाहिए.
  • मोबाइल एप्लिकेशन डिजाइनर को मौजूदा वेब एप्लिकेशन को रीलोकेट और एडजस्ट कर पोर्टेबल स्टेज में लाना आना चाहिए.
  • मोबाइल एप्लिकेशन डिजाइनर को अलग-अलग डिवीजनों के साथ मिलकर काम करना होता है.
  • एप्लिकेशन डेवलपर परिवर्तन के लिए सुझाव देते हैं, साथ ही वे मौजूदा एप्लिकेशन को अपग्रेड करते हैं.

Motivational Poems in Hindi

इस तरह से मोबाइल ऐप डेवलपमेंट के क्षेत्र में कई सुनहरे अवसर मौजूद हैं. अगर आप दुनिया के किसी भी प्रतिष्ठित यूनिवर्सिटी से यह कोर्सेज  करना चाहते हैं तो आप Leverage Edu से संपर्क कर सकते हैं. हमारे विशेषज्ञ आपके मनपसंद मोबाइल एप्लिकेशन डेवलपमेंट कोर्सेज  में उपलब्ध सबसे अच्छे कॉलेज खोजने में आपकी मदद करेंगे. साथ ही आपके एप्लिकेशन की समीक्षा करेंगे. इसलिए आज ही हमारे फ्री ई-मीटिंग बुक करें और अपने बेहतरीन करियर की शुरुआत करें!

Leave a Reply

Required fields are marked *

*

*

15,000+ students realised their study abroad dream with us. Take the first step today.
Talk to an expert