साइबर एक्सपर्ट कैसे बनें?

2 minute read
723 views
10 shares
Cyber Security Courses in Hindi

साइबर एक्सपर्ट वे लोग होते है जो नेटवर्क की डिज़ाइन और सिक्योरिटी का ध्यान रखते है। साइबर एक्सपर्ट का मुख्य काम है कंपनी की फाइलों को हैक होने से बचाएं। उसे हार्डवेयर, सॉफ्टवेयर में कमजोरियों और जोखिमों का पता लगाना होगा और उसे सुरक्षित करना होगा। आज इंटरनेट की दुनिया में हर रोज हैकिंग, फ्रॉड, डाटा चोरी होने जैसी समस्या लगातार आ रही है, ऐसे में साइबर एक्सपर्ट के द्वारा ही इन सारी समस्याओं से बचा जा सकता है। ऐसे में यदि आप भी Cyber Expert Kaise Bane, इनका क्या काम होता है, ये कितने प्रकार के होते है, यह सब जानना चाहते है तो हमारे इस ब्लॉग को पूरा पढ़ें। 

Check out: Career in Cryptography and Network Security

साइबर एक्सपर्ट कौन होते हैं?

साइबर एक्सपर्ट एथिकल हैकर्स की एक बड़ी टीम होती है, जो आपका डाटा चोरी होने, डाटा डिलीट होने या आपके किसी भी डिवाइस को नुकसान होने से बचाते हैं, इसे इनफार्मेशन सिक्योरिटी और टेक्नोलॉजी सिक्योरिटी के नाम से भी जाना जाता है। साइबर सेक्सपर्ट का मुख्य काम होता है इंटरनेट पर साइबर हमलों को रोकना और सिस्टम डाटा को सुरक्षित रखना । डाटा प्रोटेक्शन एक्ट 2018 के अनुसार सॉफ्टवेयर बनाने वाली कंपनियों को भी साइबर सिक्योरिटी का ध्यान रखना होता है। 

साइबर एक्सपर्ट के प्रकार

साइबर क्राइम को रोकने के लिए साइबर एक्सपर्ट की जरुरत होती है। जिनका काम होता है साइबर सिक्योरिटी को बढ़ाना। Cyber Expert Kaise Bane में जानिए इन प्रकारों के बारे में।

  • एथिकल हैकर: इनके पास मान्यता प्राप्त डिग्री या सर्टिफिकेट होता है। इसमें साइबर एक्सपर्ट को डाटा या सिस्टम की सुरक्षा करने के लिए लाइसेंस दिया जाता है। एथिकल हैकर वो सभी ट्रेनिंग और टेक्नोलॉजिकल नॉलेज का प्रयोग सिक्योरिटी प्रोटोकॉल के अंदर रहकर करते है। 
  • साइबर इनफार्मेशन सिक्योरिटी एनालिस्ट: साइबर इनफार्मेशन सिक्योरिटी एनालिस्ट का कार्य किसी भी संगठन में सबसे पहले आता है। इसका कार्य किसी भी संगठन में सुरक्षा जोखिमो की तलाश करना और उनको समझना है। इन जोखिमो बचने के लिए इनफार्मेशन कोड और काफी सारे एन्क्रिप्शन लगाते हैं।
  • कंप्यूटर फॉरेंसिक एनालिस्ट: इनका काम होता है आपराधिक मामलो से जुड़े डाटा को एकत्रित करके उनको समझना और उनकी व्याख्या करना, मोबाइल डाटा का मूल्यांकन करना, डिलीट डाटा को रिकवर करना। 

Check out: Artificial Intelligence Course in India

साइबर एक्सपर्ट की जिम्मेदारियां

साइबर एक्सपर्ट की कुछ जिम्मेदारियां होती है जो उन्हें अपने काम करते वक्त निभानी पड़ती है। Cyber Expert Kaise Bane में जानिए इन जिम्मेदारियों के बारे में।

  • कम्पनी के जोखिमों को समझना और उनसे निपटने के लिए प्रयास करना
  • कम्पनी के सिस्टम को मजबूत और सुरक्षित बनाना ताकि कोई डाटा चोरी न कर सके।  
  • कम्पनी के सॉफ्टवेयर सिस्टम में कमियां निकालना और उन्हें दूर करना। 
  • अपराधी की पहचान करना और उसकी सुचना पुलिस को देना
  • कम्पनी के नेटवर्क सिस्टम को मजबूत करना ताकि कोई उसे नुकसान न पहुँचा सके। 

Check out: Data Analytics Courses

साइबर एक्सपर्ट की विशेषताएं

सिस्टम के डाटा को सुरक्षित रखने के लिए साइबर एक्सपर्ट में कुछ विषेशताएं होनी जरुरी है, जिससे वह अपने काम को आसानी से और अच्छे से कर सके। Cyber Expert Kaise Bane में जानिए इन विशेषताओं के बारे में।

  • हैकिंग की पूर्ण समझ होनी चाहिए, ताकि हैकर की सोच को समझ सके। 
  • डिसीजन मेकिंग की क्षमता होनी होनी चाहिए, ताकि जरूरत के समय सही फैसला ले सके। 
  • डाटा की प्राइवेसी को बना कर रखना होगा। 
  • कानून की समझ होनी चाहिए। 
  • इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी एक्ट 2000 का ज्ञान होना चाहिए। 
  • सभी साइबर सिक्योरिटी लॉ की जानकारी होनी चाहिए, जैसे इंडियन साइबर क्राइम कोऑर्डिनेशन सेंटर-I4C, नेशनल क्रिटिकल इंफॉर्मेशन इंफ्रास्ट्रक्चर प्रोटेक्शन सेंटर-NCIIPC।

साइबर एक्सपर्ट के कोर्स के प्रकार

Cyber Expert Kaise Bane में जानिए कोर्सेज के प्रकार के बारे में विस्तार से, जो कि इस प्रकार हैं। आइए, जानते हैं।  

  • Diploma Course in Cyber Security: यह 6 महीने का डिप्लोमा कोर्स है। साइबर एक्सपर्ट बनने के लिए डिप्लोमा कोर्स आपके डेटा को सुरक्षित रखने में मदद करता है।
  • Bachelor Degree in Cyber Expert : यह 4 साल की बैचलर डिग्री कोर्स है। जिसमे आपको नेटवर्किंग इंजीनियरिंग, फॉरेंसिक कंप्यूटिंग, कंप्यूटर साइंस, ऑपरेटिंग सिस्टम, प्रोग्रामिंग लैंग्वेज के बारे में पढ़ाया जाता है। 
  • Master of Computer Application ( MCA) : इसे बैचलर डिग्री के बाद किया जाता है। इसे विषय की डीप स्टडी के लिए किया जाता है। 
  • MBA ( Information of Security Management)
  • M.E ( Information Technology)
  • M Tech ( Information Technology)
  • M Tech ( Cybersecurity)
  • Post Graduate Diploma in Cyber Security

साइबर एक्सपर्ट के कोर्स

साइबर सिक्योरिटी, IT सेक्टर का बहुत महत्वपूर्ण क्षेत्र है। इसमें छात्रों को अलग-अलग कोर्सेज के माध्यम से साइबर क्राइम को रोकने और सिक्योरिटी के लिए आवश्यक स्किल्स और नॉलेज दी जाती है।

बैचलर्स लेवल कोर्स

बैचलर्स लेवल के कोर्स की लिस्ट इस प्रकार है:

Bachelor of Engineering(Hons) – Cybersecurity Engineering Bachelor of Science in Cybersecurity Bachelor of Science inCybersecurity and Criminal Justice
Bachelor of Science in Cybersecurity and Economics Bachelor of Computer Science (Cybersecurity) Bachelor of Science inEthical Hacking andCybersecurity (Hons)
Bachelor of Information Technology (Network andCybersecurity Systems) BSc (Hons) Cyber security Bachelor of Technology in Forensic Investigation: Digital Forensics and Cybersecurity

मास्टर लेवल के कोर्स

मास्टर लेवल के कोर्स की लिस्ट इस प्रकार है:

MSc in Cybersecurity MSc in Cybersecurity and Networks MBA Cybersecurity
MSc inComputer Science and Engineering – Cybersecurity and Network Systems Master of Science in Cyber security – Computer Science Master of Cybersecurity (Business Operation)
Master of Science in Cybersecurity – Energy Systems Master of Science in Information Assurance and Cybersecurity

पीएचडी लेवल के कोर्स

पीएचडी लेवल के कोर्स की लिस्ट इस प्रकार है:

PhD/MPhil in Computer Science and Informatics – Data Privacy and Cybersecurity Doctor of Philosophy in Cybersecurity Doctor of Philosophy in Computer Science – Cybersecurity and Policy
Doctor of Philosophy in Information Studies – Cybersecurity and Privacy Doctor of Philosophy in Electrical Engineering- Networks and Cyber security Doctor of Philosophy in Computer Science – Cybersecurity and Network Systems
Doctor of Philosophy in Computational Science and Engineering – Cyber security and Information Security Juris Doctor- Cybersecurity and Data Privacy Doctor of Philosophy in Cybersecurity and Cryptography

साइबर सिक्योरिटी के ऑनलाइन कोर्स

साइबर सिक्योरिटी में कई प्रकार के ऑनलाइन कोर्स भी कराये जाते हैं, जो इस प्रकार है:

कोर्स प्लेटफार्म फीस
Cyber Security Swayam फ्री
The Complete Cyber Security Course: Network Security Udemy INR 7,680
Introduction to Cyber Security Course for Cyber Security Beginners Simplilearn INR 6,999
Micro Bachelors Program in Cyber Security Fundamentals edX
Introduction to Cyber Security FutureLearn फ्री(बिना सर्टिफिकेट ), INR 7,026 (सर्टिफिकेट ), और INR 20,930 (सर्टिफिकेट और 1-का कोर्स एक्सेस )

स्पेशलाइजेशन इन साइबर एक्सपर्ट कोर्स

साइबर अपराध या डाटा चोरी को रोकने के लिए साइबर एक्सपर्ट की जरुरत पड़ती है। साइबर एक्सपर्ट में अलग अलग स्पेशलाइजेशन होते हैं, जैसे डाटा सुरक्षा, मोबाइल सुरक्षा, इनफार्मेशन सुरक्षा, नेटवर्क सुरक्षा, एप्लीकेशन सुरक्षा, यूज़र सुरक्षा, आपातकालीन सुरक्षा इसके साथ ही क्लाउड सुरक्षा। यह कोर्स करते समय आप भी निचे दी गई किसी भी स्ट्रीम में स्पेशलाइजेशन कर सकते है। Cyber Expert Kaise Bane में जानिए नीचे।

  1. IT मैनेजमेंट और साइबर सिक्योरिटी
  2. कंप्यूटर साइंस विथ साइबर सिक्योरिटी एंड क्विक हील
  3. इनफार्मेशन सिक्योरिटी विथ IBM
  4. कंप्यूटर साइंस विथ साइबर एक्सपर्ट इन्वेस्टिगेटर
  5. कंप्यूटर साइंस विथ नेटवर्किंग एंड साइबर सिक्योरिटी

साइबर एक्सपर्ट बनने के लिए योग्यता

Cyber Expert Kaise Bane में जानिए साइबर एक्सपर्ट बनने से संबंधित योग्यता के बारे में, जो कि इस प्रकार है।

  • छात्र को किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से 10+2 पास करनी होगी।
  • साइबर सिक्योरिटी कोर्स के लिए फिजिक्स, केमिस्ट्री, मैथ विषय होने चाहिए। छात्रों के पास 10+2 में कम से कम 50% का स्कोर होना चाहिए।
  • बीटेक साइबर सिक्योरिटी कोर्स में एडमिशन के लिए आपको JEE MAINS, BITSAT, AP EAMCET,JEE advanced जैसे एंट्रेंस एग्जाम पास करने होंगे। विदेश में साइबर सिक्योरिटी के बैचलर डिग्री प्रोग्राम में एडमिशन लेने के लिए कोई स्पेसिफिक एंट्रेंस एग्जाम नहीं है।
  • साइबर सिक्योरिटी कॉलेज में बीएससी के लिए एडमिशन मेरिट लिस्ट के आधार पर होता है। 
  • प्रोग्रामिंग लैंग्वेज सीखें।
  • विदेश में पढ़ाई करने के लिए आपके पास एक अच्छा IELTS/ TOEFL स्कोर होना आवश्यक है।

पीजी साइबर सिक्योरिटी कोर्स जैसे M Tech/ ME/ MSc में एडमिशन के लिए नीचे दी गई योग्यता होनी आवश्यक है :

  • छात्रों के पास न्यूनतम 50% अंकों के साथ BTech/ BE/ BSc या किसी अन्य संबंधित विषय में बैचलर डिग्री होनी चाहिए।
  • भारत में साइबर सिक्योरिटी के पीजी कोर्स में कुछ कॉलेज मेरिट लिस्ट के आधार पर एडमिशन लेते हैं, वहीं कुछ छात्रों को GATE, UPSEE, TANCET जैसे एंट्रेंस एग्जाम के आधार पर शॉर्टलिस्ट किया जाता है। 
  • यदि आप विदेश में साइबर सिक्योरिटी में एमबीए करना चाहते हैं तो CATMAT/GMAT/GRE एंट्रेंस एग्जाम में अच्छा स्कोर होना चाहिए। 
  • विदेश में कुछ यूनिवर्सिटीज द्वारा मास्टर डिग्री के लिए 1-2 साल के कार्य अनुभव की भी मांग की जाती है।
  • विदेश में पढ़ाई करने के लिए आपके पास एक अच्छा IELTS या TOEFL स्कोर होना आवश्यक है।

Check out: Artificial Intelligence in Hindi

साइबर एक्सपर्ट की पढ़ाई किस यूनिवर्सिटी से करें

Cyber Expert Kaise Bane में जानिए साइबर एक्सपर्ट बनने से संबंधित दुनिया की लोकप्रिय यूनिवर्सिटी के बारे में नीचे बताया गया है, जो कि इस प्रकार है।

विश्वविद्यालय देश  क्यूएस रैंक 2021 
मैसाचुसेट्स की तकनीकी संस्था  संयुक्त राज्य अमेरिका 1
स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय संयुक्त राज्य अमेरिका 2
करनेगी मेलों विश्वविद्याल  संयुक्त राज्य अमेरिका 3
सिंगापुर का राष्ट्रीय विश्वविद्यालय सिंगापुर 4
यूनिवर्सिटी ऑफ कैलिफोर्निया, बर्केले संयुक्त राज्य अमेरिका 5
ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय यूनाइटेड किंगडम  6
हार्वर्ड विश्वविद्यालय संयुक्त राज्य अमेरिका 7
कैम्ब्रिज विश्वविद्यालय  यूनाइटेड किंगडम 8
ईपीएफएल स्विट्ज़रलैंड 9
स्विस फेडरल इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी  स्विट्ज़रलैंड  10

भारत की टॉप यूनिवर्सिटीज

साइबर एक्सपर्ट बनने से संबंधित देश की लोकप्रिय यूनिवर्सिटी के बारे में नीचे बताया गया है, जो कि इस प्रकार है।

कॉलेज शहर
इंदिरा गांधी राष्ट्रीय मुक्त विश्वविद्यालय (इग्नू)  दिल्ली
इंडियन स्कूल ऑफ एथिकल हैकिंग कोलकाता
सर्टिफाइड एथिकल हैकिंग ईसी काउंसिल बेंगलुरु
सूचना सुरक्षा संस्थान मद्रास, दिल्ली, पुणे, चंडीगढ़, बेंगलुरु, हैदराबाद
भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, मद्रास चेन्नई
भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, बॉम्बे मुंबई
भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान Kharagpur
भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान नई दिल्ली
भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान कानपुर
भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान रुड़की
भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान गुवाहाटी
भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान हैदराबाद

Check out: Cyber Security Courses

आवेदन प्रक्रिया 

विदेश के विश्वविद्यालयों में प्रवेश के लिए आवेदन प्रक्रिया इस प्रकार है–

  • आपकी आवेदन प्रक्रिया का फर्स्ट स्टेप सही कोर्स चुनना है, जिसके लिए आप AI Course Finder की सहायता लेकर अपने पसंदीदा कोर्सेज को शॉर्टलिस्ट कर सकते हैं। 
  • एक्सपर्ट्स से कॉन्टैक्ट के पश्चात वे कॉमन डैशबोर्ड प्लेटफॉर्म के माध्यम से कई विश्वविद्यालयों की आपकी आवेदन प्रक्रिया शुरू करेंगे। 
  • अगला कदम अपने सभी दस्तावेजों जैसे SOP, निबंध (essay), सर्टिफिकेट्स और LOR और आवश्यक टेस्ट स्कोर जैसे IELTS, TOEFL, SAT, ACT आदि को इकट्ठा करना और सुव्यवस्थित करना है। 
  • यदि आपने अभी तक अपनी IELTS, TOEFL, PTE, GMAT, GRE आदि परीक्षा के लिए तैयारी नहीं की है, जो निश्चित रूप से विदेश में अध्ययन करने का एक महत्वपूर्ण कारक है, तो आप Leverage Live कक्षाओं में शामिल हो सकते हैं। ये कक्षाएं आपको अपने टेस्ट में उच्च स्कोर प्राप्त करने का एक महत्त्वपूर्ण कारक साबित हो सकती हैं।
  • आपका एप्लीकेशन और सभी आवश्यक दस्तावेज जमा करने के बाद, एक्सपर्ट्स आवास, छात्र वीजा और छात्रवृत्ति / छात्र लोन के लिए आवेदन प्रक्रिया शुरू करेंगे । 
  • अब आपके प्रस्ताव पत्र की प्रतीक्षा करने का समय है जिसमें लगभग 4-6 सप्ताह या उससे अधिक समय लग सकता है। ऑफर लेटर आने के बाद उसे स्वीकार करके आवश्यक सेमेस्टर शुल्क का भुगतान करना आपकी आवेदन प्रक्रिया का अंतिम चरण है। 

भारत के विश्वविद्यालयों में आवेदन प्रक्रिया, इस प्रकार है–

  1. सबसे पहले अपनी चुनी हुई यूनिवर्सिटी की ऑफिशियल वेबसाइट में जाकर रजिस्ट्रेशन करें।
  2. यूनिवर्सिटी की वेबसाइट में रजिस्ट्रेशन के बाद आपको एक यूजर नेम और पासवर्ड प्राप्त होगा।
  3. फिर वेबसाइट में साइन इन के बाद अपने चुने हुए कोर्स का चयन करें जिसे आप करना चाहते हैं।
  4. अब शैक्षिक योग्यता, वर्ग आदि के साथ आवेदन फॉर्म भरें।
  5. इसके बाद आवेदन फॉर्म जमा करें और आवश्यक आवेदन शुल्क का भुगतान करें। 
  6. यदि एडमिशन, प्रवेश परीक्षा पर आधारित है तो पहले प्रवेश परीक्षा के लिए रजिस्ट्रेशन करें और फिर रिजल्ट के बाद काउंसलिंग की प्रतीक्षा करें। प्रवेश परीक्षा के अंको के आधार पर आपका चयन किया जाएगा और लिस्ट जारी की जाएगी।

आवश्यक दस्तावेज 

कुछ जरूरी दस्तावेजों की लिस्ट नीचे दी गई हैं–

नौकरी के अवसर

नीचे दिए गए कुछ क्षेत्रों में आप साइबर एक्सपर्ट से सम्बंधित करियर बना सकते हैं। Cyber Expert Kaise Bane में जानिए सुनहरे जॉब अवसर के बारे में। 

  • नेटवर्क सुरक्षा इंजीनियर
  • साइबर सिक्योरिटी एनालिस्ट
  • सुरक्षा आर्किटेक्ट
  • साइबर सुरक्षा एनालिस्ट
  • मुख्य सूचना सुरक्षा अधिकारी

फेसबुक, व्हाट्सएप, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यूट्यूब, देश की सुरक्षा व्यवस्था, पुलिस, आर्मी आदि इन सभी को साइबर एक्सपर्ट की जरुरत होती है, जिससे इनका डाटा सुरक्षित रहे। 

सैलरी

यदि आपने साइबर सिक्योरिटी की पढ़ाई पूरी कर ली है, तो आपको आसानी से नौकरी मिल सकती है क्योंकि हर क्षेत्र में साइबर एक्सपर्ट की आवश्यकता होती है। नीचे साइबर सिक्योरिटी से सम्बंधित कुछ लोकप्रिय जॉब प्रोफाइल और उनकी salary दी गई है :

नौकरी प्रोफ़ाइल वेतन प्रति वर्ष
नेटवर्क सुरक्षा इंजीनियर ₹ 6,12,000
साइबर सुरक्षा विश्लेषक ₹5,00,000 
सुरक्षा स्ट्रक्चर ₹ 21,00,000
सुरक्षा सॉफ्टवेयर डेवलपर ₹5,10,000
मुख्य सूचना सुरक्षा अधिकारी ₹34,20,000 
सुरक्षा प्रशासक ₹ 5,20,000
साइबर वकील ₹ 3,46,000
क्रिप्ट विश्लेषक ₹ 7,06,000

FAQ

भारत में साइबर एक्सपर्ट का क्या भविष्य है?

आज के समय में भारत के हर कोने में इंटरनेट की पहुँच है।  जितनी ज्यादा कंप्यूटर और फ़ोन पर निर्भरता भिड़ेगी साइबर क्राइम उतने ही ज्यादा बढ़ेंगे। इससे साइबर एक्सपर्ट की मांग भी उतनी ही बढ़ेगी।

साइबर एक्सपर्ट का कोर्स कितने समय का है ?

साइबर एक्सपर्ट के कोर्स का समय निर्भर करता है उसके प्रकार पर की आप कौनसा कोर्स करना चाहते है, जैसे डिप्लोमा कोर्स 6 महीने का है, बैचलर डिग्री 4 साल की है, उसके बाद मास्टर डिग्री 2 साल की है।

साइबर एक्सपर्ट सालाना कितना कमाते हैं?

साइबर एक्सपर्ट की भारत में औसत सैलरी लगभग 18,00,000 – 20,00,000 रुपये/सालाना होती है। वहीं पूरी दुनिया में साइबर एक्सपर्ट की औसत सैलरी लगभग 25,00,000 – 34,00,000 रुपये/सालाना होती है।

Check out: Hardware and Networking Courses

हमें उम्मीद है कि इस ब्लॉग ने आपको Cyber expert kaise bane के बारे में सभी जानकारी प्रदान  की  हैं। अगर आप विदेश में पढ़ाई करना चाहते हैं, तो हमारे Leverage Edu एक्सपर्ट तक पहुंचे और हम आपकी आवश्यकताओं के अनुसार बेस्ट कोर्स और विश्वविद्यालय खोजने में आपकी सहायता करेंगे । 

Leave a Reply

Required fields are marked *

*

*

15,000+ students realised their study abroad dream with us. Take the first step today.
Talk to an expert